Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – काला रंग उन्हें क्यूँ पसंद नहीं था?

Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – Hello दोस्तों, आज मैं आपको Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी के बारे में बताऊंगा।

तो चलिए शुरू करते हैं –

 

Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – काला रंग उन्हें क्यूँ पसंद नहीं था?

 

Michael Jackson ऐसी शख्शियत है जिनको इंट्रोड्यूस करने के लिए शब्द कम पड़ेंगे।

 

शायद ही कोई ऐसा होगा जो Michael Jackson के बारे में नहीं जनता होगा, म्यूजिक में पॉप को एक अलग लेवल पर पहुँचाने वाले Michael Jackson एक सिंगर और एक यूनिक डांसर स्टाइल के लिए जाने जाते थे।

 

29 अगस्त 1958 को एक क्रेन ऑपरेटर के घर जन्मे Michael अपने भाई-बहनों में 7वें नंबर पर थे।

 

म्यूजिक Michael Jackson के खून में था क्यूंकि उनके पिता क्रेन ऑपरेटर तो थे लेकिन वो वहां के एक लोकल बैंड फाल्कन में गिटर बजाते थे।

 

उनकी माँ भी म्यूजिक लवर थी, जिन्होंने उन्हें सिंगिंग सिखाई, Michael Jackson ने 5 साल की उम्र से ही अपने 4 भाइयों के साथ स्टेज पर परफॉरमेंस देना शुरू कर दिया था।

 

उसके बाद वो Los Angeles में रहने चले गए, जहाँ अपने यूनिक डांस की वजह से वो कम उम्र में ही फेमस हो गए थे।

 

बचपन की बात करे तो Michael Jackson का बचपन दूसरे बच्चो की तरह बिल्कुल नहीं था।

 

एक किस्सा Michael Jackson ने खुद ने बताया था कि उनके पिता उनके रिहर्सल के दौरान बेल्ट लेकर खड़े रहे थे क्यूंकि वो उन्हें ये सब करने के लिए परमिशन नहीं देते थे, इसी वजह से उनका बचपन पिता के डर के बीच गुजरा।

 

Michael Jackson जब Oprah Winfrey Show में आये थे तब उन्होंने बताया कि पढाई के बाद Michael जब रिकॉर्डिंग्स के लिए जाते थे तो पास में एक पार्क में खेलते बच्चो को देखकर वो काफी परेशान हो जाते थे।

 

क्यूंकि जिस उम्र में उन्हें खेलना था उस उम्र में Michael अपने करियर को बनाने में लग गए थे।

 

 

1969 में सिर्फ 11 साल की उम्र में Michael ने अपना पहला सांग “I Want You Back” निकाला जो बहुत हिट साबित हुआ और Michael को उस सांग से बचपन में ही सक्सेस मिल गयी थी और यही Michael की लाइफ का टर्निंग पॉइंट था।

 

इसके बाद 1970 में “The Love You Save” और “It Will Be There” रिलीज़ हुए, जिसे लोगों ने बहुत पसंद किया।

 

1975 में Michael एपिक रिकार्ड्स से जुड़ गए और अपने बैंड का नाम Jackson 5 से बदलकर Jackson कर दिया।

 

1979 में Michael की पहली सोलो एल्बम “Of The Wall” आयी जिसने पिछले सारे रिकार्ड्स तोड़ दिए।

 

दुनिया भर में उस एल्बम की 7 मिलियन से ज्यादा कॉपीज बिकी और Michael को किंग बनने के और भी करीब ले गयी।

 

फिर 1982 में Michael की थ्रिलर आयी जो आज तक कि सबसे हिट एल्बम में से एक है, जिसने 11 में से 8 ग्रेमी अवार्ड्स जीते, जो म्यूजिक का सबसे बड़ा अवार्ड है और 20 प्लैटिनम सर्टिफिकेट भी जीते, जिसके चलते उन्हें King of Pop नाम से बुलाया जाने लगा।

 

1991 में आयी एल्बम Dangerous उस साल की नंबर 1 एल्बम रही, जिसकी वर्ल्डवाइड 20 मिलियन कॉपीज बिकी।

 

बहुत से लोग मानते है कि Michael को अपना काला रंग पसंद नहीं था इसलिए उन्होंने सर्जरी करवा कर अपना रंग बदल दिया लेकिन असल में उनको Vitiligo नाम की स्किन की एक बीमारी थी, उसकी वजह से उनको सर्जरी करवाना पड़ा।

 

Michael की लाइफ बचपन में काम करने में निकली इसलिए वो अपना खाली समय बच्चो के साथ ही बिताते थे, लेकिन 1994 में उनके यहाँ रुके एक बच्चे के घर वालो ने Michael पर चाइल्ड एब्यूज का आरोप लगाया जिसके चलते Michael को उस बच्चे के घर वालो को केस सेटलमेंट के लिए 25 मिलियन डॉलर देने पड़े और उस इंसिडेंट की वजह से Michael की कैरैक्टर पर एक धब्बा सा लग गया।

 

1993 में उन्होंने Elvis Presley की बेटी से शादी की जो 1 साल बाद टूट गयी फिर 1997 में उन्होंने फिर से दूसरी शादी की।

 

Michael Peter Pan नाम के एक कार्टून से इतने प्रभावित थे कि वो अपने आप को Peter Pan ही मानते थे, जो नेवरलैंड नाम की एक जगह पर रहता था इसलिए उन्होंने 2700 एकड़ की एक जगह खरीदी और उसका नाम नेवरलैंड रैंच रख दिया।

 

वो एक नेचर लवर भी थे और उन्होंने नेवरलैंड के जंगल में ही नेचर नाम का एक सांग भी लिखा जिसमें नेचर के लिए प्यार की बातें सामने आती हैं।

 

2006 में उनको बैंक लोन की वजह से नेवरलैंड छोड़ना पड़ा और उसी डेब्ट की वजह से उन्होंने 2009 में दुनियाभर की 10 जगहों पर कंसर्ट करने का सोचा जिससे उनको लोन चुकाने के लिए पैसे मिल जाये।

 

उनका पहला शो लंदन में होने वाला था लेकिन उस शो के 20 दिन पहले अचानक कार्डियक अरेस्ट की वजह से Michael की मौत हो गयी।

 

वो इतने फेमस थे कि उनकी मौत के बाद 7 जुलाई 2009 को Michael Jackson Memorial Organize हुआ जिसमें 16 लाख से ज्यादा टिकट बिके।

 

काइंडनेस की बात की जाये तो Michael Jackson एक बार पेप्सी का विज्ञापन कर रहे थे उसी दौरान उस सेट पर आग लग गई, जिससे Michael के सिर के बाल जल गए लेकिन सिचुएशन को कण्ट्रोल में रखते हुए Michael ने सेट पर आग से हुए नुकसान को देने की बात की और वहां लोगों का दिल जीत लिया।

 

Michael Jackson की सिंगिंग और डांस आज भी उतना ही फेमस है जितना पहले था, उनके जितना फेमस सिंगर और डांसर शायद ही दुनिया में कोई हुआ होगा।

 

 

Conclusion

 

Michael Jackson की लाइफ से हमें ये जरूर सीखने को मिलता है कि मुश्किलें तो हर बड़े इंसान की लाइफ में आती हैं, लेकिन उन मुश्किलों के बाद भी अपने लेवल को बरक़रार रखने का काम Michael ने कर दिखाया था।

 

दोस्तों लोग सक्सेसफुल होना तो चाहते हैं लेकिन मेहनत नहीं करना चाहता।

 

तो जो व्यक्ति बिना मेहनत के सफल होना चाहता है तो वो कभी सफल नहीं हो पाएंगे।

 

क्या आप सफल होना चाहते हैं ?

 

लाइफ से रिलेटेड कोई भी प्रॉब्लम के लिए आप मुझे कांटेक्ट कर सकते है।

 

तो आपको आज हमारा यह Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – काला रंग पसंद नहीं था” कैसा लगा ?

 

आप क्या कर रहे हैं ताकि आप सक्सेसफुल हो जाये ?

 

मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

 

और इस “Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – काला रंग उन्हें क्यूँ पसंद नहीं था?” को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

 

 

सम्बंधित लेख –

  1. संदीप महेश्वरी जी की पूरी जीवनी – Sandeep Maheshwari Complete Biography in Hindi
  2. Oprah Winfrey की सक्सेस स्टोरी – 14 साल की उम्र में उनको अपने रिश्तेदार ने ही Rape किया
  3. Eminem की सक्सेस स्टोरी – Rap God का खिताब उनके नाम पर है
  4. Real-Life Inspirational Story in Hindi – Super Power वाली एक माँ
  5. Sandeep Maheshwari Speech – The Greatest Real Life Inspirational Story in Hindi
  6. Dwayne Johnson की सक्सेस स्टोरी – आज वो The Rock है
  7. APJ Abdul Kalam जी के सक्सेस स्टोरी – दी मिसाइल मैन
  8. Steve Jobs की सक्सेस स्टोरी – बोतल बेचने वाला Apple कंपनी को कैसे खड़ा किया ?

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment