सुबह जल्दी कैसे उठें ? | How to Wake Up Early in the Morning

सुबह जल्दी कैसे उठें – Hello दोस्तों, आज मैं आपसे 5 मोस्ट प्रैक्टिकल टिप्स बताने वाला हूँ, जिनकी मदद से आप रोज सुबह जल्दी उठ पाएंगे। अगर ये 5 टिप्स हर दिन 100% डिसिप्लिन के साथ फॉलो करते हैं तो। तो बिना देरी के शुरू करते हैं –

 

सुबह जल्दी कैसे उठें? (5 टिप्स)

 

हमें सुबह कितने बजे उठना चाहिए?

 

दोस्तों हमें सुबह जल्दी उठने के टिप्स जानने से पहले एक सबसे Important बात को जानना पड़ेगा की हमें सुबह कितने बजे उठना चाहिए, तो इसका जवाब है कि हमें सुबह 4 से 5:30 बजे के बीच उठ जाना चाहिए। यानी हमें ब्रह्म मुहूर्त में उठना चाहिए।

ये ब्रह्म मुहूर्त का टाइम रात्रि के अंतिम प्रहर के बाद और सूर्योदय से ठीक पहले का जो समय होता है उसे ब्रह्म मुहूर्त कहा जाता है।

यानी सुब‍ह के 4 बजे से लेकर 5:30 बजे तक का जो समय होता है उसे ही ब्रह्म मुहूर्त कहा जाता है। हमारे ऋषि मुनियों ने बताया है कि यह समय सोना शास्त्रों में निषिद्ध है।

 

सुबह जल्दी उठने 5 प्रैक्टिकल टिप्स –

 

No 1 – Switch Off Your Phone Early

 

दोस्तों अगर असल में देखा जाये तो सुबह जल्दी उठने से कोई गुना ज्यादा मुश्किल रात को टाइम पे सोना होता है, और ये होता है हमारे स्मार्टफोन्स की वजह से।

रात जल्दी नींद ना आने की सिर्फ दो कारण हो सकता है –

 

पहला है – Psychological Problem : जैसे की स्ट्रेस, overthinking, या डिप्रेशन।

अगर ऐसा है तो पहले आप हमारे ये आर्टिकल पढ़ें –

  1. Depression and Suicidal Thoughts को कैसे Overcome करें?
  2. Stress को Manage कैसे करें?
  3. Overthinking से कैसे बचे ?
  4. अच्छी नींद के लिए क्या करें?

 

दूसरा है – आपका खुद का बिगाड़ा हुआ स्लीपिंग रूटीन : जिसे ठीक करने के लिए नीचे बताये गए सारे टिप्स फॉलो करें।

 

सबसे पहले आपने कितने बजे उठना है, वो टाइम decide करो।

सुबह 4/5 बजे या 8 बजे – ये आपका चॉइस है। लेकिन आपने हर दिन 6 – 8 घंटे की नींद जरूर लेनी है, अगर अगले दिन आपको प्रोडक्टिव रहना तो।

फिर उस हिसाब से रात को सोने का जो टाइम है उसको decide कर लीजिये। और उस टाइम से पहले यानी सोने से 2 घंटे पहले अपना स्मार्टफोन स्विच ऑफ कर देना है।

मान लीजिये आपको 10 बजे सोना है तो आप रात को 8 बजे ही अपना फ़ोन स्विच ऑफ कर दो। और फिर अपने स्मार्टफोन और ईरफ़ोन को अपने सिरहाने के पास बिलकुल नहीं रखना है।

अगर आप फ़ोन में अलार्म लगाते हो तो फ़ोन में एक फीचर होता है जिसमें अलार्म सेट करने के बाद अपने फ़ोन को स्विच ऑफ कर दो और जो टाइम आपने सेट किया है उतने बजे फ़ोन खुद ही ऑन हो जायेगा और अलार्म बजने लग जायेगा।

और अगर आपके फ़ोन में ये फीचर नहीं है तो आप एक अलार्म क्लॉक खरीद लो, या अगर आपसे पहले कोई घर में उठता है तो आप उनको आपको उठाने के लिए बोल सकते हैं।

लेकिन हमारा गोल यही होना चाहिए कि रात को सोने से दो घंटे पहले आपका स्मार्टफोन स्विच ऑफ कर देना है।

अभी आप सोच रहे होंगे कि सोने से पहले इन दो घंटो में करना क्या है ? उसको जानने के लिए पॉइंट 3 को पढ़ें।

दोस्तों एक कड़वी बात जान लो कि अगर आप सोने से 2 घंटे पहले अपने स्मार्टफोन को स्विच ऑफ करने की आदत को फॉलो नहीं कर सकते तो आप सुबह जल्दी उठने के बारे में भूल ही जाओ।

 

लेकिन अगर आप सुबह जल्दी उठने के बारे सीरियस हो तो बाकि चार टिप्स को भी फॉलो करना होगा।

 

 

No 2 – Your Purpose Should Be Strong

 

क्या आपको याद है की जब हमें कभी सुबह अर्ली मॉर्निंग कोई ट्रैन पकड़नी होती है तो कैसे हम सुबह 3 या 4 बजे उठ जाते हैं।

ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि हमारे इतना सुबह जल्दी उठने के पीछे एक बहुत ही स्ट्रांग रीज़न होता है, तो रोज सुबह जल्दी उठने के पीछे आपका भी कोई स्ट्रांग रीज़न या पर्पस होना चाहिए।

आप अपना रीज़न ये मत बनाओ की मैं बस जल्दी उठना चाहता हूँ या फिर वर्ल्ड के कुछ मोस्ट सक्सेसफुल लोग सुबह जल्दी उठते हैं, इसलिए मैं भी जल्दी उठूंगा।

आपके पास कोई सॉलिड रीज़न होना चाहिए। ये आपकी स्टडीज हो सकती है, आपका वर्क या आपका प्रैक्टिस हो सकता है।

आपको सुबह जल्दी उठके फ्रेश होने के बाद वो एक्टिविटी करनी है जो आपके लिए मोस्ट इम्पोर्टेन्ट है।

आपके सुबह उठने के बाद के तीन-चार घंटे बिलकुल भी फ्री नहीं होने चाहिए।

आपको अपने टाइम को फिक्स्ड करके चलना है, अगर आपके पास पूरा दिन फ्री रहेगा तो आप सुबह जल्दी उठोगे ही क्यूँ !

सुबह उठने के बाद day plan करने की गलती आपने नहीं करनी है। बल्कि आपको एक दिन पहले ही अपना पूरा दिन प्लान करके सोना है।

जिससे आप उठने के बाद ये सोचने में अपना प्रोडक्टिव टाइम वेस्ट ना करो की आज मुझे करना क्या है ?

 

आपको सुबह उठने के लिए एक urgency क्रिएट करके रखनी है।

 

 

No 3 – Follow a Bedtime Routine

 

अब सवाल ये आता है कि लेकिन ये सोने से पहले जो घंटे हैं उसमें हम करें क्या !

सोने से पहले स्मार्टफोन चलाने की आदत शुरुवात में मुश्किल और बोरिंग होने वाली है।

लेकिन जब भी हमें किसी पुरानी आदत को छोड़ना होता है तो हमें उसे नई हैबिट्स से रिप्लेस भी करना होता है।

तो आपको उन दो घंटो में एक रूटीन फॉलो करना है जिसमें आपको वो चीजें करनी है, जो आपको पसंद हो। जैसे की उस टाइम में आप अच्छी बुक्स पढ़ सकते हैं, आप कुछ लिख सकते हैं या आपकी कोई हॉबी है तो उसे प्रैक्टिस कर सकते हैं। या अपनी फैमिली के साथ टाइम बिता सकते हैं।

मैं हर दिन सोने से पहले लगभग दो घंटा बुक्स पढता हूँ।

और अगर आपको कुछ भी नहीं करना है तो आप नॉर्मली कुछ भी ना करके शांति से बैठ भी सकते हैं,

उसमें आप किसी चीज के ऊपर ध्यान दे सकते हैं यानी मैडिटेशन कर सकते हैं।

ये रूटीन ऐसा होना चाहिए जो आपको पसंद हो।

 

⇒ OUR eBOOKS STORE

 

No 4 – Jump of the Bed, Right Way

 

अलार्म बजने के बाद हम खुद से ये कहते हैं कि यार बस 5 मिनट और सो लूँ फिर उठ जाऊंगा (मैंने ऐसा आज से 4-5 साल पहले कहा करता था), या फिर तो हम snooze बटन दबाते रहते हैं।

या सोचते हैं की थोड़ी देर बाद उठ जाऊंगा और थोड़ी देर बाद जब टाइम आता है तो हम उठने की जगह दुबारा सो जाते हैं।

तो अब से आपके स्मार्टफोन के snooze बटन को हमेशा के बंद कर देना है और 5 – 10 अलग अलग टाइम के अलार्म लगाने की गलती भी नहीं करनी है।

सिर्फ एक ही अलार्म लगाना है, और अलार्म क्लॉक या फ़ोन को खुद से दूर रखना है ताकि आपको उसे बंद करने के लिए बेड से उठके चलके जाना पड़े।

और जैसे ही अलार्म बजता है तो

 

Mel Robbins का 5 Second Rule को Use करो –

अपने माइंड में 5, 4, 3, 2, 1  कहो और सीधा बिना कुछ सोचे बेड से उठ जाओ

 

और फिर आप उठते ही अपने बेड पे लेटे लेटे फ़ोन यूज़ नहीं करना है।

 

 

No 5 – Only Starting Days Will Be Hard

 

जब भी हम कुछ नया शुरू करते हैं अपने कम्फर्ट जोन से बाहर, तो हमें शुरुवात में काफी मुश्किल तो होती ही है।

तो आपको भी शुरुवात की कुछ दिन डेली लेज़ीनेस, थकान, फोकस में प्रॉब्लम, आँखों से पानी आएगा या सोने का मन करेगा।

अगर आपका दिन में सोने का मन करें तो भी नहीं सोना, बल्कि आपको अपनी बॉडी को इस नई रूटीन की आदत डलवानी है।

आपकी बॉडी भी नई रूटीन में ढलेगी और आप भी।

और ये स्टार्टिंग के कुछ दिन या वीक बिताने के बाद आप नार्मल फील करोगे और आपकी सुबह जल्दी उठने की आदत बन जाएगी।

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों मैं 100% guarantee देकर कह सकता हूँ आप सुबह लेट उठते होंगे।

इसलिए कल से आप ऊपर बताये गए 5 टिप्स को फॉलो करके सुबह जल्दी उठने की हैबिट डेवेलोप कर लीजिये, अगर सक्सेसफुल बनना है तो।

आपको आज हमारा सुबह जल्दी उठने की टिप्स कैसा लगा ?

अगर आपके मन कोई भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

 

सम्बंधित लेख –

  1. सुबह जल्दी उठने के 7 फायदे
  2. Power of Silence
  3. Consistent कैसे रहे?
  4. पावर ऑफ़ पाजिटिविटी
  5. हैबिट (आदत) बिल्डिंग टिप्स
  6. Action लेना क्यूँ जरुरी है ?
  7. गोल सेटिंग कैसे करें?
  8. प्रोएक्टिव कैसे बने?
  9. आत्मविश्वास – Never Fight with a Pig
  10. आप इस दुनिया के सबसे Important person है
  11. अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट का 5 बेहतरीन तरीका
  12. पावर ऑफ़ पाजिटिविटी

Leave a Comment