Motivational Story in Hindi - क्या भगवान सबके साथ होता है !

Hello दोस्तों, आज मैं फिर से एक छोटी सी motivational story आपके लिए लेके आया हूँ, तो इसको अपना 5 मिनट देकर ध्यान से पढ़ियेगा।

 कभी जिंदगी में खुशियाँ मिले तो चख लेना मिठाई समझकर और गम आये तो खा लेना दवाई समझकर।


Motivational Story in Hindi - क्या भगवान सबके साथ होता है !


Motivational Story in Hindi - क्या भगवान सबके साथ होता है !


एक छोटी सी कहानी - ये कहानी है एक बूढ़े व्यक्ति की, जिनकी उम्र तक़रीबन 70 साल रही होगी। वो अपने पोते के लिए मार्किट से खिलोने लेके city bus से अपने घर जा रहे थे और घर जाते वक़्त उनका रास्ते में purse(बटुआ) कही खो गया।

जब वो घर पहुंचे तो उनको पता लगा की उनके पास उनका purse नहीं था। और सबसे अफ़सोस की बात ये थी की उस purse उनकी कोई id नहीं थी।

अगर किसी ईमानदार व्यक्ति को वो मिलता भी तो उनतक पहुंचाता कैसे ! उनकी id या कोई contact नंबर नहीं था।

उन्हें बुरा लग रहा था, क्यूंकि उनको भी ये purse उनके दादाजी ने दिया था, वो घर पर अपने पोते को खिलोने देके वापस मार्किट में निकल गए।

bus stand पर पहुंचे, city bus का उस ड्राइवर और कंडक्टर का पता किया।

कंडक्टर के पास गए और जाकरके कंडक्टर से पूछा "भाईया वैसे तो मुझे बहुत कम उम्मीद है, लेकिन क्या इस city bus में शाम 4 बजे जब मैं वापस जा रहा था, क्या लगभग उस टाइम में कोई purse मिला था"

कंडक्टर ईमानदार आदमी था तो उसने बोला "हाँ, purse तो मिला था, लेकिन मैं ये कैसे यकीन करू की purse आपका था"

तो ये बूढ़े व्यक्ति ने कहा की "उसमें भगवान की फोटो थी।"

तो bus कंडक्टर ने बोला की "ये कौनसी बड़ी बात है, हर किसी के purse में तो भगवान की फोटो होती है, उपरवाले की फोटो होती है, ये कौनसी नयी बात आप बता रहे हो, आप कुछ ऐसा बताओ जो आपके बारे में कुछ इसमें हो"

तो उस बूढ़े व्यक्ति ने कहा की "इस purse में मेरी कोई id नहीं है, तो मैं साबित नहीं कर पाउँगा की ये मेरा है। लेकिन वो जो भगवान की फोटो है, उसके बारे में कुछ बताना चाहता हूँ"

तो कंडक्टर ने कहा की क्या कहानी है आप बताइये।

तो बूढ़े व्यक्ति ने बताना शुरू किया की - "ये purse मुझे मेरे दादाजी ने दिया था, तो ये मेरे लिए बड़ा ही memorable purse है और इस purse में मैंने अपने बचपन में मैं अपनी खुद की फोटो रखी, क्यूंकि खुद मैं बड़ा सुंदर(हैंडसम) लगता था, तो मैंने अपनी फोटो रख लिया था, फिर मेरी शादी हो गयी थी तो मैंने अपनी बीवी की फोटो रख ली, उसके बाद मेरे बच्चे हो गए, तो मुझे लगा की बच्चो की फोटो होनी चाहिए, तो मैंने बच्चो की फोटो रख ली और आज ऐसा दिन आगया है की बच्चो के घर मुझे जाना पड़ता है, अपने पोते को खिलोने देने के लिए, क्यूंकि बच्चे मेरे घर नहीं आते, सब अलग अलग रहने लग गए हैं, तो मुझे समझ में आगया की सब मुझे छोड़ करके चले गए, मैंने आखिरी में भगवान की फोटो रख लिए, क्यूंकि वो साथ है तो शायद सब कुछ साथ होगा।"

ये कहानी जब उन्होंने खत्म की तो कंडक्टर ने purse लौटा दिया, ये बूढ़े आदमी अपने घर जा रहे थे।

ये छोटी सी कहानी जिंदगी में बहुत बड़ी बात सिखाती है - "इंसान की जिंदगी में सुख और दुःख आते रहेंगे, Happiness है तो Sadness भी आएँगी, आप लाइफ में frustrate होंगे, दुखी होंगे, सब कुछ होगा, आपकी लाइफ में लाखो problems आएँगी, क्यूंकि ऐसा कोई इंसान नहीं है, जिसकी जिंदगी में कोई problems नहीं आती, चाहे छोटा प्रॉब्लम हो या बड़ा प्रॉब्लम हो, प्रॉब्लम तो प्रॉब्लम ही हैं ना !

बस जब आप उपरवाले को हमेशा याद करते हैं, तो वो आपको शक्ति देता है, साहस देता है, उसे आप Supernatural Powers कहिये, भगवान कहिये, अल्लाह कहिये, खुदा कहिये, जिस भाषा में उसे बुलाना है वो कहिये, लेकिन जब वो आपके साथ होता है, तो दुनिया की कोई ताकत आपको बढ़ने से रोक नहीं सकती और जब आपके लाइफ में problems आती है, तो वो आपको उन problems से लड़ने की ताकत देता है, साहस देता है।


Don't Miss -

  1. Swami Vivekananda जी जब गुस्सा हुए - एक जबरदस्त Moral Story in Hindi
  2. Inspirational Story in Hindi - कर्म कैसे सब कुछ लौटा के देता है
  3. मेरी जिंदगी की कीमत - Motivational Story in Hindi
  4. क्या आप अपने माँ-बाप के लिए आधार कार्ड बन सकते हो - Motivational Story in Hindi
  5. रावण की आखिरी शब्द क्या था - Motivational Story in Hindi

तो दोस्तों आपको आज का हमारा यह मोटिवेशनल स्टोरी कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये और इस मोटिवेशनल स्टोरी को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।


आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Post a Comment

2 Comments