Haunted Hotel Horror Story in Hindi | हॉन्टेड होटल की सच्ची भूतिया कहानी

Haunted Hotel Horror Story in Hindi – Hello दोस्तों, आज हमने आपके लिए फिर से एक बहुत ही डरावनी और सच्ची कहानी लेके आया हूँ, जो कहानी एक होटल की है।

तो अगर आपको जानना है कि उस हॉन्टेड होटल में 6th फ्लोर में ऐसा क्या हुआ था, जानने के लिए ये स्टोरी आगे पढ़ते रहे। तो चलिए शुरू करते हैं –

 

Haunted Hotel Horror Story in Hindi

 

ये कहानी है Mr. Ramesh की।

उनकी कहानी उनकी जुबानी –

कुछ साल पहले मुझे बंगाल के एक छोटे से शहर में फैक्ट्री इंस्पेक्शन के लिए जाना पड़ा।

जहाँ काम खत्म होते होते मुझे काफी लेट हो गया था।

इसलिए मैं उस फैक्ट्री के पास वाली होटल में जाके ठहर गया।

जब मैं पहुंचा तो रिसेप्शनिस्ट ने मुझे बताया कि सारे रूम्स फुल हो चुके हैं।

काफी रात हो चुकी थी और बाहर बहुत ज्यादा ठण्ड थी।

इतनी देर रात मैं कहाँ जाता, मैंने रिसेप्शनिस्ट से बहुत रिक्वेस्ट करी और मेरी लाख मिन्नतों के बाद उसने 6th फ्लोर पर एक रूम दे दिया।

लेकिन रूम में जाते जाते उसने मुझसे एक बात बोली जिसे सुनकर मुझे थोड़ा अजीब लगा।

उन्होंने बोला कि आप अपना रूम 12 बजे के बाद बिलकुल मत खोलियेगा।

मैंने उस बात पर ज्यादा गौर नहीं किया और उसे पानी की बोतल भिजवाने के लिए बोलकर मैं अपना रूम चला गया।

मैं इतना थका हुआ था कि मुझे कब नींद आयी, मुझे पता ही नहीं चला।

मैं सो ही रहा था कि मेरे रूम पर धक्-धक् हुई।

मुझे लगा कि फाइनली पानी की बोतल आ गयी।

मैंने उठके देखा तो कमरे में एकदम अँधेरा था और शायद होटल की लाइट भी चली गयी थी।

जब मैंने दरवाजा खोला तब मैं नींद में ही था, तो मैं नींद पर ही था, तब मैंने टाइम पर ध्यान नहीं दिया।

दरवाजे पर एक आदमी था, जिसका पूरा मुंह एक सफ़ेद shawl से ढका हुआ था।

उसके एक हाथ में लालटेन थी और दूसरे हाथ में पानी की बोतल।

जैसे ही मैं पानी की बोतल लेने के लिए आगे बढ़ा, वो आदमी थोड़ा पीछे हो गया और होटल की बालकनी की तरफ चलने लगा, मैं उस पर चिल्लाते हुए आगे बढ़ा।

लेकिन वो मेरी बात ही नहीं सुन रहा था।

मुझे गुस्सा आ गया और मैंने उस आदमी का हाथ पकड़ लिया, वो एक पल के रुका और पीछे मुड़ा।

और जैसे ही मैंने उसे पानी छीनने की कोशिश करी, वो आदमी मेरे ऊपर जोड़ से चिल्लाया और उसकी शाल उसकी मुंह से हट गयी।

मैंने जो देखा वो देख कर मैं हक्का-बक्का रह गया!

उस आदमी की आँखें नहीं थी, सर ऊपर से खुला हुआ था और पूरा चेहरा जला पड़ा था।

मैं एकदम से बहुत ज्यादा घबरा गया और तुरंत अपने कमरे की ओर वापस भागा।

मैंने देखा की घडी में 1:30 AM बज रहा है और तब मुझे उस रिसेप्शनिस्ट की बात याद आयी।

तभी मेरे रूम में वापस धक्-धक् हुई और मैंने इस बार दरवाजा नहीं खोला और रिसेप्शन पर कॉल लगाया, रिंग बजती रही, लेकिन किसी ने भी फ़ोन नहीं उठाया।

मैं सारी रात दरवाजे पर धक्-धक् की आवाज से बहुत ज्यादा दर गया था।

और सुबह सूरज निकलते ही मैंने रिसेप्शनिस्ट के पास जाकर उसे खूब डांटा।

तब उस रिसेप्शनिस्ट ने मुझे बताया कि “कुछ साल पहले रात के 12 बजे के बाद उस होटल के 6th फ्लोर पर एक आदमी ने खुद को जलाकर सुसाइड की थी।

उसके बाद से उस आदमी की आत्मा उसी फ्लोर पर भटकती है और उस रूम में रुकने वाले लोगों में से कुछ लोग 6th फ्लोर की बालकनी से गिर कर मर भी चुके हैं। और इसलिए वो 6th फ्लोर का किसी भी रूम किसी को allot नहीं करते हैं।”

रिसेप्शनिस्ट की ये बातें सुनकर मैंने खुद को खुशनसीबी माना कि मैं जिन्दा हूँ।

और सुबह सुबह ही उस होटल से चेकआउट किया और वापस अपने घर आ गया।

उस दिन के बाद मुझे आज तक रात 12 बजे के बाद घबराहट महसूस होती है, और उस आदमी का डरावना चेहरा मुझे ढंग से सोने भी नहीं देता, और इसलिए मुझे नींद की गोली भी लेना पड़ता है।

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों आपको ये सच्ची Haunted Hotel Horror Story in Hindi कैसा लगा ?

क्या आपके साथ भी कभी ऐसा हुआ है ?

क्या आपको ऐसी सच्ची भूतिया कहानी पढ़ना अच्छा लगता है ?

अगर आपके मन कोई भी सवाल या सुझाव है तो मुझे कमेंट में जरूर बताये।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

सम्बंधित लेख –

  1. Ragini MMS Real Horror Story in Hindi
  2. Stree Real Horror Story in Hindi
  3. La Llorona Real Horror Story in Hindi
  4. शमन और आत्मा भूतिया स्टोरी
  5. Tumbbad Horror Story in Hindi
  6. सुहाग रात Horror Story in Hindi
  7. भानगढ़ की सच्ची भूतिया कहानी
  8. Haunted Bus Stop Real Horror Story in Hindi
  9. Agrasen Ki Baoli भूतिया स्टोरी
  10. डुमस बीच की भूतिया स्टोरी

Leave a Comment