Book Review in Hindi - F. U. Money | Thoughtinhindi.com

Hello दोस्तों, ये है Dan Lok के द्वारा लिखी गयी best selling book F. U. Money: Make As Much Money As You Damn Well Want and Live Your Life As You Damn Well Please! Book की Review.

 आपको ये बुक ज़रूर पढनी चाहिए ताकि आप ये सीख सके की उस लेवल तक कैसे पहुंचा जाए जहाँ बिना प्राइस टैग देखे ही आप चीज़े खरीद रहे हो या फिर आपने ऐसे ही किसी बेघर इंसान को $100 दे दिए.

F. U. Money Book Review in Hindi

F. U. Money Book Review in Hindi

 ऍफ़. यू. मनी एक एक्सप्रेशन है और फ्रीडम का एक मेटाफर है, जो आपको एक फाइनेंशियल फ्रीडम, स्ट्रेस फ्री और डेब्ट फ्री लाइफ देता है.

 आप शायद ये बोलेंगे कि ऐसी बहुत सारी बुक्स आती है जो फाईनेंश की बाते और अमीर कैसे बने, इस बारे में बताती है.

 मगर सच तो ये है कि इनमे से ज़्यादातर बुक्स बोगस है जिनके ऑथर बाते तो वेल्थ की करते है लेकिन खुद गरीबी में जी रहे होते है, और बाकी कुछ बुक्स के ऑथर अमीर होने के टिप्स बताते है और खुद भी अमीर होते है लेकिन ये वो लोग है जिन्होंने पैसा खुद नहीं कमाया होता है बल्कि ये लोग खानदानी अमीर होते है. तो भला उनकी बुक्स पढकर हमें क्या फायदा होगा ?

 लेकिन ये जो बुक आप पढेंगे उसके ऑथर ने लाइफ में जीरो से स्टार्ट किया और जब वे यू.एस. आया था तो उसकी जेब में एक फूटी कौडी भी नहीं थी और ना ही उसे ढंग से इंग्लिश बोलनी आती थी. लेकिन फिर कैसे वो एक मल्टी मिलेनियर बना ये इस बुक को पढ़कर पता चलेगा.



ऍफ़.यू. मनी क्या है ?

 इसका मतलब है कि आप दुनिया घूम सकते है, नयी लेंगुयेजेस सीख सकते है, इसका मतलब है आप लोगो को हायर कर सकते है ताकि वो आपके लिए काम करे और आप अपना मेक्सिम टाइम अपनी हॉबी या स्किल्स को इम्प्रूव करने में लगा सके. ऍफ़. यू. मनी का बेसिक मीनिंग है पूरी फ्रीडम.


इनफ, इनफ कब होता है ? व्हेन इज इनफ, इनफ ?

 अगर आप मनी को ड्रग की तरह ट्रीट करते है तो ये पक्का है कि आप एडिक्ट बन सकते है मगर ये याद रखे कि पैसे के पीछे भाग कर अपनी फेमिली लाइफ को बर्बाद ना होने दे.

 ये एक ट्रेप है, इससे आपका मन कभी नहीं भरेगा, आपको कभी भी नहीं लगेगा कि इतना पैसा बहुत है.

 लेकिन आप ढेर सारा पैसा कमाने के साथ अपनी लाइफ भी अपने तरीके से जी सकते है. तो फ्रीडम के बारे में सोचिये पैसे के बारे में नहीं.

 बेशक मनी इम्पोर्टेन्ट है लेकिन इतना ही कि ये आपको फ्रीडम देता है. अगर आप खूब पैसे कमा रहे है लेकिन एक डेड एंड जॉब में फंस कर रह गए है तो मेरे फ्रेंड आप एक गलत रास्ता पकड़ रहे है.

 फेमस या वेल्दी नहीं है तो फिर भी कैसे होलीवुड स्टार जैसी शानदार लाइफ जिए? हाउ टू लिव योर लाइफ एज़ ए होलीवुड स्टार इवन इफ यू आर नोट फेमस ओर वेल्दी ?


 ऑथर का एक फ्रेंड जो एक सक्सेसफुल बिजनेसमेन है, उसके पास 8 लक्ज़री कारे है जिनके लिए उसने घर के अंदर ही एक गैराज बना रखा है. लेकिन सच तो ये है कि वो उन गाड़ीयों में घूम ही नहीं पाता क्योंकि उसके पास टाइम नहीं है.


 उन सारी गाड़ियों में से कई तो 5,000 किलोमीटर से भी कम चली है. बेशक वो काफी रिच है मगर फ्री तो नहीं है ना ?

 फ्री होने का मतलब है कि आप जब जो चाहे, जब चाहे वो कर सके और उसके लिए आपके पास इतना पैसा तो होना चाहिए.

 इसलिए पैसे को अपना मेन गोल मत बनाओ लेकिन फ्रीडम के लिए ये एक इम्पोर्टेन्ट स्टेप है जिससे आप भी किसी होलीवुड सेलेब्रिटी स्टार के जैसे जी सकेगे. मेरे साथ बने रहे क्योंकि मै आपको ये एक्सप्लेन करूँगा फोलोविंग टोपिक में.




किसी टारगेट को हिट करने से पहले क्या उसे गौर से देखना ज़रूरी नहीं है ? टू हिट अ टारगेट, डोंट यू थिंक देट यू हेव टू सी इट फर्स्ट ?


 हाँ जी, आपको सबसे पहले कोई एक गोल सेट करना ही पड़ेगा, आप एक्चुअली चाहते क्या है पहले ये डिसाइड कर ले.

 सिर्फ ये कहने से काम नहीं चलेगा कि मुझे मिलियन डॉलर कमाने है, श्पेसीफाई करे कि आपको एक्जेक्टली करना क्या है.

 उन मेटेरिलियेस्टिक चीजों की एक लिस्ट बनाओ जो आप चाहते है, जिनके बारे में आप अक्सर सोचते है. उन चीजो को टिक लगाकर उनकी कोस्ट को लिस्ट करे.

 अब एक सिम्पल से क्वेश्चन का आंसर दे. आपकी एनुअल इनकम क्या हो कि आप अपनी लिस्ट में शामिल उन चीजों को खरीद सके.

 ये करने के दो तरीके है - पहला वाला तरीका थोडा स्लो है जिसमे आप थोडा-थोडा करके पैसा सेव करते रहते है और जब तक आप रिटायर होंगे आपके पास एक बड़ा अमाउंट होगा.

 जैसे मान लो 10 मिलियन डॉलर नेट वर्थ, 10% की एनुअल इनकम के साथ जोकि 1 मिलियन डॉलर है. इसमें से 35% टैक्स निकाल दो तो आपके पास बचते है 650,000$ जिनसे आप जो चाहे वो कर सकते है.

 हालांकि हम ये बस अज्यूम कर रहे कि आपके रिटायर के टाइम तक आपके पास 10 मिलियन डॉलर होंगे, क्योंकि ज़्यादातर लोग तो इतने क्लोज तक नहीं आते, उनके पास तो बस 1 मिलियन डॉलर ही होगा जो साल में सिर्फ 65,000$ तक जेनरेट कर पायेगा. अब ये इतनी भी बड़ी रकम नहीं है कि पूरी फेमिली का गुज़ारा आराम से हो जाए.

और दूसरा तरीका है फ़ास्ट वाला जो ऑथर ने चूज़ किया है. इसमें ट्रिक ये है कि एक ऑटोमेटेड इनकम क्रियेट की जाए जो आपकी मनपसन्द लाइफ स्टाइल को सपोर्ट कर सके.


 दुसरे वर्ड्स में बोल सकते है कि अगर आप आज क्विट करते है तो भी आपकी ऑटोमेटेड इनकम आपकी लाइफस्टाइल के खर्चे आराम से कवर कर लेगी.

 इसे एक्सप्लेन करते है, अब मान लो आप एक वेबसाईट बनाकर अपना कोई प्रोडक्ट्स सेल कर रहे है. ये प्रोडक्ट आप 100$ के प्रॉफिट के साथ 200$ में बेच रहे है.


 और मान लो कि आपकी डिजायर्ड लाइफ स्टाइल जीने के लिए आपको एनुअली 2 मीलियन डॉलर चाहिए.

 अब इसे 365 डेज़ से डिवाइड करते है तो आएगा 5,479$ जो आपको पर डे कमाना होगा. जिसके लिए आपको 55 सेल्स पर डे करनी होगी. ये काम इतना इम्पोसिबल भी नहीं है, यानी अचीव किया जा सकता है.

 ये फ़ास्ट तरीका है जिसमे आपको कितना कमाना है और कितनी जल्दी कामना है, ये चीज़ आपके हाथ में है. और हमारी बाकी की समरी भी इसी चीज़ पर फोकस करेगी.


Don't Miss -



पार्ट 2: द ऍफ़. यू. मनी मिथ्स

1. मनी कांट बाई हेप्पीनेस

 सच तो ये है कि ये एक बकवास है अगर आपको लगता है कि मनी कांट बाई हैप्पीनेस. इसका असल मतलब है कि आपको वो दूकान ही नहीं पता जहाँ से आपको शौपिंग करनी है. पैसा आपको फ्रीडम देता है, आपको पॉवर और कण्ट्रोल देता है.

 ऑथर को एक दिन एक लाइफ चेंजिंग फोन कॉल आया, वो नीद में था जब उसका फोन बजा. फोन पे उसकी आंटी ने बताया कि उसके फादर को स्ट्रोक आया है और इस वक्त वो हॉस्पिटल में थे जहाँ उनकी सर्जरी होनी थी.


 उसे ये सब बताकर आंटी ने फोन रख दिया और दुबारा 7 घंटे बाद फोन करके बताया कि ऑथर के फादर अब ठीक है.

 उसने ऑथर से पुछा कि क्या वो उन्हें देखने आना चाहेगा ?

 लेकिन बदकिस्मती से ऑथर के पास इतने पैसे नहीं थे. उसका खुद का गुज़ारा बड़ी मुश्किल से होता था, यहाँ तक कि उसने कुछ उधार भी लिया हुआ था. उसी वक्त ऑथर ने डिसाइड कर लिया कि बस अब बहुत हो चूका.

 अब वो पैसे को खुद पर कण्ट्रोल नहीं करने देगा. वो क्या कर सकता है क्या नहीं, ये उसके लिए अब से पैसा डिसाइड नहीं करेगा.

 हो सकता है मनी इतनी इम्पोर्टेन्ट चीज़ नहीं हो मगर देखा जाए तो सच में इम्पोर्टेन्ट है. इतनी ज्यादा इम्पोर्टेन्ट कि आप देख सकते है गरीब कंट्रीज में कैसी लाइफ होती है ?


 मै बताता हूँ, वहां क्राइम ज्यादा होते है, ज्यादा बीमारियाँ फैलती है और लोग ज्यादा परेशान और दुखी रहते है.


रिच पीपल आर एसहोल्स Rich people are assholes.


 ये मिडिया की उड़ाई हुई बात है जो आपको यकीन दिलाना चाहते है. ताकि आपको खुद के बारे में थोडा अच्छा फील हो. लेकिन असल बात पता है ?

 मिडिया की कही हर बात पे यकीन ना करे हां, बेशक कुछ रिच लोग है जो वाकई बुरे है लेकिन इसका उनके अमीर होने से कोई लेना देना नहीं है, ये तो उनकी पर्सनेलिटी है.

 जैसे कुछ गरीब लोग बुरे होते है वैसे ही अमीर लोग भी बुरे हो सकते है. अब जैसे एक्जाम्पल के लिए बिल गेट्स दुनिया के अमीर आदमियों में से है लेकिन क्या ये आप जानते है कि वो कितना पैसा चैरिटी में देते है ?

 वो अपनी नेट वर्थ का बिलियन डॉलर दे देते है ! मै चैलेंज करता हूँ अगर आपको कोई और इतना चैरिटेबल मिले वारेन बफे के अलावा जो अपनी नेट वर्थ का 97% चैरिटी करते है. फिर भी लोग इन्हें जज करते है ये बोलकर कि ये लोग इतने रिच है तो इनका फर्ज़ है कुछ पैसे चैरिटी में देने का.

 अगर आप भी यही सोचते है तो मै आपको यहाँ टोकना चाहूँगा. मुझे बताये ज़रा गरीबो ने सोसाइटी को क्या दिया है ? कुछ भी नहीं, क्योंकि वे अफोर्ड ही नहीं कर सकते.

 मनी आपको बदलती नहीं है, ये एक कागज़ का टुकड़ा भर है जिसका आपकी पर्सनेलिटी पे कोई कण्ट्रोल नहीं है. एक आदमी की स्टोरी है जो एक बार में एक औरत के पास जाता है.


 वो उससे पूछता है - ''क्या आप एक डॉलर के बदले एक रात मेरे साथ बिताना पसंद करेंगी ? उस औरत को गुस्सा आ जाता है'', वो बोलती है ''कभी भी नहीं'',

 फिर वो आदमी पूछता है ''क्या आप एक मिलियन डॉलर के बदले मेरे साथ एक रात गुजारेंगी ?''

 इस पर वो औरत कहती है ''हाँ, क्यों नहीं ! फिर वो आदमी कहता है ''20 डॉलर कैसे रहेंगे ?

 औरत फिर से गुस्सा हो जाती है ''बिलकुल नहीं, तुम मुझे कैसी औरत समझते हो'' इस पर वो आदमी कहता है ''आप किस तरह की औरत है, ये तो पता चल गया है, हम तो बस प्राइस नेगोशियेट कर रहे है।''




यू केन अफोर्ड टू वेट

 प्रॉब्लम तो ये है कि हमें लगता है हमारे पास टाइम है, मगर सच तो ये है कि हमारे पास टाइम नही है.

 आप बीस साल के है फिर भी अपने पेरेंट्स के साथ बच्चे बनकर रह रहे है. आपके पास उस टाइम ज्यादा चॉइस नहीं थी इसलिए वो टाइम आपके हाथ से निकल चूका है.

 अब आपके पास 50 साल की लाइफ बची है, अगर सोच के चले कि आप 70 साल जियेंगे तो इस 50 साल में से 1/3 सोने में चला जाएगा, दूसरा 1/3 एंटरटेनमेंट में, टीवी देखने या घूमने में निकल जाएगा.

 तो देखा जाए तो असली में आपके पास सिर्फ 10-15 साल ही बचते है और वो काफी नहीं है अगर आप अभी भी वेट करने के बारे में सोच रहे है तो.


2. यू हेव टू बी लकी एंड ए चीपस्केट

 लॉटरीज़, इस दुनिया की सबसे बेवकूफी भरी चीज़ है जो बनाई गयी है. दरअसल ये लेज़ी और स्टुपिड लोगो को खींचने का एक मेग्नेट है और कुछ नहीं. ये तो पैसे चोरी होने से भी बुरा है.

 ज़रा देखो उनको जिनकी लॉटरी लगी थी, उनमे से कितने अभी भी रिच है? देखा जाए तो कोई भी नही, मगर क्यों? क्योंकि उनके पास पैसा तो बहुत आया मगर उन्होंने उस पैसे को संभालना नहीं सीखा.


 तो उनके पास लॉटरी से चाहे कितना पैसा भी क्यों ना आ जाये, आज नहीं तो कल खत्म हो जाएगा, और फिर से वो पहले जैसी हालत में होंगे.

 पैसा कम खर्च करने से ज्यादा आसान है ज्यादा पैसा कमाना. तो बजट में क्यों रहना ? जी भर कर खर्च करो, आप बचा ही क्यों रहे हो ?

 ऑथर के एक फ्रेंड को हमेशा पैसे की दिक्कत रहती थी और हर महीने उसे बिल्स भरना बड़ा भारी लगता था.

 तो वे एक फाईनेनिशियल वर्क शॉप पे गए और वहां के सो-काल्ड एक्सपर्ट ने उन्हें बताया कि इस प्रॉब्लम का सोल्यूशन यही है कि वो अपने खर्चे कम कर दे.

 लेकिन ऑथर का फ्रेंड ये नहीं कर सकता था, वो अपनी पूरी लाइफ ऐसे चीपनेस में नहीं गुज़ार सकता था.

 तो वो डिसाइड ही नहीं कर पाया कि करे तो क्या करे. फिर एक दिन उसके एक रेस्ट्रोरेन्ट कस्टमर के साथ उसकी बात हुई.

 उस कस्टमर ने उसे एक आडियोटेप दिया जिसे सुनकर ऑथर के उस फ्रेंड की लाइफ ही चेंज हो गयी.

 ये आडियोटेप एक आदमी के बारे में था जो एक मार्केटिंग एक्सपर्ट था और उसके पास एक नयी स्ट्रेटीज़ थी जिससे ज्यादा कस्टमर्स को अट्रेक्ट किया जा सकता था.

 उसने वो टेप 10 से भी ज्यादा बार सुना क्योंकि उसमे एकदम नयी और अमेजिंग इन्फोर्मेशन थी. आज तीन साल बाद उनके पास टाउन का सबसे ज्यादा सक्सेसफुल रेस्ट्रोरेन्ट है.


पार्ट 3: द ऍफ़. यू. मनी माइंडसेट: आर यू डेस्टीनाइड टू मेक मनी ? क्या आप पैसे कमाने के लिए डेस्टीनाइड है ?


 ऍफ़. यू. मनी हर कोई नहीं बना सकता, ये सिर्फ उन लोगो के लिए पोसिबल है जो बाकियों से अलग सोचते है और डिफरेंटली एक्ट करते है.

 हालाँकि अगर आप इन लोगो में से नहीं है जो ऍफ़. यू मनी बना सकते है तो कोई बात नहीं आपको उदास होने की ज़रूरत नहीं. हर कोई ये मनी बनाने के लिए नहीं पैदा नहीं होता है.

 बल्कि अगर आप सच में ऍफ़. यू. मनी बनाना चाहते है तो आपको फूली कमिटेड होना पड़ेगा या तो 100% इन या 100% आउट. ऍफ़. यू. मनी हर किसी के लिए नहीं है, ये एवरेज लोगो के लिए नहीं है जो अपनी एवरेज जॉब में रहते है. जो ऍफ़. यू मनी बनाने के लिए कुछ ऐसा नहीं करते जो रिस्की या अजीब हो.  

 बट, हे, पीपल कीप गिविंग मी एडवाइस, शुड आई लिसन टू देंम ? मगर, लोग मुझे एडवाइस देते रहते है, तो क्या मुझे सुनना चाहिए ?


 इन फैक्ट, नहीं, दुनिया जो बोलती है उस पर ध्यान ही मत दो क्योंकि ज़्यादातर वो सब बकवास ही होगा. कोई नहीं चाहेगा कि आप सक्सेसफुल हो, कोई आपको सपोर्ट नहीं करने वाला अगर कभी आप जॉब छोड़कर खुद के बिजनेस के बारे में सोचे.


 तो उनकी सुने ही मत या कभी आपका ब्रदर या फ्रेंड आपको पैसे कमाने के लिए कोई एडवाइस दे तो पोलाइटली सुन ले लेकिन उस पर एक्ट करे ये ज़रूरी नहीं. लोगो की एडवाइस एक कान से सुनकर दुसरे कान से निकाल दे.

माई लाइफ स्टिंकंस, हू शुड आई ब्लेम ? ,मेरी लाइफ स्टिंक कर रही है, मै किसको ब्लेम करूँ ?


 यू, अगर आपकी लाइफ में प्रॉब्लम है तो सिर्फ आप इसके लिए रिस्पोंसीबल है.


 ऑथर का एक फ्रेंड एक दिन उन्हें कॉल करके पूछता है कि क्या वो उसकी हेल्प कर सकता है क्योंकि उसका बिजनेस डूब रहा है. इस पर ऑथर ने कहा ''अगर तुम्हारा बिजनेस डूब रहा है तो इसके जिम्मेदार तुम खुद हो'',

 फिर ऑथर ने अपने फ्रेंड से पुछा कि क्या सेम इन्डस्ट्री के बाकी बिजनेस सही चल रहे है ? तो फ्रेंड ने कहा कि हाँ.

''तो इसका मतलब कि बाकी बिजनेस जो तुम्हारे जैसा ही प्रोडक्ट बेचते है, वो सब अच्छे चल रहे है और प्रॉफिट कमा रहे है ?'' ऑथर डैन ने पुछा.


“हां बेशक.” उसके फ्रेंड ने कहा.


“तो इसका मतलब यहाँ पर प्रॉब्लम तुम हो, कुछ ऐसा है जो तुम मिस कर रहे हो, डेफिशियेंशी तुम्हारे पार्ट में है, और जब तक तुम इसे एक्सेप्ट नहीं करोगे तुम इसे सोल्व नहीं कर पाओगे..”


“मुझे पता चल गया, थैंक्स डैन.”



Don't Miss -




व्हट वुड यू डू एंड नॉट डू फॉर मनी ? मनी के लिए आप क्या करेंगे और क्या नहीं ?

 एक टीवी शो है फियर फैक्टर, जो यू.एस. में काफी पोपुलर है.ये शो सिम्पली इस आईडिया पर बेस्ड है कि लोग पैसे के लिए क्या करेंगे और क्या नहीं.

 आप शोक्ड रह जायेंगे ऐसी डिसगस्टिंग, डेंजरस और डीहुयूमेंनाइजिंग चीज़े देखकर जो लोग पैसे के लिए करते है.

 यही बात मै आपको यहाँ समझाना चाहता हूँ कि आपको एक लाइन मेंटेन करनी पड़ेगी कि आप पैसे के लिए क्या कर सकते है और क्या नहीं.

 आपको ओनेस्टली फ्री होकर ये जानना ज़रूरी है कि आप कहाँ पर खड़े है. और मै आपको ये क्लियर कर दूँ कि ऑथर आपको ये नहीं बोल रहा कि आप पैसे के लिए कुछ भी इलीगल या इमोरेल करे.

 खुद से पूछे आपको ये पैसा किस हद तक चाहिए ? आप इसके लिए क्या करने को तैयार है ? प्लान करे, फिगर आउट करे वो चीज़े जो आप पैसे कमाने के लिए इन्वेस्ट करना चाहते है.

 जो करियर आपने सोचा है उसके बारे में फिगर आउट करे, देखे कि आप उसके लिए कितना लर्न करने के लिए तैयार है.

 कहने का मतलब है कि पैसे के लिए क्या करना है और क्या नहीं, आपका ये जान लेना बहुत ज़रूरी है!

 लेकिन, मेरा पास स्टार्ट करने के लिए इतना पैसा नहीं है/ मुझे इसके बारे में बहुत फ़िक्र है/ मुझे रियली नहीं पता कि मुझे ये चाहिए कि नहीं !


 ये बात समझ में आती है, ओह, वेट अरे नहीं ये तो बकवास है, आपको पैसे ना कमा पाने का कोई ना कोई एक्सक्यूज़ मिल जाएगा.

 एक चीज़ हमेशा रहेगी जो आपको पीछे खींच लेगी. मगर सच तो ये है कि आप पैसा और एक्सक्यूज़ एक साथ नहीं बना सकते है. आपको एक चूज़ करना ही पड़ेगा. और अगर आपकी चॉइस एक्सक्यूज़ है तो अपनी पूरी लाइफ गरीबी में गुज़ारने के लिए आपको गुड लक.


व्हट इज डी. आई. जी. ? डी. आई. जी. क्या है ?

 डी.आई.जी. डेली इनकम गोल है, ज्यादातर लोगो का एक जर्नल इनकम गोल होता है. जैसे कि उन्हें एक हंड्रेड थाउजेंड डॉलर कमाना चाहते है या 1 मिलियन डॉलर या कुछ भी.

 लेकिन ऑथर ये नहीं करता. उसका एक इयरली गोल है, मंथली गोल है और एक वीकली गोल भी है. मगर सबसे ज्यादा वो अपने डेली इनकम गोल पर फोकस करता है.

 जैसे इमेजिन करे कि आपको मन्थ में 1500$ एक्स्ट्रा कमाना है तो इसे 30 डेज़ में डिवाइड करो और आप 50$ पर डे पाएंगे. तो जब आप उठे तो सोचे कि आज आप ऐसा क्या करे जिससे आपको ये एक्स्ट्रा 50 बक्स मिले.?

हाउ वुड देट हेल्प मी मोर देन जस्ट हेविंग अ मंथली इनकम गोल ओर अ वीकली इनकम गोल ?


 जब आपके पास एक डी. आई.जी. है तो आपके लिए ये ईजी हो जाता है कि आप अपने रोंग मूव्स या रोंग टैक्टिस करेक्ट कर सके. क्योंकि अगर आप अपना डी.आई.जी. अचीव नहीं करेंगे तो आप अपने वीकली इनकम गोल तक नहीं पहुँच पायेंगे, मंथली इनकम गोल तक तो बिलकुल नहीं तो इसलिए मन्थ एंड तक वेट करने के बाद अगर आपको पता चले कि आपकी बैंड बज गयी है, इसके बजाये पहले ही इसे समझ ले और जितना पोसिबल हो, उतनी जल्द करेक्ट भी कर ले ?



पार्ट 4: द ऍफ़. यू. मनी बिजनेस:


 व्हट इज द रीजन व्हाई पीपल नेवर मेक देयर ऍफ़. यू. मनी? क्या रीजन है कि लोग ऍफ़. यू. मनी क्यों नहीं बना पाते?

 ये ज्यादातर इसलिए होता है क्योंकि ज़्यादातर लोग इस पर तुंरत रिएक्ट करना चाहते है और बिना कोई मेहनत के क्विक्ली रिच बनना चाहते है. इसलिए वो उस हर एड्स पर रिस्पोंड करते है जो मेक मनी फ्रॉम होम के बारे में होते है. फिर खरीदी हुई मेग्जींस से और बाकी चीजों से अपने गोल तक पहुंचना चाहते है.


 इसमें रोंग बात ये है कि ये ऐसे ही है जैसे कि लोग वेट घटाना चाहते है तो उसके लिए कितने ही डिफरेंट टाइप के गेजेट्स, पिल्स और प्रोग्राम्स की हेल्प लेने लगते है जबकि सच तो ये है कि वेट कम करना इतना आसान है जितना आप सोच भी नहीं सकते.

 बस कम कैलोरी लो, ज्यादा एक्सरसाईज़ करो, लेकिन लोग इसे सिम्पल बनने नहीं देते. वे जल्दी से जल्दी वेट कम करने के चक्कर में इसे और भी कोम्प्लीकेटेड\ कर लेते है.


टेक केयर!


 अगर कोई आपके पास आकर एक बिजनेस का ऑफ़र देता है जिससे आप खूब पैसे कमा सके वो भी बगैर कोई मेहनत के, जैसे गैंबलिंग, या कोई स्कैम.

 तो लोग क्यों गैंबलिंग करते है ? क्योंकि उन्हें लगता है कि वो बैठे बिठाए सिर्फ गेम खेलकर खूब सारा पैसा कमा लेंगे. लेकिन आपको पैसे के लिए काम करना ही पड़ेगा. और अगर आप इसे जल्द से जल्द बनाना चाहते है तो ये सही नहीं होगा. पैसा कमाना पोसिब्ल है मगर इसके लिए काम भी करना पड़ेगा.

 हाउ केन आई मेक एक्स्ट्राओरडीनेरी अमाउंट ऑफ़ मनी ऑनलाइन इवन इफ आई एम् जस्ट एन ओरडीनेरी पर्सन? एक ओरडीनेरी इंसान होते हुए भी मै ऑनलाइन एक्स्ट्राओरडीनेरी मनी कैसे कमा सकता हूँ?


यहाँ 7 गोल्डन कीज़ है जो आपकी हेल्प कर सकते है, लेकिन इम्पोर्टेन्ट है कि आप इन सबको फोलो करे !



गोल्डन की नंबर 1 – द मार्किट कम्स फर्स्ट.


आप अपने प्रोडक्ट पर खूब सारा टाइम. मनी और एफर्ट लगा सकते है लेकिन बाद में पता चलता है कि आप इसे रोंग मार्किट में सेल कर रहे है या फिर आपके प्रोडक्ट की तो कोई मार्किट ही नहीं है! तो इससे पहले कि आप अपनी शुरुवात करे अपनी मार्किट के बारे में रिसर्च कर ले. लोग क्या चाहते है, ये अच्छे से समझ ले, लोगो को अपनी बात समझाए !




गोल्डन की नंबर 2 – ऐसी यूजर फ्रेंडली वेबसाईट बनाओ जो आपका प्रोडक्ट बेच सके. क्रियेट अ यूजर फ्रेंडली वेब साईट देट सेल्स.


तो अब आपके पास एक अमेजिंग वेबसाईट है जो ट्रेंडिंग में भी है और वर्ल्ड की सबसे बढ़िया टॉप वेबसाइट्स में भी आती है, लेकिन फिर भी इस वेबसाईट के थ्रू एक भी प्रोडक्ट नही बिक पाता ? ऐसा क्यों है? वेब साईट कितनी ही अमेजिंग क्यों ना हो, अगर आप अपने विजिटर्स को कस्टमर नहीं बना पा रहे तो आप टोटल फेल है. फिर चाहे आपकी वेब साईट को डेली मिलियन विजिटर्स ही क्यों ना मिल रहे हो.

 वेब साईट ऐसी होनी चाहिए है जो आपके लिए सेल्स कर सके इसलिए अपनी वेब साईट ए टू ज़ेड ऐसे डिजाइन करे कि वो आपकी सेल्स बढ़ा सके.



गोल्डन की नंबर 3 – अपने लिए एक बिजनेस खड़ा करो, पैसे की मशीन नहीं


बिल्ड अ बिजनेस नॉट अ मनीमेकर

मनीमेकर्स बिजनेस अच्छे है लेकिन वे ज्यादा टिकते नहीं और इनसे आप ऍफ़. यू. मनी को कभी नही बना सकते, मनीमेकर्स लॉन्ग टर्म वेल्थ नहीं बिल्ड नहीं करेगे. जबकि एक बिजनेस वो होता है जिसमे एस्सेट्स, प्रोडक्ट्स और कस्टमर्स होते है.



गोल्डन की नंबर 4 – क्रियेट मल्टीपल इनकम सोर्स इन वन बिजनेस नॉट मल्टीपल कम्प्लीटली डिफरेंट बिजनेसेस.


 मल्टीपल कम्प्लीटली डिफरेंट बिजनेसेस के बजाये एक ही बिजनेस में मल्टीपल इनकम सोर्स क्रियेट करे..

 सिम्पली बोले तो “अपने सारे एग्स एक ही बास्केट में मत रखो” इस कहावत को फोलो करे. बात ये है कि ज़्यादातर लोगो को ये बात समझ नहीं आती.


 एक ही बिजनेस से मल्टीपल इनकम सोर्स पैदा करने के बजाये वे बीस पच्चीस डिफरेंट टाइप के बिजनेस खोलकर पैसे कमाने की कोशिश करते है.

 ये बहुत बड़ा डिजास्टर है क्योंकि इसमें आपका फोकस डिवाइड हो जाता है, जबकि अगर आपको किसी स्पेशिफिक मार्किट की नॉलेज है तो आप एक ही बिजनेस में पूरा फोकस देकर उसमें सक्सेसफुल बन सकते है. जितना ज्यादा टाइम आप उस एक बिजनेस में स्पेंड करेंगे आपको उतना ही ज्यादा सीखने को मिलेगा.


गोल्डन की नंबर  5 – दूसरो के टाइम और रीसोर्सेस का फायदा उठाओ

लेवरेज द टाइम एंड रीसोर्सेस ऑफ़ अदर्स

 हम सब के पास टाइम की हमेशा कमी रहती है चाहे हम जो भी कर ले. अगर आप पूरी नींद भी नहीं करते है फिर भी आप दिन में 24 घंटे से ज्यादा काम नहीं कर सकते. तो इस प्रॉब्लम का सोल्यूशन क्या है ?


 इसका सोल्यूशन है आउट सोर्स, दूसरो का टाइम अपने फेवर में यूज़ करे और अपने टाइम को सिर्फ उन चीजों के लिए बचा कर रखे जो आपके लिए ऍफ़. यू. मनी बनाने में वैल्यूबल है. जो काम आपके लिए उतने इम्पोर्टेन्ट नहीं है, उन्हें करवाने के लिए दूसरो को हायर करे.


गोल्डन की नंबर 6 – अपने प्रोडक्ट सेल करने के लिए अपनी पर्सनेलिटी का यूज़ करे.

यूज़ योर पर्सनेलिटी टू सेल

अपनी सक्सेस स्टोरी दूसरो के साथ शेयर करे. लोगो उन्ही के साथ बिजनेस करना पसंद करते है जिन्हें वो लाइक करते है और ट्रस्ट करते है. अपनी अलग पहचान बनाने से डरो मत, भीड़ का हिस्सा मत बनो, एंटरटेनिंग बनो, बोरिंग नहीं..



गोल्डन की नंबर.7 – पोजीशन योर बिजनेस फॉर ऑटोमेटिक ग्रोथ

 आप बिना काम किये भी पैसा कमा सकते है. जैसे कि मान लो आपको कोई वेबसाईट है जिसमे जब आप वर्क करते है तो आपको पैसे मिलते है. लेकिन हमें कुछ ऐसा करना है कि जब आप काम नहीं कर रहे होते है तो भी आपको पैसे मिलते रहे. ऐसे स्टेप्स फिगर आउट करे जिन्हें अप्लाई करके आप पैसा बना सके. ऐसी टेक्नोलोजी में इन्वेस्ट करे जो आपके लिए पैसे बनाए. या फिर किसी को हायर करके उन्हें ये स्टेप्स सिखाये. फिर बैठे बैठे ही ऑटोमेटिकली आपका पैसा जेनेरेट होता रहेगा.


Don't Miss -


 दोस्तों आपको आज का हमारा ये F. U. Money Book Review in Hindi कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये और इस F. U. Money Book Review को अपने सारे दोस्तों के साथ शेयर करे जिसको अमीर बनना है फ्रीडम के साथ।


आपका बहुमूल्य समाय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Post a Comment

0 Comments