गुरुवार

Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - हर वक़्त मोटीवेट कैसे रहें

  Rocktim Borua       गुरुवार

Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - हमेशा मोटीवेट कैसे रहे How to Stay Motivated All The Time


Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - हर वक़्त मोटीवेट कैसे रहें

 सबसे पहले इस illusion से बाहर आ जाओ आप की कोई भी इंसान ऐसा नहीं है इस दुनिया में जो हर 1 सेकंड motivated रहे, अगर आप जी रहे हैं तो motivation ऊपर नीचे होता ही रहेगा।

 अगर आप मर जाए तो ही सब खत्म हो जाएगा, जिसको आप demotivation बोलते हो, जिसको आप ये बोलते हो कि अंदर से energy नहीं है किसी भी काम को करने की उसको आप बुरा समझ रहे हो actual में वो बुरी नहीं है वो state,


 that is a state जहां पर आप rest कर सकते हो, मतलब अगर हमें कुछ भी करना है, कभी आप शेर को देखा है जंगल में शिकार करते हुए, मतलब आप tv पे discovery channel मैं देखा होगा, तो ध्यान से उसको देखो आप की वो शेर शिकार कैसे करते हैं - उसको जब शिकार करना है तो कई कई बार आधे घंटे या 1 घंटे तक एक ही position में वहां पर खड़ा रहेगा, मतलब वो क्या कर रहा है वो तैयारी कर रहा है attack करने की।


 अगर उस time पे आप ये खेल को नहीं समझेंगे तो आप कहोगे कि मैं demotivated क्यों हो रहा हूँ, मैं attack ही करता रहु पूरा दिन, तो अगर आप पूरा दिन attack करते रहोगे, भागते रहोगे तो chances है की आपको कुछ भी नहीं मिलेगा।


 तो क्यूंकि वो शेर एक दिन बहुत देर तक pause हो कर एक जगह पर बैठा रहता है, यानि की rest कर रहा होता है body का, लेकिन awareness पूरी है, सोया हुआ नहीं है, तैयार हो रहा है।


 तो इससे power आ जाती है action में, motivation means doing something, तो आपकी अंदर question ये है में हमेसा कुछ ना कुछ करता कैसे रहु, ऐसा कैसे होगा ? कभी करोगे तो रुकोगे भी तो सही ना।



  • for example -
How to stay motivated all the time_motivational speech in Hindi

 कि जैसे दो लकड़हारे थे जो पेड़ काट रहे थे, दोनों ने साथ साथ में पेड़ काटना शुरू किया था 1 दिन में दोनों मिलकर 10 पेड़ काट रहे थे, कुछ दिन बाद एक महीने बाद क्या हुआ कि एक लकड़हारे 20 पेड़ काटते थे 1 दिन में और जो दूसरा लकड़हारे थे वह सिर्फ एक पेड़ ही काट पाए थे, जबकि मेहनत यह दूसरा वाला ज्यादा कर रहा था, यह दिन में 8 से 10 घंटा काम कर रहा था और जो 20 तक पहुंच गया वह सिर्फ 4 घंटे ही काम करता था, वो क्या कर रहा था कि जब उससे पूछा गया तब उसने बताया कि वह 4 घंटे तो पेड़ काट रहा था और 4 घंटे उसकी अपनी जो आरी है उसकी धार तेज कर रहा था।


 तो आप कितनी धार तेज करते हो आप की brain की, जिस brain से आपको सोचना है, करना है, आपकी body के ऊपर कितना काम करते हो जिससे आप आपकी लाइफ की हर एक काम को करते हो, इस body के ऊपर हम काम नहीं करते हैं।


 फिर आप बात करते हो laziness कि, laziness तो आनी ही है, body के ऊपर आप कितना काम कर रहे हो ? आप 8-10 घंटे तक तो आप मोबाइल के ऊपर लगे हुए हो, इसकी वजह से body पूरी stiff हो रही है।


 उसकी वजह से आपकी brain मै blood proper तरीके से नहीं जाएगा, तो आपकी अंदर laziness तो आएगी ही आएगी, आप body पे काम नहीं कर रहे हैं और mind में भी तो आप कुछ नहीं कर रहे हो, mind कि powers बढ़ाने के लिए।


 तो mind कि powers कैसे बनती है ? brain की powers कैसे बढ़ती है ?

  •  एक तो है - blood circulation से;
  •  दूसरा है - कि brain को rest देने से, relax करने से;

 मैं यहां पर सोने वाला rest की बात नहीं कर रहा हूँ, मतलब being absolutely aware but not doing anything in your brain, उससे क्या होता है brain sharp हो जाती है, कितनी sharp हो सकती है उसकी कोई हद/limit नहीं है।


 आप scientist को देखो उसमें आपको देखना होगा कि वह लोग कई कई घंटों तक, कई कई दिनों तक कुछ-कुछ cases में बैठे रहते थे एक ही जगह पर, सब कुछ छोड़ के, और जब कुछ नहीं कर रहे थे तब discovery होती थी।


 दूसरी तरफ ऐसे लाखो scientist आए और गए उन्होंने क्या किया जिंदगी में 50 साल तक खट्चरो की तरह काम ही काम किया सुबह से रात तक laboratory में लगे रहे, लेकिन कुछ नहीं कर पाए, करने से सब कुछ नहीं होता है, ना करने की power जिस दिन आपको समझ आएगी, कुछ ना करने की,


 जब आप कुछ नहीं कर रहे होते हैं, जगे हुए हो लेकिन कुछ नहीं कर रहे हो ना अंदर ना बाहर, उस वक्त क्या होता है - उस वक्त आपकी brain एक ऐसे कंप्यूटर के जैसे होते हैं जो अभी अभी format हुआ है और format होते ही उसके बाद में जैसे ही कोई thoughts उसके अंदर जाता है तो एकदम से process हो करके बाहर आता है, तो यह है actual solution.


 तो don't live in this illusion, infact यह बड़ा खतरनाक state है अगर आप इसको achieve करने की कोशिश कर रहे हो कि - मैं हमेशा motivated रहूं।


 क्यों क्योंकि आपको समझ ही नहीं आएगा कि मैं कह क्या रहा हूं, मान लीजिये मैं आपको ऐसा टैबलेट दि और आपको कहा की daily ये दो टेबलेट खालो, आप बैठ भी नहीं पाओगे आपकी अंदर इतनी energy आ जाएगी अंदर से, ऐसे कुछ टेबलेट होते हैं।


 तो अब आप उस टेबलेट को खाओगे तो दिन भर भागते ही रहोगे, मतलब कोई काम है तो उसको करते ही रहोगे खट्चरो की तरह, तो आप कभी सोच नहीं पाओगे, hyperaction mode में जब आप होते हो तो उस वक्त आप कुछ सोच नहीं पाते हो, कुछ सोचने के लिए आपको pause होके बैठना आना चाहिए, brain को silent करना आना चाहिए, relax करना आना चाहिए आपको।



 तो दोस्तों आपको आज का हमारा यह Article (Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - How To Stay Motivated All The Time) कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये और इस Article (Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - How To Stay Motivated All The Time) को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।

 आपको क्या लगता है हर वक़्त मोटिवेशन से भरे रहने के बारे में वो नीचे कमेंट करके जरूर बताये।




Don't Miss -


आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

logoblog

Thanks for reading Sandeep Maheshwari Motivational Speech in Hindi - हर वक़्त मोटीवेट कैसे रहें

Previous
« Prev Post

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें