4k kya hai ? What is 4K in Hindi ? – Detail Explained in Hindi

4k kya hai ? 4K Technology Detail Explained in Hindi

 
 Hello, दोस्तों पिछले कुछ सालो से हमने 4k के बारे में बहुत सुना है, चाहे वो 4k कैमरा हो, 4k tv हो, 4k मोबाइल फ़ोन हो, चाहे 4k वीडियो वगैरह हो, अब ऐसे में 4k के बारे में इतना सुनने के बाद हमारे मन में बहुत सारे ऐसे confusions रह जाते है, आज मैं इसके बारे में बताने वाला हूँ।

4k kya hai ?

 तो देखिये 4k एक resolution standard है, ये नयी टेक्नोलॉजी नहीं है, 4k वीडियो या 4k कैमरा जो है ये अभी एक देर साल के बात नहीं है, इन 4k टेक्नोलॉजी को मार्किट में आये हुए display को या वीडियो को या फिर जो projectors है उनको आये हुए बहुत साल हो सुके है,


 youtube ने 2010 से 4k वीडियो में upload जो option था वो enable किया था, यानि की 8 साल तो youtube को ही हो गया 4k resolution वाले वीडियो में,

4K camera





 उससे पहले sony ने बहुत साल पहले मतलब आज से 14 साल पहले 4k projector को launch कर दिया था, आज से करीब 16 साल पहले मतलब 2003 में 4k कैमरा भी मार्किट में आ चूका था।


 लेकिन हमने पिछले कुछ सालो में इस टेक्नोलॉजी के बारे में इतना इसलिए सुना है क्यूंकि वो काफी हद तक cheap हो चुकी है, normal consumer के लिए बहुत ही easily available है, आपको बहुत से devices में 4k टेक्नोलॉजी देखनेको मिल जाती है।


 इसलिए आज की date में 4k जो टेक्नॉलजी है वो इतना ज्यादा commonly हम use करते है और हम इसके बारे में बहुत ही आसानी से बात करते है।



 तो अब हम जान लेते है exactly 4k टेक्नोलॉजी होता क्या है ? –


4K tv

 4k एक resolution standard है, आप उनको playback की टाइम पे भी use कर सकते है और आप उसको recording के टाइम पे भी use कर सकते है, यानि की आप 4k का content create भी कर सकते है और 4k की content को आप play भी कर सकते है,


 अब जो resolution के हम बात करते है की जो display है आपका उसमे छोटी छोटी units लगी होती है जिनको हम pixels बोलते है, 4k में क्या होता है आपके पास में 3840 pixels होते है horizontally और 2160 pixels जो होते वो होते है vertically,


 यानि की horizontally करीब करीब 4000 pixels होते है मतलब जो 3840 वाली pixels होते है हम उसको
4000 pixels मान लेते है और इसलिए हम उसको 4k बोलते है क्यूंकि horizontally उसके पास 4000 pixels है,


 अभी 4k का जो standards है वो एकदम set नहीं है अभी, normal जो आपको devices में देखनेको मिलता है वो मिलता है आपको 3840x2160 pixels, लेकिन जो थोड़े अलग जो DCI format है उसमे आपको देखनेको मिलता है 4096x2160.


 फिर इसमें अगर बात करू 4k एकदम ultra wide screen की तो आपको एक अलग resolution मिलेगा लेकिन आप इतना मानिये की करीब करीब 4000 के आस-पास की जो pixels है वो horizontally मिलते है और जो करीब करीब 2000 के आस-पास जो pixels है वो आपको vertically मिलते है।

 अब बात करते है की full hd resolution और 4k resolution में फर्क क्या है –

FHD vs 4K




 full hd का जो resolution होता है वो होता है 1920x1080 pixels, तो अगर मैं उसको double कर दूँ तो मुझे मिल जायेगा 4k resolution वाले display.



 फिर हम बात करते है 2k की – तो 2k का जो resolution होता है, वो होता है 720 pixel, screen को अगर मैं 4 गुना कर दूँ तो मुझे मिल जाता है 2k यानि कि 1280x720 screen को अगर मैं 4 screen को पास-पास लगा दूँ तो वो जो total resolution मिलेगा मुझे वो मिलेगा 2k का।


 अगर मैं बात करू 4k के resolution की तो इसका total resolution होता है screen का वो होता है 8 megapixels का क्यूंकि जो horizontally pixel है वो है करीब करीब 4000 pixels के आस-पास और जो vertical pixel है वो है करीब करीब 2000 pixels के आस-पास है, जब आप दोनों को multiply कर देते है,  total number of pixels जो मिलते है वो है 8000000 यानि की 8 मिलियन pixels, अगर मैं बात करू full hd की तो ये होते है 2 मिलियन pixels.

4k video Kya Hai ?

 अब आपसे बात करता हूँ 4k content की – तो देखिये जो tv आपके पास में 4k है आपने latest tv ले लिया, लेकिन जब आपके पास में 4k content नहीं है तबतक आपको उसको देखने का मजा कभी नहीं आएगा।


 आप अपने फ़ोन से 4k जो videos है वो record कर सकते है, आप इंटरनेट से कुछ 4k movies को download कर सकते है,  youtube के कुछ 4k videos play कर सकते है, लेकिन इसके अलाबा normal जो हम tv देखते है, normal जो हमको channels देखनेको मिलते है, वो अभी भी full hd में ही आते है वो अभी भी 4k में नहीं आते है।


 इसके लिए वो वीडियो जो है वो 4k screen पे ख़राब न लगे इसलिए बहुत सी tv में जो 4k tv है वो सभी में ही आपको UHD up scaling के नाम से एक features मिलता है, वो features क्या करते है की जो एक 1080p full hd का आपके पास में जो वीडियो है वो उसकी pixel doubling कर देता है, यानि की हर एक pixel को double कर देता है side में भी और ऊपर में भी।


 अगर आप उस pixel को double कर दे आपको जो at the end resolution मिलेगा वो मिलेगा आपको 4k का, तो वो वीडियो अगर आप up scaling के बाद में 4k tv पे देखते है तो आपको अच्छी quality देखनेको मिलेगी।


 अगर मैं आपसे बात करू की आपको commercially 4k का जो content है वो कब available होगा, तो दोस्तों आने वाले दिनों में कुछ popular tv channels में वो 4k resolution में वीडियो मिलना start हो जायेगा, क्यूंकि उसके लिए 4k में उन videos को बनाना जरुरी है, 4k में processing जरुरी है, 4k में transmission भी जरुरी है, वो जो transmission की जो speed है, जो आपके घर में जो आपने dish tv की antenna लगाया होता है, तो वो antenna जो है वो 4k में content ले पाए satellite से वो इतनी high bandwidth को support करे तो ये टेक्नॉलजी आने में थोड़ा time लगेगा।

अब बात करता हूँ 4k recording की –

4k recording





तो देखिये मोबाइल फ़ोन, 4k कैमरा, 4k handycam, 4k digital कैमरा – recording करने का जो medium है। आपके पास में बहुत ज्यादा है, आपने एक बात सुनी होगी की 4k recording करने के लिए कमसे कम 12 megapixels का कैमरा होना जरुरी है।


 जैसे की आपने देखा भी है की apple ने पहले 12 megapixel का कैमरा दिया था, तब से 4k recording का option आया था, खेर अभी तो सभी फ़ोन में 12 megapixel से कम megapixel  कैमरा नहीं देता बल्कि ज्यादा ही देता है – 13 megapixel, 20 megapixel, 24 megapixel, वगैरह, वगैरह…….


 अब आप ये बात सोच रहे होंगे की मैंने आपको बताया की जो screen के resolution है 4k का, की वो तो होता है 8 megapixel की, अब कैमरा क्यों चाहिए 12 megapixel का record करने के लिए।


  देखिये screen का जो resolution है उसका जो aspect ratio है यानि की उसकी जो horizontal line और vertical line जो है pixel की उनका जो ratio है वो होता 16:9 यानि की अगर 16 pixel horizontally होंगे तो 9 mega pixel vertically होंगे।


 लेकिन जो हमारे मोबाइल फ़ोन का sensor होता है, उसका जो resolution होता है वो होता है 4:3 यानि की 4 pixel अगर horizontally होंगे तो 3 pixel vertically होंगे, तो अगर उसको 16:9 से मैं compare करू मतलब 4 गुना करू तो वो बन जाता है 16 और 12, ऐसे में अगर मेरे पास में एक 8 megapixel का अगर मेरे पास में sensor है तो उसकी चौड़ाई जो है sensor की वो इतनी नहीं होगी की उसके अंदर 4000 pixels आपको देखनेको मिले।


 तो इसलिए आपको एक 12 megapixel का कैमरा use करना पड़ेगा, उसका जो resolution होगा वो मिलेगा आपको 4000 pixels horizontally और 3000 pixels vertically, उसमें आप कुछ pixels को crop कर दीजिये, अगर ऊपर और नीचे से।


 और अपनी height को adjust कर लीजिये 2160 पे और जो चौड़ाई आपको मिल रही है 4000 आप उसमे से भी कुछ crop कर दीजिये तो आपको मिल जायेगा 3840x2160 pixels जो है आपको वो मिल जायेंगे और आप ऐसे 4k record कर पाएंगे।


 तो आपको 4k के बारे में जो doubt या confusion थी वो समझ में आगये होंगे, अगर आपको और कुछ पूछना है तो आप इस article (4k kya hai_4K Technology Explained in Hindi) के नीचे comment करके पूछ सकते है और इस post (4k kya hai_4K Technology Explained in Hindi) को अपने friends के साथ facebook पर share कीजिये, आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद।

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment