Mastery by Robert Greene Book Summary in Hindi - किसी फील्ड में मास्टरी को हासिल करने के लिए बढ़िया बुक

Image
Mastery by Robert Greene Book Summary in Hindi


अ पनी इस बेहतरीन किताब (Mastery by Robert Greene Book Summary in Hindi) में लेखक ने बड़े ही रोचक ढंग से ये बताया है के किसी भी कला में मास्टरी हासिल करने के लिए हमें एक प्रॉपर गाइडेंस और रेगुलर प्रैक्टिस की जरुरत पड़ती है. लेखक ने आगे बताया है के ये गाइडेंस हम अपने फ़ील्ड के पहले से मौजूद मास्टर्स से ले सकते हैं. इतिहास और आज के सफल मास्टरों के जीवन से प्रेरणा ले कर हम भी उनकी तरह सफलता की बुलंदियों को छु सकते है.
ये बुक समरी किसके लिए है -
- वो व्यक्ति जो किसी फ़ील्ड में नया नया है और उसमे अपनी अलग पहचान बनाना चाहता है.
- वो स्टूडेंट जिसने अभी अभी स्कूल ख़तम किया है और जीवन की नयी राह को ढूंड रहा है.
- वो व्यक्ति जो की अपने फील्ड में बार बार प्रयास करने पर भी मिली असफलता से निराश हो.
ये किताब हर उस इंसान के लिए बहुत ही प्रेरणादायी है जो की सफलता के शिखर पे पहुंचना चाहते हैं.

लेखक के बारे में
 लेखक रोबर्ट ग्रीने ने अपनी पढाई क्लासिकल स्टडीज के सब्जेक्ट में की है, और वो कहते है के उन्होंने कम से कम 80 जगह जॉब किया है. वो हमेशा से एक एक्सपेरिमेंटल …

99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये 20 आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi

99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये 20 आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi. Hello दोस्तों, आपको आज मैं कुछ बहुत गंभीर स्वस्थ समस्या जिससे करीब करीब 90% लोग जुजते हैं, इसके बारे में बात करेंगे और इसकी समाधान भी आपको बताएँगे।

ये बातें मैं बाबा रामदेव से सीख कर बताया हूँ आपको, तो आपको जरूर जानना चाहिए।



99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये 20 आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi



99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये 20 आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi



जो 90% तक लोग जुजते है वो disease है - Constipation.

1. Constipation से बचने के लिए जिंदगी में Daily रुटीन में कुछ परिवर्तन कीजिये - Stress से बचिए, और दुःख के दिनों में खुशी से रहिये, आपको हमेशा प्रसन्नता से जीना चाहिए।

2. Happiness आपके साथ हमेशा रहना चाहिए, Positive सोचो, जब आप Positive सोचोगे तब आप Positive बन जाओगे और जब आप Positive बन जाओगे तब आप कोई भी बीमारी से जुज सकते हो।

3. इसके बाद आपको हर दिन कुछ न कुछ मेहनत करना चाहिए, कम मेहनत से आपको कोई तरह की बीमारी होने लगती है। जैसे - Gas, कब्ज, Acidity, High Blood Pressure, Diabetes, Thyroid, Cancer तक की बीमारी लगती है।

4. एक बार ज्यादा मत खाइये - सुबह थोड़ा नास्ता, दोपहर को खाना, शाम को खाना और बीच बीच में आपको भूख लगे तो फल खा सकते हो।

5. आपको चार चार घंटे के अंतराल में खाना चाहिए, लेकिन ज्यादा मत खाइये एक साथ।

6. जब आप खाना खाए तो चवा चवा कर खाइये, खाने में पहले चलाद और fruits लीजिये।

7. खाने के एक घंटे बाद पानी पीजिये।

8. रात को दही मत लीजिये।

9. दूध और नमक साथ में मत लीजिये।

10. ज्यादा तले हुए पदार्थ मत खाइये।

11. एक जैसा अनाज मत खाइये। हर दिन अनाज बदल बदल के खाइये।

12. एक जैसा तेल मत खाइये। तेल बदल बदल करके खाइये। एक जैसा तेल सेहत के लिए अच्छा नहीं होता।



Exercise - Health Tips in Hindi

13. सुबह उठ करके सबसे पहले गरम पानी पीजिये, और थोड़ा Exercise कीजिये।

14. चाय कमसे कम पीजिये। ज्यादा चाय पीने से गैस, एसिडिटी आदि की प्रॉब्लम होती है।

15. आप हर दिन शाम को त्रिफला चूर्ण ले सकते हैं।

16. बाबा रामदेव जी ने हमे एक solution बताया है कब्ज का, की अगर बहुत ज्यादा कब्ज रहता है तो उनके पतंजलि स्टोर से शुद्धि चूर्ण ले सकते हैं।

17. हमेशा इस सोच के साथ आपको जीना है की - जो कुछ भी ज्ञान, संस्कार, शक्ति, भावनाएं, emotions जो मिला है वो परमात्मा की दी हुई है। ये तन, मन, धन, घर, परिवार, ये सारा संसार ये सब कुछ भगवान् यानी की कुदरत की देन है। बस इन सबके बीच जो मुझे जीवन मिला है मुझे बहुत खुशियों के साथ इस जीवन को जीना हैं। और जो मुझे मिला है उसका हमेशा सम्मान करना चाहिए। ना की जो मुझे नहीं मिला है उसके लिए दुःख।


पा कर भी क्या करोगे, एक दिन तो सब कुछ छोड़ कर जाना ही है। इससे अच्छा तो ये है जो मिला है उससे खुश रहे। और मरते हैं तो ख़ुशी के साथ मरे।

18. इस दुनिया में कही न कही हमारे जीवन पद्धति दोषपूर्ण है। हमारी lifestyle अच्छी नहीं है, Unhealthy है, और हममें से ज्यादातर लोग दुःख से ही जीवन को जीते हैं। जब तक आपने एकदम से लाइफस्टाइल change नहीं करेंगे तबतक आपको हर बीमारी के लिए हर दिन दवाई लेनी ही होगी।

19. Gas को ठीक करने के लिए आपको उसके कारण को ठीक करना पड़ेगा - जैसे कब्ज, indigestion, आंते कमजोर होना, खाने के तुरंत बाद पानी पीना। इस कारण को खत्म करना है।

इससे आपकी कब्ज की समस्या ही नहीं होगी। ज्यादा गैस है तो Gashar(गैसहर) चूर्ण लीजिये पतंजलि से।

20. रोगों के कारण का जबतक निवारण नहीं होगा, तबतक रोग जड़से खत्म नहीं होगा, इसलिए जिन कारणों से कब्ज से, indigestion से, over eating से, stress से, दुःख से, exercise ना करने से, ज्यादा तले हुए खाना खाने से, फास्टफूड खाने से, शुद्ध वातावरण ना होने से, ज्यादा शराब पीने से, ज्यादा सिगरेट पीने से, सब्जी ना खाने से, खाने के तुरंत बाद पानी पीने से, विरुद्ध आहार खाने से हमें जो प्रॉब्लम होती है और यही हर बीमारी का कारण भी है।

 और अगर आपने हर एक बताये गए तरीके को फॉलो करके अपने जीवनशैली को ठीक करके अपने हर एक बीमारी को ठीक कर सकते हैं और आने वाले दिनों में भी आपकी बीमारी कमसे कम होगी।



Don't Miss -

  1. Health Care Tips in Hindi - Calcium Deficiency Symptoms in Hindi
  2. Health Tips in Hindi - एक हफ्ते में फेफड़ो को साफ करके धूम्रपान के प्रभाव को खत्म कैसे करें
  3. Weight loss tips in Hindi ( Full Guide )
  4. Early Symptoms Of Cancer in Hindi
  5. Drinking Water in Hindi - पानी पीने का सही तरीका
  6. Detox करना क्यों जरुरी है और कैसे करे - Health Tips in Hindi


तो दोस्तों आपको आज हमारा यह Article (99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi) कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये और इस Article (99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये आसान उपाय - Best Health Tips in Hindi) को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।



आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Comments

Popular posts from this blog

SEO क्या है ? On-Page, Off-Page और Technical SEO कैसे करते है ? - SEO Mastery in Hindi 2020

मैडिटेशन कैसे करें (सही और सरल तरीका) - Meditation in Hindi

Zero to One Complete Book Summary in Hindi - बिज़नेस सीखने के लिए बेस्ट बुक

Popular posts from this blog

Zero to One Complete Book Summary in Hindi - बिज़नेस सीखने के लिए बेस्ट बुक

The Alchemist Book Summary in Hindi - खजाना ढूंढने की कहानी

श्रीमद भगवद गीता सार | संपूर्ण गीता | Bhagawad Geeta- All Chapters Audiobook in Hindi

What is PPI ? PPI क्या होता है ? - Explained in Details | Thoughtinhindi.Com