Appendix – बीमारी जो किसी को भी हो सकती है | Appendix से बचने का 4 तरीका

Appendix एक बीमारी जिसमें पेट में अचानक से बहुत दर्द होता है और या फिर ज्यादातर केसेस में Operation करवाना ही लोगो की मज़बूरी हो जाती है।

इस बीमारी को Appendicitis के नाम से जाना जाता है, जोकि किसी को हो सकती है, लेकिन 10 साल से लेकर 30 साल के लोगो में ज्यादातर देखने को मिलती है।

गूगल करने से पता चलता है कि ये कॉमन प्रॉब्लम है जोकि सिर्फ हमारे देश भारत में हर साल लगभग 10 लाख लोग इस बीमारी के शिकार हो जाते हैं।

आज हम बात करेंगे कि –

  • ये बीमारी क्या और क्यों होती ?
  • ऑपरेशन करवाना सही है या गलत
  • इस बीमारी से कैसे बचें ?

दोस्तों ये एक ऐसी बीमारी जोकि किसी को हो सकता है, लेकिन अपनी गलतियों में सुधार करके आप उससे बच सकते हैं आज हम इसके बारे में जानेंगे, तो चलिए शुरू करते हैं –

Appendix क्या है ?, कैसे और क्यों ?

आपके शरीर में जहाँ छोटी आंत खत्म होकर बड़ी आंत शुरू होती है वही पर एक छोटा सा अंग होता है जिसे Appendix के नाम से जाना जाता है, ऐसे कहें तो ये अंग आपके पेट के नीचले हिस्से यानी नाभि से लगभग 2 इंच right side में मजूद होता है।

आज भी जब इस अंग में इन्फेक्शन होता है तो अक्सर ये डॉक्टर के पास जाने पर ज्यादातर डॉक्टर यही कहते कि Appendix एक ऐसा अंग है जिसका हमारे शरीर में कोई काम नहीं, अगर इसे काट कर शरीर से बाहर निकाल भी दिया जाये तब भी कोई फर्क नहीं पड़ता।

लेकिन ये बिलकुल भी सच नहीं है, दरअसल शुरुवात में की गयी कुछ साइंटिफिक स्टडी में साइंटिस्ट को ऐसा लगा कि ये शरीर का बेकार अंग है, जिसका शरीर में कोई काम नहीं होता, लेकिन अब हालही में की गयी कुछ साइंटिफिक स्टडी हमें बताती है कि Appendix हमारे शरीर का बेकार अंग बिलकुल भी नहीं है बल्कि ये अपने अंदर Good Bacteria को Store करने का काम करता है।

ये बिलकुल ऐसा है जैसे कि कभी गलती से आपका मोबाइल फॉर्मेट होने से सबकुछ delete हो जाता है, फिर अगर आपके पास किसी मेमोरी कार्ड में पहले से सब कुछ backup के तौर पे मजूद होता है, तो आप आसानी से मेमोरी कार्ड से सब कुछ अपने मोबाइल में फिर से ट्रांसफर कर लेते हैं, जिससे आपके मोबाइल में जो कुछ भी पहले था, वो आपको वापस मिल जाता है।

यही काम Appendix भी हमारे शरीर में करता है।

शायद आप जानते होंगे कि हमारी शरीर की बड़ी आंत में करोड़ो की तादात में अच्छे बैक्टीरिया मजूद होते हैं जोकि waste मटेरियल को ब्रेकडाउन करने और आपके पाचन तंत्र को ठीक तरह से काम करने में मदद करता है।

लेकिन अगर किसी को फ़ूड poisoning होती है तो diarrhea यानी दस्त होने की वजह से बड़ी आंत से गन्दगी के साथ साथ अच्छे बैक्टीरिया भी शरीर से बाहर निकल जाता है, अब यही पर appendix मेमोरी कार्ड की तरह बैकअप का काम करता है।

जो अच्छे बैक्टीरिया Appendix में पहले से जमा रहता है उसे बड़ी आंत में छोड़ दिया जाता है। जिससे हमारे पाचन तंत्र Normally पहले जैसा काम करने लगता है।

एक बात जो हम इंसानो को वक़्त रहते समझना चाहिए कि सिर्फ हमारा शरीर ही नहीं बल्कि इस पूरी दुनिया में भगवान ने एक भी ऐसी चीजें नहीं बनाई जिसका कोई काम ना हो, लेकिन हमारी समझ ही इतनी लिमिटेड है कि हम चाहा कर भी सब कुछ पूरा पूरा नहीं समझ सकते।

इसलिए हमें कभी भी अपने अक़्ल पर घमंड नहीं करना चाहिए, क्यूंकि कुदरत के आगे हमारी अक़्ल की कोई औकात नहीं।

Appendix में इन्फेक्शन कैसे और क्यों होता है?

दोस्तों जब कोई चीज appendix में फंस कर रास्ते को ब्लॉक कर देता है तो इसमें ब्लड का फ्लो रुक जाता है और बैक्टीरिया multiply होकर इन्फेक्शन पैदा कर देता है।

Appendix में जाकर उसे ब्लॉक करने वाली चीज आपके आंत में जमा होने वाला waste पदार्थ का टुकड़ा भी हो सकता है, या इसमें बुरे बैक्टीरिया के overgrowth होने से भी inflammation की प्रॉब्लम हो सकती है।

जब किसी को Appendix में inflammation की प्रॉब्लम होती है तो सबसे पहले बहुत ही तेज पेट दर्द देखने को मिलते हैं, जोकि नाभि के थोड़ा सा नीचे लगभग 2 inch right side में होता है।

फिर धीरे धीरे ये दर्द पेट के दूसरे हिस्से में भी बढ़ने लगता है, बाद में भूख ना लगना, उलटी और बुखार जैसे लक्षण भी देखने को मिलता है।

अगर इन्फेक्शन कम रहता है तो कई बार ये खुद भी ठीक हो जाता है, लेकिन अगर कंडीशन ज्यादा ख़राब होती तो इसे Surgery करवा कर निकालना ही ज्यादा बेहतर होता है। क्यूंकि इन्फेक्शन बहुत ज्यादा बढ़ने पर appendix फट भी सकता है, जिसे इन्फेक्शन पुरे शरीर में फैल सकता है।

ये अंग का हमारे शरीर में काम तो होता है, लेकिन बहुत ज्यादा काम नहीं होता, इसलिए इसे सर्जरी करके निकाल देने पर भी आगे चल कर कुछ खास प्रॉब्लम नहीं होती।

Appendicitis से कैसे बचे ?

अक्सर यही देखा गया है कि बड़ी आंत में जमा होने वाला waste material बहुत ज्यादा शख्त हो तो उसके कुछ टुकड़े भी appendix में फस कर उसे ब्लॉक कर देते हैं और इसे Appendicitis नाम से जाना जाता है।

इसलिए सबसे पहले तो आपको अपने बॉडी में Hydration maintain करने की कोशिश करना चाहिए। इसके लिए दिनभर में 8 से 10 गिलास पानी आपको जरूर पीना चाहिए। जिससे शरीर हाइड्रेट होने के साथ साथ बड़ी आंत में जमा होने वाला waste मटेरियल भी सॉफ्ट रहता है।

जिन लोगो के खाने में फाइबर की कमी होती है उनमें भी ये प्रॉब्लम देखने को मिल सकती है, इसलिए आपको अपनी खाने में फल और सब्जी जैसे high फाइबर फ़ूड को शामिल करना चाहिए।

ज्यादातर ऐसा भी होता है की जो लोग पिज़्ज़ा, बर्गर और इस तरह की मैदे और चीनी से बनी चीजों का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं उनमें भी ऐसी प्रॉब्लम देखने को मिलती है। क्यूंकि ये आपकी आँतों में ज्यादा समय के लिए रुकता है और बुरे बैक्टीरिया को जन्म देने लगता है, जोकि appendix में इन्फेक्शन का एक कारण बन सकता है।

हालाँकि हफ्ते या दो हफ्ते में एक-दो बार इस तरह की चीजों का इस्तेमाल करने से कोई प्रॉब्लम नहीं है।

आपको Regular कुछ न कुछ शारीरिक मेहनत का काम जरूर करना चाहिए, या आपको exercise जरूर करना चाहिए Daily. क्यूंकि इससे सिर्फ Appendix की प्रॉब्लम ही नहीं बल्कि बहुत सारी बीमारियां आपसे दूर रहती है।

Conclusion

दोस्तों ये आर्टिकल सिर्फ informational पर्पस के लिए ही है, अगर आपके पेट में rightside में दर्द हो रहा है और उसके साथ उलटी और बुखार हो रहा है, तो आप डॉक्टर के पास जरूर जाये।

और अगर आप ऊपर बताये गए 4 Points का ध्यान रखते हैं तो Appendix होने का chances बहुत ज्यादा कम हो जाता है।

दोस्तों आपको आज का यह Appendix के कारण, लक्षण और बचने का उपाय जानकर कैसा लगा ?

आपने आज क्या सीखा ?

अगर आपके मन में अब भी Appendix से रिलेटेड कोई सवाल है तो मुझे नीचे कमेंट में जरूर पूछ सकते हैं।

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

सम्बंधित लेख –

  1. कमर दर्द कारण, लक्षण, और आयुर्वेदिक उपचार
  2. गंजापन कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  3. जुकाम के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  4. कब्ज का कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  5. सर्दी और कफ के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  6. डार्क सर्कल के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  7. डीहाइड्रेशन क्या है, कारण, लक्षण, और आयुर्वेदिक उपचार
  8. Cycle चलाने के फायदे
  9. Cow Milk VS Buffalo Milk – कौन सा दूध बेहतर है ?
  10. सुखी खांसी का इलाज

Leave a Comment