Pablo Picasso की सक्सेस स्टोरी | Pablo Picasso Success Story in Hindi

Pablo Picasso की सक्सेस स्टोरी | Pablo Picasso Success Story in Hindi – Hello दोस्तों, दोस्तों जब भी पेंटिंग का नाम आता है तो सबसे पहले जिस इंसान का नाम लिया जाता है वो है Picasso। वैसे तो दुनिया भर में कई पेंटर हुए लेकिन Pablo Picasso का नाम उन सब में सबसे ऊपर है, Picasso को पेंटिंग का भगवान कहा जाता है, उन्होंने अपनी पूरी लाइफ़ पेंटिंग बनाने में दे दी, उनकी पूरी लाइफ़ में उन्होंने लगभग 50 हज़ार पेंटिंग बनाई, जिनकी क़ीमत आज के समय में करोड़ो में हैं।

आज हम उसी के सक्सेस स्टोरी के बारे में जानेंगे, तो चलिए शुरू करते हैं –

 

Pablo Picasso की सक्सेस स्टोरी | Pablo Picasso Success Story in Hindi

 

जन्म और बचपन

 

Pablo Picasso का जन्म 25 अक्टूबर 1881 को Malaga, Spain में हुआ था, उनके पिता एक आर्ट्स टीचर थे और उन्हें शुरुआती पेंटिंग भी उनके पिता ने ही सिखाई।

उनके बचपन का एक किस्सा है जब उनकी माँ उन्हें कहती थी कि अगर तुम एक सोल्जर बनोगे तो जनरल बनोगे, अगर सेंट बनोगे तो पॉप बनोगे तब Picasso ने कहा था कि वो एक दिन Picasso बनेंगे और उनके इसी जवाब में उनका फ़्यूचर छुपा था।

 

Picasso पढ़ाई में इतने अच्छे नहीं थे लेकिन वो बचपन से ही पेंटिंग बनाने में काफ़ी माहिर थे, उनके बारे में रिसर्च करने वाले बताते हैं कि उन्होंने जब बोलना स्टार्ट किया था तब उनकी ज़ुबान से पहले शब्द पीज़-पीज़ निकला था जो स्पेनिश वर्ड लेपिज़ का शॉर्ट फ़ॉर्म है जिसका मतलब पेंसिल होता है।

 

 

पेंटिंग की शुरुवात और सक्सेस जर्नी

 

Picasso जब बड़े हुए तब उनका पेंटिंग की तरफ़ इंटरेस्ट देखते हुए उनके पिता ने उन्हें पेंटिंग बनाना सिखाना शुरू कर दिया और 14 साल की उम्र तक वो इतने माहिर हो गए कि अपने पिता से भी अच्छी पेंटिंग बनाने लग गए थे लेकिन वो अपनी पेंटिंग के इंटरेस्ट की वजह से अपनी पढ़ाई से दूर होते जा रहे थे।

 

14 साल की उम्र में Picasso को उनके पिता ने पेंटिंग सीखने के लिए मैड्रिड भेज दिया, वहाँ Picasso की पेंटिंग देखकर उन्हें एडमिशन तो मिल गया लेकिन कुछ टाइम बाद वहाँ के स्ट्रिक्ट, रूल्स और रेगुलेशन की वजह से Picasso ने वो आर्ट्स स्कूल छोड़ दिया।

 

उसके बाद Picasso के पिता ने उन्हें पेरिस भेज दिया, पेरिस को उस समय दुनिया का सबसे बड़ा आर्ट हब माना जाता था, वहाँ उन्हें कई अलग-अलग लोगों से मिलकर अपने आर्ट को तराशने का मौका मिला और उसके बाद अपने घर आकर उन्होंने अपना आर्टवर्क बनाना शुरू किया।

 

उन्होंने पेरिस से आने के बाद अपनी पेंटिंग में समय के अनुसार 1904 के अलग-अलग चीज़ों को बनाया, जैसे 1901 से 1904 के बीच मे उन्होंने ज़्यादातर पिंक और ब्लू कलर पर आधारित पेंटिंग बनाई, जो अपने से नीचा दिखाए जाने वाले लोगों पर आधारित है।

 

फिर 1904 से 1906 के बीच उन्होंने म्यूज़िकल आर्ट्स, एक्रोबेट और क्लोवन्स कि पेंटिंग बनाई, फिर 1907 से 1909 के बीच में उन्होंने Avignon की महिलाओं पर आधारित पेंटिंग्स बनाई।

 

1909 से 1919 तक घनवाद (Cubism) के आधार पर पेंटिंग्स बनाई, उसी दौरान 1911 में मोनालिसा की पेंटिंग चोरी होने की वजह से Picasso को अरेस्ट भी किया गया था। उसके बाद 1919 से 1929 तक उन्होंने Neoclassicism और Surrealism के आधार पर पेंटिंग्स बनाई।

 

Picasso हिंसा और लोगों पर होने वाले अत्याचारों के बहुत अगेंस्ट थे, 1937 में जब नाज़ी आर्मी ने स्पेन रिपब्लिक आर्मी पर बोम्ब गिराए तो अपना गुस्सा दिखाने के लिए उन्होंने Guenirca नाम की एक विशाल पेंटिंग बनाई और अपनी मर्ज़ी से स्पेन छोड़ दिया और कसम खायी की स्पेन में जब तक रिपब्लिक की स्थापना फिर से नहीं होगी तब तक वो स्पेन नहीं आयेंगे।

 

Picasso ने अपनी पेंटिंग से बहुत दौलत कमाई, वो अपने टाइम के सबसे महँगे आर्टिस्ट थे, हालांकि आज उनकी पेंटिंग्स की जो वैल्यू है वो उस ज़माने में नहीं थी लेकिन वो बाकी के आर्टिस्ट से काफ़ी महँगे थे।

 

उनको अपनी लाइफ़ में कई उतार-चढ़ाव देखने पड़े, एक समय ऐसा था कि उन्हें लोगों के विरोध के कारण अपने देश से बाहर निकलना पड़ा और ऐसी सिचुएशन में उनके पास रहने के लिए घर नहीं था लेकिन उन्होंने अपनी पेंटिंग्स पर काम करना बंद नहीं किया, वो 20th सेंचुरी के सबसे महान आर्टिस्ट थे।

 

8 अप्रैल 1973 को अपने घर मे एक डिनर पार्टी के दौरान 91 की उम्र में उनकी मौत हो गयी, उनका आर्ट्स की दुनिया में जो कॉन्ट्रिब्यूशन हैं वो बहुत लोगों को इंस्पायर करता है, उन्होंने अपनी पूरी लाइफ़ में 50 हज़ार से ज़्यादा पेंटिंग बनाई, जिसमें से बहुत-सी पेंटिंग उन्होंने दान दी और अभी उनकी जो पेंटिंग्स है उनकी वैल्यू आज के हिसाब से मिलियंस में हैं।

 

Picasso ने अपनी पर्सनल लाइफ़ की मुश्किलों को अपने काम के दम पर लोगों की नज़रों से छुपाए रखा, जिनके काम को आगे भी ऐसे ही मास्टरपीस के नज़रिये से देखा जायेगा।

 

 

Conclusion

 

दोस्तों आपको आज का यह आर्टिकल “Pablo Picasso की सक्सेस स्टोरी | Pablo Picasso Success Story in Hindi” कैसा लगा ?

अगर आपको महान आर्टिस्ट Picasso के बारे में और कोई सीक्रेट पता है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

आपका कोई भी सवाल या सुझाव है तो वो भी मुझे कमेंट में जरूर बताये।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

 

 

सम्बंधित लेख –

  1. संदीप महेश्वरी जी की पूरी जीवनी – Sandeep Maheshwari Complete Biography in Hindi
  2. Oprah Winfrey की सक्सेस स्टोरी – 14 साल की उम्र में उनको अपने रिश्तेदार ने ही Rape किया
  3. Eminem की सक्सेस स्टोरी – Rap God का खिताब उनके नाम पर है
  4. Real-Life Inspirational Story in Hindi – Super Power वाली एक माँ
  5. Sandeep Maheshwari Speech – The Greatest Real Life Inspirational Story in Hindi
  6. Dwayne Johnson की सक्सेस स्टोरी – आज वो The Rock है
  7. APJ Abdul Kalam जी के सक्सेस स्टोरी – दी मिसाइल मैन
  8. Steve Jobs की सक्सेस स्टोरी – बोतल बेचने वाला Apple कंपनी को कैसे खड़ा किया ?
  9. Michael Jackson की सक्सेस स्टोरी – काला रंग उन्हें क्यूँ पसंद नहीं था?
  10. Bruce Lee की सक्सेस स्टोरी – एक इंच दुरी से पंच मारके लोगों को गिरा देते थे
  11. Charlie Chaplin की सक्सेस स्टोरी – 2000 महिलाओं के साथ Sex किया
  12. Michael Jordan की सक्सेस स्टोरी – गैंबलिंग की वजह से बास्केटबॉल छोड़ना पड़ा
  13. Albert Einstein जी की सक्सेस स्टोरी – लोगों को बोलते थे मैं आइंस्टीन नहीं हूँ

Leave a Comment