How to Become Rich – Dream Motivational Speech in Hindi

कैसे हम सोचके Rich बन सकते है – How to Become a Millionaire

 
 
How to Become Rich – Dream Motivational Speech in Hindi. Hello Friends, आज मैं आपको बताऊंगा एक key reason – how to become rich, क्यों कुछ ही लोग बहुत अमीर (rich) बन पाते है और क्यों ज्यादातर लोग गरीब (poor) या बहुत ज्यादा लोग middle class रह कर ही इस दुनिआ को भी छोर कर चले जाते है,


 आजकल जैसे आपमें से ज्यादातर लोग गूगल पर search करतें है की how to become rich, या फिर how to become a millionaire,



 अमीर बनने के लिए आपको आपकी दिमाग को rich mentality जैसा बनाना पड़ेगा और वो आपके दिमाग में ही है,



 आपके दिमाग ही सब कुछ कर सकते है जो आप सोचते हो, आज हम इसी बिषय पर बात करेंगे और साथ में आपको एक motivational story भी बताऊंगा इसी how to become rich से related; 
 
 रोबर्ट नाम का एक लड़का था जिसके दो बाप थे मतलब पहला उसका खुद का बाप था और दूसरा उसके दोस्त का बाप था, जिसको वो अपने बाप की जैसा ही मानता था।  
 
 रोबर्ट के एक बाप ने phd की थी और जो दूसरा बाप था वो 8 तक भी पास नहीं कर पाए,


 लेकिन दोनों ही पिता बहुत ही स्मार्ट और hard work करने वाले इंसान थे,



 लेकिन दोनों की सोच बहुत अलग थी, मानों एक सिक्के की दो side .


father and son

 

 और वो दोनों बाप रोबर्ट को अलग अलग बात सिखाते थे,


 पहले बाप बोलता था की पैसे ही सारे फसाद की जड़ है money is root of all evil,



 लेकिन दूसरा बाप बोलता था की पैसे ना होना सारे फसाद की जड़ है।



 दोनों बाप की सोच एकदम बिपरीत थी, तभी उन दोनों पिता ने रोबर्ट को अपने अंदर की thoughts को इतने बिपरीत बताये।
 
  पहले बाप रोबर्ट को हमेशा मेहेंगी चीजों के बारे में सोचने मना कर रहा था, और कहता था की हमारे हैसियत के बहार है,


 दूसरा बाप उसे कहता था की वो सोचे और अलग अलग रास्ते ढूंढे, जहा से पैसे आएंगे और जिससे वो सारे मेहेंगी चीजें खरीद सके,
 
 जब रोबर्ट अलग अलग रास्तें को ढूंढेंगे तब ये करने से उसका दिमाग भी तेज होगा और नए ideas भी मिलेंगे रोबर्ट को,


 उसके अलावा पहला बाप उसे कहता था की तू खूब मेहनत कर अच्छे से पढ़-लिख ताकि तुझे बड़ी कंपनी में नौकरी लगे और तू बड़ा बन पाए,



 लेकिन दूसरा जो उसका बाप था वो कहता था की तू खूब पढ़, मेहनत कर, कही से भी अच्छी knowledge भर भर लें,



 लेकिन तुझे खुद की कंपनी खोलन है, ताकि तू बहुत सारि job और लोगों को भी दे पाए, और तू और की ज़िंदगी में भी कुछ कर पाए।
 
 रोबर्ट की एक advantage यह था की उसने अपने दोनों बाप को अपनी अलग अलग सोच के बढ़ते और उनकी तरक्की देखी,


 रोबर्ट ने अपने दिमाग लगाए और अपने दूसरे बाप की बात मानी और follow की,



 जो की बाद में रोबर्ट Miami, Florida का सबसे अमीर आदमी बना और उस बाप की सिखाई बातों से उसने खुद करोड़ों कमाए, और लोगों को भी करोड़ो कमाने help की।

 

 सबसे important बातों में से एक बात है जो रोबर्ट ने अपने अमीर बाप से सीखी वो थी – Financial Literacy 

 
Business
 
 

Financial literacy का मतलब है –

 Assets और Liabilities की बीच का difference जानना,


 रोबर्ट ने बहुत easy तरीकेसे इसका meaning बताया है की –

 
  • Assets वो चीज होती है जो आपको पैसे बना के देगा या फिर आपके जेब में पैसे डालें, मतलब assets आपको कही ना कही पैसा लाके देता है;
  • Assets का ठीक oppositeLiabilities वो चीज होती है आपके जेब से पैसे ले लें या आपके पैसे खत्म करें। मतलब जिससे आपको एक रूपए भी income नहीं होते है वही सब चीज liabilities है। 
 
 अमीर लोग इसलिए अमीर होते है क्यूंकि वो Assets बनाते है, जब की middle class वाले लोग बस Liabilities पर खर्च करते है।


 ऐसा नहीं है की अमीर लोग कुछ नहीं खरीदते है अपने लिए जो हम liabilities कहते है,



 वो सब कुछ खरीदते है बल्कि हमसे ज्यादा चीजें खरीदते है लेकिन वो इतना assets बनाते है की कभी उन को पैसों के बारे कुछ सोचना नहीं परता है।



 पहले वो assets बनाते है उसके बाद उन assets जो पैसा आता है उसी से वो अपने जरुरत की चीजें खरीदते है।
 

 Motivational story in hindi

 
 रमेश और सुरेश नाम के दोस्त थे दोनों same position और same salary पर एक बहुत बड़े कंपनी में job करते थे,


friends

 

 जब उन्हें salary मिलती रमेश अपनी salary से नए कपड़े, नए मोबाइल, नए घड़ी, नया bike, नया shoes – ऐसी चीजे खरीदती थी, जो उसे अमीर जैसे feel करवाती थी,


 पर रमेश ये नहीं समझता था की ये सारि चीजे Liabilities है,
 
 जो उसके पैसे उससे ले रहे है, ना की बस जब वो उन्हें खरीदता है तब बल्कि आगे भी maintenance वगेरा के लिए,


 जिसकी value वक़्त के साथ कम हो जाएगी और ना ही वो आगे कुछ पैसों का profit देगी।
 
 लेकिन सुरेश ऐसा नहीं था, वो ये सारि चीजे नहीं खरीदता था जब तक उसके लिए बहुत जरुरी ना हो वो चीज खरीदना,
 
 वो पैसे जमा करता था और Assets पे खर्च करता था, जैसे की stocks खरीदना, Bonds, Real-estate, अपनी खुद की skills बढ़ाने के लिए, या कुछ सिखने के लिए,


 जो आगे उसे और ज्यादा काम आये मतलब और ज्यादा पैसे बनाके दे।

 

 ऐसे करके दो साल बीत गए और दो साल बाद सुरेश करोड़पति बन गया जबकि रमेश वैसे का वैसा, अपनी कम salary में ही रह गए,


 और रमेश कहता था कम salary उसके middle class होने का reason है। 
 
इस motivational story से आपने किया सीखा कमेंट करके जरूर बताये,
 

Cash flow के बारे में आपको ये जरूर जानना चाहिए –

  •  एक गरीब इंसान का cash flow कुछ इस तरह होता है – उसे पैसे मिलते है और फिर वो पैसे उसकी जरुरी खर्चों में खत्म हो जाते है,
  •  एक middle class का cash flow थोड़ा सा अलग होता है – उसे पैसे मिलते है और वो पैसे उसकी जरुरी खर्चों और liabilities में खत्म कर देता है, इसलिए middle class और गरीब में ज्यादा फर्क नहीं है,
 mostly middle class लोगों को लगता है वे जो खरीदते है वो उनका Assets है, पर आसल में ऐसा नहीं है,
 
 आपका घर आपको पैसा बना के नहीं देता जब तक आप उसको भरे पर दो,



how to become rich, finance

 

  •  जब की अमीर लोगों का cash flow कुछ ऐसा होता है – उन्हें पैसे मिलते है, वो उस पैसो से अपनी Assets बनाते है और उससे बने पैसो से खर्च करते है, इसलिए वो अमीर होते ही चले जाते है, क्यूंकि उनके income के source बढ़ते रहते है। 
 – अगर आपको भी अमीर बनना है तो ये बात याद रखे अच्छे से।
 
 इस बात से फर्क नहीं परता की आप कितने कमा रहे है बल्कि आप उन पैसों को कैसे और कहा खर्च कर रहे है ये important है,
 
 आपको consumer जैसे सोच से बाहर आकर investor के जैसे सोच develop करनी पड़ेगी,


 लोग complain करते है उनकी ख़राब condition का reason उनकी कम salary है और salary बढ़ेगी तो वो आराम से रहेंगे।
 
 पर problem ये है की income बढ़ने के बाद भी लोगों की खर्च ज्यादा बढ़ जाते है, क्यूंकि ज्यादा पैसे ज्यादा अच्छी चीज खरीदने पर मजबूर करता है,


 जैसे की एक iPhone, एक अच्छी car, एक अच्छी घर जो की सभी तरह से liabilities ही है जो आपको कभी अमीर बनने नहीं देगी।
 
 
 इस पोस्ट ”how to become rich” में बताये गए कुछ बाते मैं Robert T. Kiyosaki के book – Rich Dad Poor Dad से बताये है, जो मुझे एक YouTube friend ने recommend करी थी, जिससे मेरी सोच बहुत ज्यादा change हो गयी, और एक quality सोच की develop हुई, आप भी इस book को पढ़े।
 
 अगर आपको ये पोस्ट (How to Become Rich – Dream Motivational Speech in Hindi) अच्छी लगी तो आप इस पोस्ट (How to Become Rich – Dream Motivational Speech in Hindi) को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और अगर आपको कुछ पूछना है तो नीचे कमेंट कर सकते है।
 
आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment