Cycle चलाने के फायदे | 16 Cycling Health Benefits

Cycle चलाने के फायदे – Hello दोस्तों, आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि आप साइकिल चलाने के बारे में भूल जाएं। बेशक, बहुत-से ऐसे scenarios होते हैं जहाँ केवल कार ही काम आती है, लेकिन इसके अलावा आपको हर जगह साइकिल का इस्तेमाल करना चाहिए। क्यूंकि जो health benefits साइकिल चलाने से मिलते हैं, वो कार या बाइक से कभी नहीं मिलते।

आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे की साइकिल चलाने से हमें कितना ज्यादा हेल्थ बेनिफिट्स मिलते हैं, तो बिना देरी के चलिए शुरू करते हैं –

 

Cycle चलाने के फायदे

 

क्या आप जानते हैं कि साइकिल चलाए जानेवाले रास्तों की कोई सीमा नहीं होती, उसी तरह साइकिल के हेल्थ बेनिफिट्स भी असीमित होते हैं, और कोई अन्य खेल खेलकर नहीं मिलते।

साइकिल चलाने से ना केवल आपकी शारीरिक और मानसिक सेहत boost होती है, बल्कि जिंदगीभर के मजे देनेवाला यह एक सबसे सस्ता, सबसे accessible और सबसे आसान तरीका है।

तो आज हम साइकिल चलाने का हेल्थ बेनिफिट्स जैसे की Enhanced Muscles से लेकर, लचीलापन बढ़ना, लंबी उम्र, आत्मविश्वास boost होना और mood सुधरने तक हम सभी चीजों के बारे में बात करेंगे।

 

 

Improves Mood

 

तो साइकिल चलाने से हमारा मूड बहुत सुधरता है।

आपके धड़कन बढ़ाने वाली एक्टिविटीज डोपामिन नामक एनर्जी बूस्टिंग हॉर्मोन्स पैदा करती है।

साइकिल के एक अच्छी सैर के बाद ये डोपामिन आपके मूड और एनर्जी लेवल्स बढ़ता है।

अगर काम करने के दौरान दोपहर में आपको सुस्ती महसूस होती है तो लंच ब्रेक के दौरान क्विक राइड में जाने से आपको enerzize और फोकस्ड रहने में बहुत ज्यादा मदद मिलती है।

 

 

Weight Loss without Extreme Diet

 

पुरे शरीर से फैट और वजन घटाने के लिए एक बहुत जबरदस्त एक्सरसाइज है cycling.

यही वजह है की प्रो बाइक राइडर इतने दुबले-पतले होते हैं।

केवल एक घंटा साइकिल चलाने से लगभग 1000 कैलोरीज बर्न हो जाती है।

ये आपकी चलाने की इंटेंसिटी के ऊपर डिपेंड करता है।

refuling कभी भी इतनी मजेदार जितनी कैलोरीज राइड में बर्न होती है, राइड के बाद उनमें से कुछ चीजों की आपको जरुरत पड़ती है, कैलोरीज वापस पाने के लिए गिल्ट फ्री होकर खाये और एनर्जी लेवल्स वापस से बढ़ आये।

दरअसल आपके मेटाबोलिज्म को overdrive में पेडल करने के एक घंटे के अंदर भीतर ही आप कैलोरीज हासिल करने से ज्यादा तेजी से उन्हें घटा सकते हैं।

उस वेट को शिफ्ट करने के लिए आपको किसी heavily structured workout की जरुरत नहीं है।

आप अपने काम या Gym में आने जाने के लिए कार की बजाये साइकिल का इस्तेमाल करें, इससे आपकी overall फिटनेस और weight loss को बहुत फायदा होगा।

दरअसल ये साबित हुआ है कि साइकिल से आना जाना वजन घटाने के सबसे प्रभावी तरीकों में शामिल है।

एक स्टडी से पता चला है कि जो लोग कार से साइकिल पर आ गए, उन्होंने रोजाना आधा-आधा घंटा साइकिल चलाकर एक साल में लगभग 7 किलो वजन घटाया।

 

 

Improves Heart Health

 

साइकिल चलाकर दिल की धड़कन बढ़ाकर आपके दिल की मसल्स मजबूत होती है, इससे स्ट्रोक, हाई ब्लड प्रेशर और दिल के दौड़े जैसी दिल के कई बीमारियां होने का खतरा भी बहुत कम हो जाता है।

साथ ही सेडेंटरी लाइफस्टाइल जीने वालो की तुलना में जो साइकिल चलाने जैसी फिजिकल एक्टिविटीज में हिस्सा लेते हैं उनके दिल की हेल्थ में काफी सुधार देखने को मिलता है।

हालाँकि हम ब्लड प्रेशर की दवाइयाँ छोड़ने की सलाह नहीं देंगे, लेकिन ऐसा मानना है की अपने डेली लाइफ में cycling को शामिल आपके ब्लड प्रेशर पर पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है।

 

 

Releasing Anxiety & Stress

 

Cycling का एक बहुत ही मेन्टल हेल्थ बेनिफिट्स है एंग्जायटी और स्ट्रेस से राहत मिलना।

साइकिल चलाने से बॉडी का Cortisol और Adrenaline levels का संतुलन बनता है। जब इन दोनों के बीच का उचित संतुलन बैठ जाता है तो हमारे स्ट्रेस लेवल बहुत ही कम हो जाता है।

ये स्ट्रेस से डील करने का सबसे बेहतरीन तरीका है। ये Calming एक्टिविटी आपके दिमाग को और ब्रीथिंग और पैडलिंग पर फोकस कराती है।

ये दोनों प्राइम फोकस बन जाने पर आपका फोकस एंग्जायटी और स्ट्रेस से हट जाता है।

 

 

Slower Aging

 

Researcher के अनुसार हाई इंटेंसिटी cycling और अन्य हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग से सेलुलर लेवल पर बड़े Anti-aging बेनिफिट्स होते हैं।

इस स्टडी से पता चला है की High इंटेंसिटी exercises करने वाले लोगों की Mitochondrial कैपेसिटी में बढ़ोतरी हुई।

mitrochondria बढ़ने से फिजिकल declined होता है तो आपका mitrochondria जितने अच्छे से काम करेगा, आप उतने ही ज्यादा rejuvenated होंगे सेलुलर लेवल तक।

 

 

Enhances Muscles

 

साइकिल चलाने से केवल पेरो की मसल्स नहीं बनती, बल्कि ये कम्पलीट बॉडी एक्सरसाइजेज है।

साइकिल पर संतुलित और उपस्टेण्डिंग होने से आपकी पेट की मसल्स, बाहों और कधों की मसल्स बहुत स्ट्रांग हो जाते हैं।

 

 

Increases Flexibility

 

लचीलापन फिट रहने और चोट के खतरे को कम करने के सबसे जरुरी पहलुओं में से एक है।

अगर आपको शरीर का निचला हिस्सा कड़क महसूस होता है तो cycling आपके लिए सबसे अच्छा ऑप्शन है।

लचीलेपन से ना केवल आप हल्का महसूस करेंगे, बल्कि इससे आपका पोस्चर और संतुलन भी सुधरेगा।

 

 

Boosts Your Confidence

 

आपको ये अजीब लग सकता है, लेकिन साइकिल चलाने से सेल्फ-कॉन्फिडेंस बूस्ट होता है।

cycling के वक़्त आपका शरीर सेरोटोनिन, मूड न्यूरो ट्रांसमीटर छोड़ता है, इससे आपको फिजिकली और इमोशनली Stable और Confident रहने में मदद मिलती है।

साइकिल चलाने से Positivity, Self-Esteem और सेल्फ-कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है।

इसके अलाबा आपको पर्फेक्ट्ली शेप्ड शरीर मिलता है, जो महत्वपूर्ण सेल्फ-कॉन्फिडेंस बूस्टर है।

 

 

Joints

 

जब आप साइकिल पर बैठते हैं तो अपना वजन पेल्विस की हड्डीओं पर डालते हैं, बल्कि जब चलते हैं या दौरते हैं तो वजन आपके पैरों, घुटनो और पंजों पर पड़ता है।

घुटनों के दर्द और ऑस्टिओ ओर्थोराईटीज़ से पीड़ित बुजुर्ग लोगों में भी साइकिल चलाने के बाद सुधार दिखाई दिया है।

ये शरीर पर आसान होता है लेकिन फिर भी कारगर साबित होता है।

इससे पोस्चर और कोआर्डिनेशन दोनों सुधरते हैं।

 

 

Improves Brain Power

 

स्टडीज बताती हैं की क्यूँ साइकिल चलाने के बाद हमारे मेन्टल स्किल्स सुधरती है।

इसका जवाब हमारे दिमाग के वाइट मेटर से है।

आपने ग्रे मेटर के बारे में सुना होगा, लेकिन वाइट मेटर दिमाग के सतह के नीचे पाया जाता है और conduit की तरह काम करता है।

ये cerebral subway सिस्टम की तरह दिमाग के अलग अलग रीज़नस को जोड़ता है।

6 महीने के पीरियड में की गयी स्टडी के साबुत बताते हैं की जो सेहतमंद लोग नियमित तौर साइकिल चलाते हैं उनकी वाइट मेटर की इंटीग्रिटी बढ़ती है, जिससे उनका दिमाग सही तरीकेसे काम करता है।

 

 

Reduces Cancer Risk

 

साइकिल चलाने जैसी फिजिकल एक्टिविटीज को अपनाने से कैंसर जैसी बीमारियां होने की घटनाओं में काफी कमी आ सकती है।

स्टडीज बताती है की जो लोग शुरुवाती और मध्यम उम्र में cycling जैसी मॉडरेट से हाई फिजिकल एक्टिविटीज अपनाते हैं, उनमें कैंसर होने का खतरा उन लोगों से बहुत कम है जो कोई भी फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते।

एक और स्टडी ने आने जाने के लिए साइकिल और कैंसर के बीच की जाँच करते हुए ये कहा कि इसको कैंसर के कम खतरे से जोड़ा जा सकता है।

 

 

 

 

Better Sleep Quality

 

हर किसी को एक्स्ट्रा नींद चाहिए होती है। एक स्टडी में researcher ने इंसोम्निया के मरीजों को हर दूसरे दिन 20-30 मिनिटों के लिए साइकिल चलाने के लिए कहा।

नतीजतन इन्सोमनिएक्स का नींद लगने का वक़्त घट कर आधा और सोने का वक़्त एक घंटे से बढ़ गया।

बाहर excersice करने से सूरज की रौशनी मिलती है। इससे circadian rhythm वापस sync में आता है और शरीर को कोर्टिसोल से छुटकारा मिलता है।

यही स्ट्रेस हॉर्मोन (कोर्टिसोल) हमें गहरी नींद आने से रोकता है।

 

 

Boosts Your Immune System

 

Cycling की मदद से आपका इम्यून सिस्टम वायरस से लड़ता है। आपके शरीर के इम्यून सेल्स के लिए थाइमस ऑर्गन्स जिम्मेदार है।

20 साल की उम्र से थाइमस सिकुड़ता है और हर साल आपका इम्यून सिस्टम 2-3% से घटता है।

मध्यम उम्र तक थाइमस अपने अधिकतम आकार से 15% कम हो जाता है, ताकि शरीर उन एंटीबॉडीज पर निर्भर करे जो उसने इतने सालों तक वायरस से लड़कर हासिल की है।

80 साल के 125 लॉन्ग डिस्टेंस साइकिलिस्ट की स्टडीज से पता चला की उनके इम्यून सिस्टम मजबूत थे, क्यूंकि उनमें 20 साल के उम्र जितने इम्यून cells निर्माण हो रहे थे।

cycling जैसे फिजिकल एक्टिविटी से शरीर को फेफड़ों से बैक्टेरिया निकालने में मदद मिलती है, जिससे फ्लू या सर्दी होने की संभावना बहुत कम हो जाती है।

Excersice के दौरान शरीर का तापमान बढ़कर बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है और शरीर के होने वाली किसी भी इन्फेक्शन से लड़ता है।

 

 

Gives You a Longer Life

 

Tour day फ्रांस राइडर्स की एक स्टडी के अनुसार साइकिल चलाने से राइडर की उम्र बढ़ती है।

सामान्य लोग लगभग 73-74 साल तक जीती है, लेकिन उनकी तुलना में राइडर्स की उम्र लगभग 81.5 साल होती है।

यानी सामान्य लोगों के मुकाबले 17% ज्यादा जीते हैं।

एक और स्टडी के अनुसार साधारण साइकिल चलाने वालों को भी फायदा होता है, कार से साइकिल में शिफ्ट होने वालों में साइकिल से आने जाने के संभावित downsides की तुलना उनकी उम्र में 3-14 महीने बढ़ गए थे।

एक और स्टडी बताते हैं कि हफ्ते में केवल 60 मिनट साइकिल चलाने से जल्दी मृत्यु होने का खतरा 23% कम होता है।

केवल cycling ही नहीं कई खाद्य पदार्थ भी हैं, जिनसे लंबी उम्र मिलने में मदद होती है।

 

 

Better Balance & Coordination

 

साइकिल चलाने से आपका संतुलन और coordinations सुधरता है, इन गुणों से बॉडी awareness और रिएक्शन टाइम जैसे पहलुओं में मदद मिलती है।

इससे सड़क पर गिरकर लगने वाली गंभीर चोटों से बचाव होता है।

 

 

Reduces Back Pain

 

साइकिल चलते वक़्त पोस्चर ऑप्टिमम होता है और पैरों के cyclic मूवमेंट से lower बैक की मसल्स स्टिमुलेट होती है, यही पर स्लीप डिस्क की प्रॉब्लम होती है।

इस तरीकेसे आपकी रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है और बाहरी स्ट्रेस से सुरक्षा मिलती है।

Cycling आपकी रीढ़ की हड्डी की छोटी मसल्स को स्टिमुलेट करती है, जो किसी और exercise के जरिये होना मुश्किल है।

इससे पीठ दर्द और रीढ़ की हड्डी की अन्य समस्याएं कम होती हैं।

 

 

Conclusion

 

क्या आप हर दिन साइकिल चलाते हैं ?

क्या आपके Cardio Routine में cycling भी है ? अगर नहीं है तो आज से ही शामिल कर लीजिये।

क्यूंकि आपने खुद पढ़ा है की साइकिल चलाने से कितना ज्यादा फायदा होता है !

क्या आपको इसका इतना कुछ फायदा पहले पता था ?

उम्मीद करता हूँ आपको आज का हमारा यह cycle चलाने के फायदे जानकर बहुत अच्छा लगा होगा!

क्या आपने कार या बाइक के अलावा आज तक कभी भी साइकिल नहीं चलाया ?

अगर आपके मन में कुछ भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

 

सम्बंधित लेख –

  1. भारतीय सुपरफूड घी के फायदे – Health Tips in Hindi
  2. एक्युप्रेशर VS एक्युपंचर: Acupressure और Acupuncture में क्या अंतर है ?
  3. How to Increase Immunity in Hindi : तेजी से इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग कैसे बनाये ?
  4. CORONAVIRUS (COVID-19) से आप कैसे बच सकते हैं (Hindi)
  5. 99% बीमारी (Disease) ठीक करने के लिए करें ये 20 आसान उपाय
  6. त्रिफला के फायदे – 114 Benefits, Uses and Side Effects
  7. Best Beauty Tips in Hindi – बेदाग और निखरी त्वचा केवल 1 महीने में (Powerful घरेलु नुस्खे)
  8. शरीर के किसी भी दर्द को ठीक करने की एक Powerful आयुर्वेदिक औषधि – Best Health Tips in Hindi
  9. Health Tips in Hindi – एक हफ्ते में फेफड़ो को साफ करके धूम्रपान के प्रभाव को खत्म कैसे करें
  10. वजन घटाने के तरीके – Fast Weight Loss Tips in Hindi with Agnimantha Ayurvedic Medicine
  11. Body को Detox कैसे करें – Simple Step-by-Step Body Detox Tips
  12. स्वस्थ रहने के लिए दिनचर्या कैसा होना चाहिए
  13. पानी पीने का सही तरीका
  14. Early Symptoms of Cancer in Hindi
  15. Best Tips to Lose 10 Kg’s in only 1 month
  16. Calcium Deficiency Symptoms in Hindi – क्या ये 10 लक्षण आपके बॉडी में भी है ?
  17. स्वस्थ रहने के 70 बेस्ट टिप्स
  18. स्वस्थ रहने के 63 नियम
  19. एसिडिटी का कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक इलाज
  20. Anemia Symptoms and Treatment | एनीमिया क्या है, लक्षण, और आयुर्वेदिक उपचार
  21. एलर्जी क्या है, कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  22. कमर दर्द कारण, लक्षण, और आयुर्वेदिक उपचार
  23. गंजापन कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  24. जुकाम के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  25. कब्ज का कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  26. सर्दी और कफ के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  27. डार्क सर्कल के कारण, लक्षण और आयुर्वेदिक उपचार
  28. डीहाइड्रेशन क्या है, कारण, लक्षण, और आयुर्वेदिक उपचार

2 thoughts on “Cycle चलाने के फायदे | 16 Cycling Health Benefits”

Leave a Comment