On-Page SEO क्या है और कैसे करते है ? (Detailed Explanation 2021)

ON-PAGE SEO क्या है और कैसे करते है ? सबसे पहले On-page SEO क्या है उसके बारे में जान लेते है, simple शब्द में कहूं तो आपकी BLOG की जितने भी Page और Post है, उस Page और Post में आपको जो कुछ भी optimization करना है ताकि आपकी पोस्ट में Google से Organic ट्रैफिक आये, उसी Optimization स्ट्रेटेजी को हम ब्लॉग्गिंग की भाषा में कहते हैं ON Page SEO.

 

ON-PAGE SEO क्या है और कैसे करते है ?

 

 

What is Keywords? Keywords क्या है?

 

इसको समझने के लिए एक example लेते हैं – जैसे एक बहुत ही बढ़िया librarian है, उसके पास कोई भी book मांगने आता है, तो उसको पता है कहां वो बुक कहा पर है।

 

अगर कोई किसी topic को पूछता है – “sir यह वाला topic कौन सी बुक पर है ?” और librarian उस बुक को निकाल कर उसको दे देता है।

 

वह यह कैसे कर सकता है ? कभी सोचा आपने…..

 

उसको पता है कौन से box में, कौन सी line में, कौन सी बुक है, उसके अंदर कौन सा topic है।

 

GOOGLE भी इसी तरह का search engine है। वह कैसे right चीजों को आपके सामने ले आता है, कि वह हर websites को Scan (इसको CRAWL कहते है) करता है, और जानता है कि किस website में क्या लिखा है।

 

तो simple words में कहूं तो GOOGLE आपकी Keywords को ही देखता है।

 

जो लोग google पर search कर रहे हैं, उसको कहते हैं Keywords.

 

जैसे – “How to Start a Blog”, “What is SEO”, और “How to do SEO on Blog Post”, “SEO Tips”, “SEO Blog”, “Google Search Engine Optimization”, “On-Page SEO”, “Search Engine Optimization Services”, “SEO Tips and Tricks” -ऐसा कुछ Words लोग google पर search करता है और इसी को Keywords बोलते है।

 

अगर आपने अपने topic related keywords को समझा, कि अच्छा यह चीज है जो लोग Google/Bing पर search कर रहे हैं, तब उसके बारे में आपने लिखा या फिर जो keywords है, अपने content (article)को उसके साथ relate किया, तो आपके chances Google/Bing Search Results में ऊपर आने की काफी हद तक बढ़ जाते हैं।

 

 

Best Keyword Research/Generator Tools

 

So कौन सा keywords है जो Trending पे है, Competition ज्यादा है या कम है, किस Keywords पर CPC (Cost Per Click) ज्यादा है, जिस पर आप ज्यादा कमा सकते हो, कौनसे Keywords कितने rank पर है, तो ये सब कुछ जानने के लिए कई सारे Tools है, जिसका आप use कर सकते हो –

  1. Google Trends (free tool)
  2. Ubersuggest (free & Paid tool)
  3. Keyword Tool (Paid tool)
  4. Semrush (Paid & Free tool)
  5. Ahrefs (Paid & Free tool)

 

तो अब इन 5 Free/Paid Keyword Research Tools की use करके आप अपना Unique Keywords ढूंढ सकते है।

 

और पढ़ें – Top 10+ Free Keyword Research Tools Beginners Bloggers के लिए

 

 

ON-PAGE SEO कैसे करें ?

 

Tools for Quality Writing (Grammar) Skill :

आपका Blog अगर English या Hinglish (hinglish वो होता है जो आपने english और hindi भाषा का combine करके जो अपने Article को लिखा है।) में है तो आपको अपने Article के Word spelling को एकदम सही तरीकेसे लिखने के लिए Grammarly tool का use कर सकते है।

 

इसको आप अपने Chrome extension में लगा सकते हो और इसकी software को download भी कर सकते हो।

 

 

Use SEO-Friendly URLs/Permalink

 

आपको अपनी research की हुई Keyword को ही अपनी blog post/article की जो permalink है उसमें use करना है।

 

seo2Bfriendly2Bpermalink

 

इस image में आप देख सकते की मैंने अपनी एक blog में chanakya neeti नाम की keyword को कैसे permalink में use किया है, तो आप भी ऐसे ही कीजिये, अपनी keywords को permalink में use करे।

 

• Example of a Good Permalink/URL: https://www.yourdomain.com/separated-post-title-with-dashes

 

लेकिन ध्यान रखना की URL/Permalink को  5-7 Words ज्यादा बड़ा ना करें। Google हमेशा permalink के शुरू के 3-5 words को ही ज्यादा value देता है।

 

ऐसे ugly URLs/Permalink को Avoid करें: https://yourname.com/p=123

ऐसे long URLs को भी avoid करें: https://yourname.com/8/6/16/cat=SEO/pageid=890.html

 

 

Remove All Stop Words from Permalink

 

आप को अपनी blog post के url/permalink में जैसे “A”, “THE”, “OFF”, “FOR”, etc. in Words को बिलकुल Avoid करना है, अगर आपके permalink में ये stop words है तो आपके उस particular post Google में rank नहीं करेगा।

इन 4 words के अलावा भी और बहुत सारे stop words है, तो आप ऊपर दिए गए stop words link को click करके वो सारे words देख सकते है और इसको permalink में avoid कर सकते है।

 

 

Use SEO-Friendly & Attractive Title

 

seo2Bfriendly2Bblog2Btitle

 

इस image को जैसे आप देख सकते की मैंने seo tips and tricks नाम का keyword को मेरी एक blog post की Title में starting में ही use किया है, तो आप भी अपना keyword title के starting में use करे। आपको 65 characters से ज्यादा characters का title नहीं होना चाहिए।

 

और एकदम User को Attract करने वाला Titile Create कीजिए।

 

ये सिर्फ एक example है, आप इस ब्लॉग पोस्ट की टाइटल को भी देख सकते हैं। मैं कैसा title यूज़ करता हूँ। आप भी ऐसे ही Title बनाये।

 

 

Use SEO Friendly Heading Tags

 

आपको एक H1 tag use करना है, इसके लिए ज्यादातर blog template by default आपकी Title में H1 tag add कर लेता है, लेकिन फिर भी आप अपनी template को एक बार check जरूर करे –

 

h12Btag2Bcheck

 

इसके अलावा अपनी blog posts के अंदर minimum एक H2 tag (Subheading) use जरूर करे, और H3, H4 tags use करना है।

हर एक ब्लॉग पोस्ट में कमसे कम 3 H2 और उनके अंदर कुछ H3 और कुछ H4 टैग को यूज़ जरूर करे। आप इस ब्लॉग पोस्ट देख सकते हैं।

 

*Note :

  1. H1 Tag को एक से ज्यादा बार use मत करे। वैसे आपको इसे यूज़ करने की जरुरत नहीं है।
  2. कभी एक subheading (H2) को और एक minor heading (H3) को repeat मत करे।
  3. Keywords की stuffing मत करे, मतलब एक ही keyword को 500/1000 words के article में 100 बार use किया है तो इसको keywords stuffing बोलते है, और ऐसा करना अपने Blog को ही नीचे गिराना जैसा होता है क्यूंकि ये techniques को Google जब पता लगा लेते है तो आपकी particular article को Google अपने search engine से बाहर कर देते है।

 

 

Add Modifiers To Your Title

 

Blog Title में कुछ Modifiers जैसे – “Best”, “Top”, “Famous”, “Guide”, “Complete Guide”, “Review”, “Helpful”, “Checklist”, “2021”, etc. का use title के end में या फिर middle area में या फिर title के पहले जरूर करें।

 

इस टाइप की Modifier आपको अपने ब्लॉग पोस्ट की Title को Attractive बनाने में काम आता है।

 

 

Keywords Density

 

अब keyword density क्या होता है – Keyword Density का मतलब होता है की आप अपने Blog Post के अंदर कितने Keywords implementation कर रहे है।

 

आपकी keywords को आपके blog post के first paragraph में use करे, मतलब 100-150 words के अंदर, और उसके बाद एकदम blog post की last paragraph में use करे।

 

first paragraph में आपको maximum 3 keywords को use कर सकते है और blog post के middle area में भी आप 2-3 keywords use करे और last paragraph में भी 1-3 keywords को आप use कर सकते है।

 

*Note: आप Main Keyword को Long Tail Keywords की तरह use करे (उसके लिए short कीवर्ड्स को रिसर्च करके उसका Long-Tail निकाले), और LSI Keywords को जरूर यूज़ करें।

 

 

Article Length

 

आपकी blog post की length –

 

  1. अगर normal information वाला article है तो 1300+ से ज्यादा words count होने चाहिए,
  2. और अगर in-depth information वाला article है तो 2000+ words आपके blog में count होने चाहिए।
  3. एक trick जो आप follow करके अपनी blog की Ranking को बढ़ा सकते है और वो है की आपने जो keyword research किया है उसको एक बार Google में search करके first 5 Results को open कर लीजिये और उसके Words Count कीजिये।

 

तो अब अगर उसके article में 2000 words है तो आप उनसे ज्यादा लिखने की कोशिश करें, मतलब जैसे 2500 words का article लिख दिया आपने, तो ऐसे में आपके blog post के Rank बहुत जल्द ऊपर आने की chances बढ़ जाता है, अगर आपका Post High Quality और Unique है तो।

 

इसमें एक और important पॉइंट है की आज आपके ब्लॉग में 2000 – 2500 के अंदर ही होना चाहिए। 2500 से ज्यादा वाली वर्ड्स की पोस्ट को गूगल के Bot Crawl ही नहीं करते हैं। (ये 2021 की नए अपडेट है)

 

गूगल में रैंक करने के लिए सिर्फ words ही ज्यादा नहीं होना चाहिए, उसमें जो आपने Information शेयर की है वो इनफार्मेशन अगर सही और लोगों को अच्छे से समझ आ जाते है और गूगल को भी अच्छे से समझ आ जाये, तब चाहे आपका ब्लॉग पोस्ट सिर्फ 600 words का ही क्यों न हों। तब भी रैंक करता है।

 

5000 words लिखने की चक्कर में आपने अगर अपने ब्लॉग पोस्ट के words को copy करके, या irrelevant (असंगत) वर्ड्स को बार बार लिख रहे हैं तो ऐसा करने से आपका ब्लॉग पोस्ट कभी रैंक नहीं करेगा।

 

तो मैं आपको सिर्फ ये बता रहा था की आपने जो ब्लॉग पोस्ट लिखा है उसमें पूरा इनफार्मेशन होना चाहिए और तब चाहे आपका पोस्ट कम words का ही क्यों न हो तब भी आपका पोस्ट Google SERP में रैंक करेगा ही करेगा।

 

मेरा कुछ ब्लॉग पोस्ट सिर्फ 1000 वर्ड्स का तो वो भी एकदम No 1 पर रैंक करता आ रहा है।

 

 

Use LSI (Latent Semantic Indexing) Keywords

 

ये जो LSI Keywords है वो आपके main keywords से संबंधित word हैं, Google भी आजकल इन्हीं LSI Keywords को ही बड़ा महत्व देता है। अगर आपके blog post में LSI Keyword है तो आपके ranking google search ऊपर आने की chances बढ़ जाते है।

 

LSI2BKeywords

google2Blsi2Bkeywords

 

 

आप जैसे इस image में देख सकते है की मैंने Google पर How to Start a Blog लिख कर search किया और page की last में उस keywords के related कुछ keywords भी show किया, तो आप इसमें से कुछ 1-2 keyword को choose कर सकते है अपने blog post में।

आप अपना LSI keywords ढूंढिए और अगर आपके blog post की length 1000 से ज्यादा words का तो उसमें 3 keywords अपने main keywords के साथ मिलाकरuse करे।

आप अपने LSI Keywords को “Page title”, “H1 and H2 tags”, “URL address/Permalink”, “META tags”, “Images alt text”, “First paragraph of Post”, “Links anchor Post”, “Last paragraph of Post”, में use कर सकते है।

 

*Note : इसमें मैंने आपको जो LSI keyword को add करने के लिए जगह बताया है, इसमें आप 1-2 जगह में ही keyword add करे, इससे ज्यादा बिलकुल मत करे।

 

 

Use Multimedia

 

आप अपने Blog Posts को interesting बनाने के लिए हर एक article में कुछ Related Videos, कुछ related Images और कुछ एक-दो Related Infographic use करना बहुत जरुरी है।

 

इससे आपकी bounce rate कम होता है और आपकी blog की viewing/reading time increase होता है, तो इससे आपके blog posts, top पर आने के chances और भी बढ़ जाता है।

 

आप मेरे ब्लॉग के बाउंस रेट देख कर हैरान रह जायेंगे। (इसमें आप मेरे इस ब्लॉग की Page views भी देख सकते हैं)

 

thoughtinhindi bounce rate
January & February Reports 2021

 

 

 

Use Internal Links

 

इसमें आप अपनी ही पुराने blog article/posts की link को अपने ही एक और नए blog post में link add करेंगे और इसी process को internal linking बोला जाता है। इसमें आप अपने new blog post में minimum 5 पुरानी related blog posts की link add कर सकते है। अगर इस बारे ज्यादा जानना है तो आप wikipedia का कोई blog posts देख सकते है।

 

 

Use Outbound/External Linking

 

ये outbound जो links होते है ये basically आपके blog में किसी और blog article के link को आपके article लगाने का process होता है। ये एक easy, white hat SEO strategy है, आपके blog में ज्यादा Traffic Gain करने के लिए। आप जो outbound करते है किसी और blog का तो वो reflect होता है आपके blog में।

 

मेरा कहने का मतलब यही है की आप जब किसी और blog link को अपने blog post में add करते है तो वो link जब Google में Crawl होते है,

 

तो Google को लगता है की ये बंदा पूरा details के साथ article लिख रहे है, मतलब आप outbound link कब देते है, जब आपको लगता है की किसी एक topic के बारे में कोई और blogger ने अच्छे से explained किया है, तो उनको अपने blog में आप link कर देते है, तो Google इसी चीज को देखता है और आपकी Blog Post की ranking को धीरे धीरे ऊपर आने के लिए chance देता है।

 

ये Outbound link, Google को आपके Blog के विषय का पता लगाने में मदद करते हैं, और ये outbound links, Google को ये भी दिखाता है कि आपकी page में कितने Quality information की ख़जाना है।

 

आपके Blog में article length के हिसाब से 1000 words में minimum 4-6 तक Outbound Links को use करना बहुत जरुरी है।

 

जैसे आपको इस link के बारे में मेरे इसी Article में पता लग जायेगा की मैंने और कितने website की link मेरे blog में add किया है।

 

 

*Note : आपको high-quality sites को ही outbound link देना है ध्यान रखना ये बात।

 

 

Image Optimization

 

सबसे पहले Copyright/Royalty Free Image को download करना होगा और उसको आप Pixabay नाम के Site से free में download कर सकते है। और उसका कोई copyright का issue भी नहीं आएगा।

 

Image को download करने के बाद आपको अपनी image का नाम SEO friendly रखना चाहिए, आपने जैसा blog post लिखा है उससे related image choose करके उससे related image का नाम दीजिये।

 

सबसे जरुरी बात ये है की आप अपने download किया हुए image अच्छे से अपने style में design करें उसके बाद ही upload करे अपने Blog पर।

 

ऐसे Image Name को Avoid करे :

dgjhy1235.jpg,
ret@#ukl5263.png

 

Image Name ऐसा होना चाहिए : on-page-seo-chart.jpg

Use Title and Alternative Text :

 

 

 

Compress and Resize :

 

Image को blog post में upload करने से पहले उसको compress करे,  मैं इस tool का use करता हूँ – imagecompress (इस ऑनलाइन टूल को मैं तब यूज़ करता था जब मेरा ब्लॉग Blogger पर थी।)

 

लेकिन आजकल सिर्फ Imagify WordPress Plugin को यूज़ करता हूँ। (ये आपकी image को automatically ऑप्टिमाइज़ कर देता है।)

Imagify Plugin की मदद से आप अपने इमेज को WebP format में कन्वर्ट कर सकते हो। (ये Image का WebP format Google खुद Reccomend करता है।) अगर आपको Imagify की Settings के बारे में जानना है तो मुझे नीचे कमेंट में जरूर बताये।

 

एक image 50 kb से ज्यादा नहीं होना चाहिए, अगर ज्यादा होगा तो इससे आपकी blog post/articles का open होने का time (loading time) बढ़ जायेगा और Readers आपके blog छोड़ कर चला जायेगा।

 

आपको एक image resize जरूर करना चाहिए, maximum 800×500 pixels/dimensions का image बनाना चाहिए। मैं तो अपने ब्लॉग मैक्सिमम 500×300 pixels के अंदर ही रखता हूँ। size 30 – 50 kb से ज्यादा नहीं रखता हूँ।

 

 

Use Search/Meta Description

 

आप को अपनी blog post की description box में maximum 150 characters को use करना चाहिए, मतलब 20-30 words के अंदर रखना है आपको।

उसमें आपको अपने पूरी Blog Post से related बातें short में 20 words के अंदर लिखना है, जिसमें आपको ये बताना है की उस Particular Post/Article में आपने क्या लिखा है। जो SEO के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

वो आपके Google SERP पे ऐसे दिखाते है, जिसको Use करने का फायदा यह होता है की SERP पर आपके Article/Blog Post first Page पर Rank करता है –

Google2BSERP2BMeta2BDescription

 

 

Use Tags

 

इसमें आपको अपनी Blog Post में 4-7 Tags को use करना है। ये इतना ज्यादा इम्पोर्टेन्ट चीज नहीं है आज के टाइम में।

 

 

Write Engaging Content

 

आपको अपने content/blog posts को ऐसे लिखना है ताकि लोग आपके blog post के साथ engage हो जाये। आपको अपनी content में quality देनी होगी और unique content लिखना होगा। और अपने ब्लॉग पोस्ट में कुछ इमेज और वीडियो को यूज़ करे।

 

आप अपने readers को अपने post से related questions पूछ सकते है और उनके comment को जितना जल्दी हो सके reply करें।

या फिर आप यूजर से पूछ सकते है उनको क्या problem है और उस topic के ऊपर blog post लिख कर उसे share कर सकते है।

 

 

Best On-page SEO tools for WordPress

 

On-page Search Engine Optimization के लिए आप इन 6 tools/Plug-in का use कर सकते हो –

 

  1. Rank Math SEO Plugin (मैं इस Free plugin को यूज़ करता हूँ)
  2. SEMRush SEO writing assistant
  3. Frase (AI-based tool)
  4. Page Optimizer Pro
  5. Yoast SEO plugin
  6. Keywords Research Tools

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों ये अब पूरा मैंने बता दिया है की ON-PAGE SEO क्या है और कैसे करते है ?

तो दोस्तों आपको ये “ON-PAGE SEO क्या है और कैसे करते है ?” कैसा लगा ?

आप मुझे ये बताये की आप कैसे अपने ब्लॉग पोस्ट की On-Page SEO करते हैं ?

और ऊपर बताये गए कौनसी On-Page SEO स्ट्रेटेजी आप पहले यूज़ नहीं करते थे ?

और अब सबसे पहले आप कौनसी स्ट्रेटेजी को अपने ब्लॉग के लिए यूज़ करेंगे ?

अगर आपको कुछ भी On-Page SEO से रिलेटेड Confusion है या किसी चीज के बारे में जानना चाहते हैं तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

इस “ON-PAGE SEO क्या है और कैसे करते है ?” को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।

 

 

सम्बंधित लेख –

  1. Technical SEO क्या है और कैसे करते है ? (Detailed Explanation)
  2. Off-Page SEO क्या है और कैसे करते है ? (Detailed Explanation)
  3. 20 Profitable Blogging Niche to Start a Hindi Blog (Part – 1)
  4. 20 Profitable Blogging Niche to Start a Hindi Blog (Part – 2)
  5. 20 Profitable Blogging Niche to Start a Hindi Blog (Part – 3)
  6. 20 Profitable Blogging Niche to Start a Hindi Blog (Part – 4)
  7. 21 Profitable Blogging Niche to Start a Hindi Blog (Part – 5)
  8. Hostinger Genuine Reviews in Hindi – होस्टिंगर से होस्टिंग क्यूँ खरीदना चाहिए ?
  9. नए Bloggers ये 7 Mistakes करते हैं – Blogging Tips in Hindi
  10. Free में Blog कैसे बनाये? – Simple Step-by-Step Guide in Hindi
  11. Blog Post को Rank कैसे करें? – 13 Blogging Tips in Hindi

 

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment