Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमाता है इंडिया में ?

Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमा लेता है इंडिया में ? – Hello दोस्तों, आज मैं आपको बताऊंगा की इंडिया में ऑटो वाले कितना कमा लेते हैं। और आपको बताऊंगा की आप ऑटो रिक्शा की बिज़नेस कैसे कर सकते हैं।

क्या आपको पता है एक रिसर्च से पता चला है इंडिया में जब भी लोग ऑटो वाले के बिलकुल पास में बैठा होता है तो वे एक सवाल जरूर पूछता है की “भईया आप एक दिन में कितना कमा लेते हो ?”

और ऑटो वाले जो जवाब देता है या मोटा-मोटी उनकी एक दिन या एक महीने में कमा लेते हैं वो आप इस पोस्ट के जरिये पता लगा सकेंगे। और आज हम ये बात भी करेंगे की एक ऑटो वाला कहाँ कहाँ से अपना इनकम करता है, कैसे कैसे वो इनकम करता है वो जान पाएंगे आप।

तो चलिए शुरू करते हैं –

 

Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमा लेता है इंडिया में ?

 

ऑटो वाला कितने तरीके से पैसा कमाता है ?

मैं आपको बता दूँ की एक ऑटो वाला नॉर्मली 4 तरीके से पैसा कमाता है।

 

 

पहला – खुद का ऑटो खुद चलाना

 

जिनके पास खुद का ऑटो है मतलब खुद के पैसों से खरीद ने वाले, तो अगर वो सुबह 8 बजे से लेकर रात 8 बजे तक पूरा 12 घंटा ऑटो चलाता है तो वो Festival सीजन में खास कर दुर्गा पूजा के टाइम एक दिन में 3000 तक कमाता है।

और नार्मल days की बात करें तो 12 घंटे के हिसाब से 500 से 1500 रूपए तक कमा लेते हैं। ये डिपेंड करता है की उस ऑटो स्टैंड में कितने ऑटो वाले हैं और उनको दिन का कितना ट्रिप चलना होता है।

और अगर वो किसी ऑटो स्टैंड पर नहीं ठहरते तो उनको किसी दिन बहुत ज्यादा भाड़ा मिलता है तो किसी दिन कम। लेकिन एक दिन लगभग 600-1000 रूपए हर ऑटो वाला कमा ही लेता है।

अब इनमें अगर उनको भाड़ा ज्यादा मतलब 1000 से 1500 रूपए तक कमाई होता है तो इनमें से मैक्सिमम 500 रूपए तक उनका maintenance का खर्चा होता है, तो इस हिसाब से उनको लगभग 500 – 1000 तक की कमाई यानी लाभ हो जाता है।

और इस हिसाब से वो महीने का कमसे कम 500 х 20 = 10,000 रूपए का लाभ होता है। और ज्यादा से ज्यादा 1500 х 20 = 30,000 (इसमें कभी कम कभी ज्यादा होता है) तक की कमाई हो सकता है।

मैंने 20 दिन इसलिए लिया क्यूंकि कोई भी ऑटो वाला 30 दिन ऑटो नहीं चलाता है।

 

 

दूसरा – रेंट में चलाने वाले

 

अब बात करते हैं जो किसी मालिक से ऑटो रेंट में लेके वो चलाता है तो वो कितना कमा लेते हैं ?

इसमें जो ऑटो का मालिक होता है वो अपने ऑटो को दोनों शिफ्ट में यूज़ करवाता है। मतलब दिन में भी रात में भी और हर शिफ्ट में ड्राइवर को ऑटो मालिक को 300 रूपए देना होता है, मतलब दो शिफ्ट के 600 रूपए मिल जाता है।

और महीने के हिसाब से देखे तो 18,000 रूपए। इसमें सारा मेंटेनेंस मालिक का ही होता है।

और ड्राइवर की इनकम की बात करे तो एक दिन में ज्यादा से ज्यादा 12 घंटा तो ऑटो चला ही लेता है, तो 600 – 1500 रूपए तक कमाई होता है और इनमें से 300 रूपए अपने मालिक को देना होता है, उनके पास 300-1000 रूपए तक बचता है तो उनमे से भी खाना-पानी में कुछ खर्चा होता है और महीने का लगभग 6,000 – 20,000 तक कमाई हो जाता है।

और ये डिपेंड करता है रूरल और सिटी के हिसाब से। रूरल में इनकम कम होता है।

ये इनकम Approx. है, क्यूंकि किसी दिन ज्यादा इनकम होता है तो किसी दिन कम।

 

 

तीसरा – ऑनलाइन Cabs सर्विस में रजिस्टर करने वाले

 

अब बात करते हैं अगर ऑटो ऑनलाइन प्लेटफार्म में लगा होता है, ओला, उबेर, etc. जैसी app में तो उनकी कितनी इनकम होती है ?

ये इनकम बाकि दो तरीकेसे बहुत अलग है क्यूंकि ये इनकम टोटली डिपेंड करता है की ये किस तरह गाड़ी है, जैसे स्माल, मध्यम या लक्सेरी कार।

तो एक ऑटो वाले की इनकम एक कार वाले से तो कम होगी ही।

इन ऍप्स में ऑटो वालो को टारगेट दिया जाता है की उनको 18-20 कस्टमर्स सक्सेस्फुली पिकउप और ड्राप करना होता है।

इस टारगेट को पूरा करने के लिए उन ड्राइवर को लगभग 15 घंटे ऑटो चलाना पड़ता है, जो की बहुत ज्यादा मुश्किल है।

उनके इनकम की बात करें तो एक ड्राइवर की इनकम एक दिन में 2000 रूपए के आसपास होता और महीने के हिसाब से 60,000 रूपए तक इनकम हो जाता है और उसमें से 6000 से 8000 तक फ्यूल और मेंटेनेंस का खर्चा भी उठाना पड़ता है और कुछ परसेंट कमिशन apps वालों को भी देना होता है।

जो इसमें एक महीने लगभग 30,000 – 40,000 तक कमाई हो जाता है।

 

 

चौथा तरीका – बुकिंग सिस्टम

 

इसमें पहले ही ऑटो को बुकिंग कर लिया जाता है स्कूल के बच्चो के लिए या जॉब वालो के लिए।

इसमें ऑटो वाले की रोज के इनकम फिक्स्ड होती है और इसमें ज्यादा मेहनत भी नहीं होती है।

लेकिन ऑटो वाला इसमें जब चाहे छुट्टी ले नहीं सकता क्यूंकि उनके पास अब बहुत बड़ा जिम्मेदारी होता है की स्कूल के बच्चे को टाइम पर स्कूल पहुँचाना होता है या जॉब वालो को अपने ऑफिस में टाइम पर पहुँचाना होता है।

तो इसमें कमाई की बात करें एक ऑटो रिक्शा में एक साथ 6-8 बच्चे जा सकते हैं तो उनके महीने का चार्ज करते हैं 1000-3000 रूपए तक तो 6 बच्चे का टोटल 6,000 – 18,000 रूपए तक होता है।

और अगर बड़े टेम्पू की बात करें तो उसमें लगभग 10 से 12 बच्चे ले जाते हैं, तो 10 बच्चे के हिसाब से महीने का 10,000 से 30,000 तक कमाई हो जाता है।

और इसमें वो ड्राइवर बच्चो को स्कूल छोड़ने के बाद या लोगों को ऑफिस में छोड़ने के बाद दिनभर तो बहुत टाइम मिलता है तो वे भाड़ा चलाके हर दिन लगभग 400 – 1000 रूपए कमा लेता है।

तो इनके हिसाब से कमसे कम 10000 + 400 х 20 = 18,000 कमा ही लेता है।

तो इन सारे तरीके से आपको पता लग गया होगा की चाहे रेंट में ऑटो ले और या खुद का ऑटो होता है तो महीने का इनकम लगभग आसपास में होता है।

लेकिन ऑटो करियर में एक प्रॉब्लम ये है की इसमें इनकम लगभग एक लेवल तक ही ग्रो हो पाता है, जैसे की एक नार्मल ऑटो वाला एक दिन में ज्यादा से ज्यादा 1000 से 1500 रूपए तक ही कमा पाता है।

और उतने ही इनकम में पूरी लाइफ और अपनी फॅमिली को चलाना होता है।

तो उनकी मेहनत को सलाम।

वो ना होता तो करोड़ो लोगों को प्रॉब्लम होता इंडिया में। मैं दूसरी कंट्री के बारे में नहीं जानता ? क्यूंकि मैं इंडिया में पला बढ़ा हूँ तो इंडिया के बारे में बहुत ज्यादा नॉलेज रखता हूँ।

रिसर्च से पता चला की एशिया और अफ्रीका में तो ऑटो ड्राइवर लगभग उतना ही कमाता है, लेकिन यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका में तो एशिया और अफ्रीका के मुकाबले 10 गुना ज्यादा इनकम होता है।

 

 

My Ideas

 

अब आपको पता चल गया की एक ऑटो वाला कितने तरीकेसे कमाता है। तो आपको क्या क्या करना है मैं उसको पॉइंट्स में बता रहा हूँ –

  • सबसे पहले आपके कमसे कम 2.5 लाख रूपए होना चाहिए।
  • या फिर आप 50 हज़ार रूपए देकर EMI पे भी ऑटो खरीद सकते हो।
  • पहले आपको अपने आसपास के कुछ जान पहचान वाले को पूछना है की क्या आप उनको एक ऑटो खरीद देने से वो भाड़ा में चलाएगा।
  • अगर कोई एक इंसान चलाने को राजी हो गए तो उसको एक ऑटो खरीदके दे दीजिये और डेली का उनसे एक चार्ज कीजिये की तुम्हें मुझे 300 रूपए डेली का देना पड़ेगा।
  • ये डील हो जाने के बाद उनसे जो आपको डेली का 300 मिलता है तो आपको कमसे कम 20 Days × 300 Rs = 6000 मिलेगा।
  • या फिर पहले आप खुद भी चला सकते हो।
  • हर जो मिलता है जैसे मान लीजिये आपको हर दिन 600 रूपए मिलता है, तो उसका आधा मतलब 300 रूपए आप जमा कर जाओ।
  • कमसे कम अगर 20 days × 300 = 6000 जमा करते है तो एक साल में 12 months × 6000 Rs = 72000 रूपए जमा हो जायेंगे और आप 72000 देके फिर से EMI पर और एक ऑटो ले सकते और किसी जान पहचान वाले को दे सकते हैं।
  • ऐसे 5 साल में आपके पास सिर्फ 5 ऑटो नहीं होंगे, बल्कि पहले साल में 1 ऑटो आपके पास है तो उनसे जो कमाई हो रही है वो 72000 और नए साल मतलब जनवरी में 2 ऑटो और 2 के बाद अगले साल आपकी जमा पूंजी होंगी – एक ऑटो 72000 + एक ऑटो 72000 = 1,44,000, तो आप और 2 ऑटो एक साथ खरीद सकेंगे 2 साल के अंदर।
  • मतलब 2 साल में आपके पास 4 ऑटो आ चूका है उसके बाद आप कैलकुलेट कर लो।
  • ऐसे करके आपके पास अगर 5 साल में कमसे कम 10 ऑटो भी आ जाये तो आप उससे कितना कमा सकते हो उसकी कोई हद नहीं है।
  • स्टार्टिंग में बस आपके पास मैक्सिमम 50,000 रूपए होना चाहिए।
  • अगर आपके पास पैसा नहीं है तो आप अपने आसपास के किसी से ऑटो को रेंट पे ले सकते हो।
  • अगर वो भी नहीं कर सकता तो आप एक ऑटो की सर्विस दे सकते हो, उसके लिए आपको एक लैंडिंग पेज बनाना है एक अच्छी डोमेन नाम (Like – autorickshawonline.com, autorickshawbookingonline.com etc.) के साथ और उसमें कुछ Local ऑटो rickshaw वाले के फ़ोन नंबर को add कर दो, उसके बाद उस पेज को फेसबुक में एडवरटाइजिंग करो।
  • इसमें आपको कमाई कैसे होगी – पहले आप ऑटो वाले पास जाओगे और उनको कहोगे मैं आपको कस्टमर दूंगा और हर कस्टमर के बदले आप मुझे 10 रूपए देंगे।
  • शुरू में कमसे कम रखिये चार्ज।
  • या फिर आप ये भी कर सकते हैं की आपने जो लैंडिंग पेज बनाया है उसमें सिर्फ आपका नंबर दीजिये, लेकिन आप अलग अलग ऑटो ड्राइवर का कांटेक्ट नंबर लेके रखिये उसके बाद जैसे ही कस्टमर आपको कॉल करें या मैसेज करें वैसे ही कस्टमर से उनका एड्रेस लेके किसी एक ऑटो को वहां भेज दें।
  • ये काम पहले आपको मैन्युअली कीजिये जब धीरे धीरे आपके पास पैसा आता जायेगा वैसे ही आप इसे सॉफ्टवेर के थ्रू ऑटोमेट कर सकते हैं।
  • और इस दूसरे आईडिया से भी इस बिज़नेस को कितने आगे ले जा सकते हैं उसकी कोई हद नहीं।
  • इसके लिए आप को डिजिटल मार्केटिंग सीखना पड़ेगा।

 

Recommended Best Business Learning Books –

 

 

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों आपको क्या लगता है, की एक ऑटो वाला कितना कमाता है ? और क्या आप भी कमा सकते हैं ?

आपको आज का यह पोस्ट “Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमा लेता है इंडिया में ?” कैसा लगा ?

आपका कोई भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

इस पोस्ट “Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमा लेता है इंडिया में ?” को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

 

सम्बंधित लेख –

  1. 31 स्माल बिज़नेस जिसको कम इन्वेस्टमेंट से शुरू कर सकते हैं – Business Ideas in Hindi
  2. How to Start a Business with No Money? By Sandeep Maheshwari Motivational Video in Hindi
  3. Business Tips in Hindi – 10 Best Business Formula for Startups
  4. नेटवर्क मार्केटिंग क्या है? – What is Network Marketing in Hindi
  5. लोगों के प्रॉब्लम से बिज़नेस आईडिया कैसे ढूँढना है? – How to Find Business Ideas in Hindi?
  6. 10,000 रूपए में शुरुवात किये जाने वाला Business Ideas in Hindi
  7. नमकीन मूंगफली का बिज़नेस कैसे शुरू करे ? How to Start Salted Peanuts Making Business?
  8. आइस क्रीम का बिज़नेस कैसे शुरू करे ? How to Start Ice Cream Making Business?
  9. आटा चक्की का बिज़नेस कैसे शुरू करें ? How to Start Flour Mill Business?
  10. मसाला चना का बिज़नेस कैसे शुरू करें ? How to Start Masala Chana Making Business?
  11. माचिस बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करे ? How to Start Match Box Making Business?
  12. दलिया बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें? How to Start Dalia Making Business?
  13. मिनी फ्लौर मील का बिज़नेस कैसे शुरू करे ? How to Start Mini Flour Mill Business?
  14. बेसन का बिज़नेस कैसे शुरू करें ? How to Start Besan Manufacturing Business?
  15. दाल मिल का बिज़नेस कैसे शुरू करे ? How to Dal Mill Processing Business?

2 thoughts on “Auto Rickshaw Business Ideas in Hindi in India | ऑटो वाले कितना कमाता है इंडिया में ?”

Leave a Comment