Personality Development in Hindi – अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट का 41 Best तरीका

Personality Development in Hindi – काफी बार मेरे कई दोस्त मुझ से पूछते हैं की यार कोई बढ़िया सा इन्वेस्टमेंट बताओ, हमारे पास टाइम है और पैसा है, तो क्या हम फिक्स्ड डिपॉज़िट खोल ले, म्यूच्यूअल फण्ड में डाल दें, शेयर बाजार में डाल दें, कौन सी इन्वेस्टमेंट सबसे बढ़िया रहेगी ?

 

Personality Development in Hindi – अपने ऊपर कैसे इन्वेस्ट करें?

 

सिर्फ एक, और एक ही इन्वेस्टमेंट है जो आपको सबसे बढ़िया और सबसे अच्छा return दे सकती है और वो है खुद में इन्वेस्टमेंट करना। जितना भी समय, जितना भी अपना पैसा आप अपने ऊपर खर्च करेंगे, बिताएंगे, आपकी इन्वेस्टमेंट इससे बढ़िया कही और नहीं हो सकती।

 

क्यूंकि अगर हम ऐसे इंसान बन जाएँ जो ग्रो करना ही बंद कर दें, अगर हम सिर्फ वही एक इंसान हैं जो पिछले साल भी थे, पिछले दो साल भी थे, तो उलटिमेटली कोई ना हमारे साथ काम करेगा, ना हम किसी की वैल्यू क्रिएट कर पाएंगे, और हमारे पास जो भी पैसा बचा हुआ है, वो भी जंग खाता रहेगा।

 

अपने ऊपर की इन्वेस्टमेंट सबसे बढ़िया इन्वेस्टमेंट हैं।

 

एक दूसरा फायदा भी अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट करने का ये होता है की जब आप अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट करते हैं लोगों को दिखता है। लोगों को ये दिखता है की आप अपने आप से प्यार करते है। एक घमंड वाला प्यार नहीं, सच्चा प्यार, एक सेल्फ कॉन्फिडेंस है, एक तजुर्बा है, एक विश्वास है की जो मैं करना चाहता हूँ या चाहती हूँ वो मैं कर सकता हूँ या सकती हूँ।

 

एक इंटरव्यू था बॉलीवुड बादशाह शाहरुख़ खान का और एक रिपोर्टर उनसे पूछता है “खान भाई आप ये क्यों बोलते रहते हैं की i’m the best ……. i’m the best” और उनका बहुत ही सिंपल सा जवाब है की “यार मैं अपने आपको नहीं बोलूंगा i’m the best, तो कोई भी मेरे सामने खड़ा होके कभी भी ये नहीं बोलेगा की you’re the best”

 

सब कुछ आप ही से शुरू होता है।

 

तो अगर अपने ऊपर करी इन्वेस्टमेंट ही सबसे इम्पोर्टेन्ट इन्वेस्टमेंट है तो उस इन्वेस्टमेंट का मतलब क्या है ?

 

अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट करने की 5 स्पेसिफिक टॉपिक है –

 

#1 – Creativity (क्रिएटिविटी)

 

अपने बचपन को याद करिये घंटों बिता देते थे हम खिलौनों के साथ, एकदम मग्न, हम पहिओ के साथ खेल लेते थे, हम लट्टू के साथ खेल लेते थे, हम पेपर पे कोई भी कलर करते रहते थे, हम पेपर से कुछ कुछ बनाते रहते थे, दीवारों पे कुछ भी लिखते रहते थे।

 

हमे ये फर्क नहीं पड़ता था की हम कुछ ठोस, कुछ सही बना रहे हैं, लेकिन ये फर्क पड़ता था की हम अपने खयालों में, अपनी क्रिएटिविटी में, कही गुम हो गए हैं। और जैसे जैसे हम बड़े हुए, कही हमने इस क्रिएटिविटी को ही भुला दिया। हम काम करने की रट में फंस गए।

 

रोज की जद्दो-जेहत उठो, ब्रश करो, काम पे जाओ, बॉस को हेलो बोलो, गुड बाई बोलो, वापस आओ। इन सारे चीजों के अंदर हम अपनी आपकी क्रिएटिविटी को प्रोस्पर (सफल या ग्रो) नहीं करने देते।

 

तो पहली चीज अपने ऊपर इन्वेस्टमेंट करने का की अपने आपकी क्रिएटिविटी को मरने मत दीजिये।

 

कुछ ऐसा करिये हर रोज, हर हफ्ते, हर महीने, जो आपकी क्रिएटिव juices है उसको बाहर लाये, गाइये, कुछ बनाइये, कुछ सीखिए, चाहे वो कोई खेल हो, या चाहे वो कोई लैंग्वेज हो, या चाहे वो कोई नाटक हो, कुछ भी हो। लेकिन कोई ऐसी चीज जिसको करने के लिए ना आपको कोई पैसे दे रहा है, ना वो चीज करके आपको कोई पैसे मिलेंगे, आप वो सिर्फ उसके प्यार के लिए कर रहे हैं, अपनी क्रिएटिविटी के लिए कर रहे हैं।

 

 

#2 – Self Confidence

 

अपने अंदर अगर आप सेल्फ कॉन्फिडेंस जेनेरेट कर पाएंगे, तो वो बहुत जरुरी होगा अपने ऊपर की इन्वेस्टमेंट पे। क्यूंकि अगर आप खुद ही अपने ऊपर विश्वास नहीं करते हैं तो लोग आपकी ऊपर कभी विश्वास नहीं करेंगे और सेल्फ कॉन्फिडेंस के काफी तरीके हैं, काफी पॉइंट्स हैं की सेल्फ कॉन्फिडेंस हम जेनेरेट कैसे करते हैं, हम अपने आप पे विश्वास करना कैसे सीख सकते हैं।

 

 

#3 – Knowledge & Education

 

इसका मतलब ये नहीं हैं की आप स्कूल की क्लास में, कॉलेज के क्लास में बैठे हुए हैं, आपने ये कोर्स किया है, उसमें आपको इतने नंबर मिले थे। ये सभी फालतू चीज है।

 

क्या आप जेनुइनली कुछ जानते हैं, क्या आपके दिमाग में किसी टॉपिक के ऊपर एक स्ट्रांग पॉइंट ऑफ़ व्यू है, क्या उस पॉइंट ऑफ़ व्यू को आपने समझा है, क्या oppsite पॉइंट ऑफ़ व्यू को आपने समझा हैं, क्या आप ये दुनिया के बारे में जानते हैं की ये कैसे काम करता है, कैसे चलती है, क्यूँ चलती है। क्यूंकि यही फंडामेंटल नॉलेज है, इसी को असल में एजुकेशन कहते हैं।

 

की क्या आप इस दुनिया के बारे में वो सब जानते हैं जो आपको जानना जरुरी है, बुक्स पढ़िए, हमारे जैसे आर्टिकल पढ़िए, वीडियोस देखिये, लोगों से बातें करिये। ऐसे लोगों से जिनका नजरियां, जिनका वर्ल्ड व्यू आपसे अलग हो, क्यूंकि उससे आपको कुछ नया सीखने को मिलेगा, आपको कुछ ऐसा पता चलेगा जो आपको अभी तक नहीं पता था।

 

 

#4 – Health

 

आपकी हेल्थ के ऊपर आप इन्वेस्ट करिये। और ना ही आपकी फिजिकल हेल्थ, आपकी मेन्टल हेल्थ भी। क्या आप अच्छे से खातें हैं, क्या आप अच्छे से सोते हैं, क्या आप मेडिटेट कर पाते हैं, क्या आप ध्यान करते हैं, क्या आप उन सारी चीजों से दूर हैं जो आपकी बॉडी को हार्म करती है, जैसे सिगरेट, ड्रिंकिंग, ड्रग्स etc. ऐसी कोई भी चीज जो आपको रियल जिंदगी से दूर ले जा रही है और आपको एक बहुत ही छोटा सा मॉमेंट्री हैप्पीनेस, या हैप्पी मोमेंट दे रही है। ये कभी भी लॉन्ग लास्टिंग नहीं होगा। आप कभी भी उसकी वजह से अपने ऊपर लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट नहीं कर पाएंगे।

 

इसलिए सही खाइये, डेली एक्सरसाइज करिये, कोई स्पोर्ट खेल लीजिये, जरुरी नहीं है की हर किसी को gym ही जाना है, लेकिन अपनी बॉडी को उतना ही ध्यान दीजिये जितना आप किसी और चीज को ध्यान देते हैं जिससे आपको खुशी मिलती है। क्यूंकि उलटिमेटली हेल्थ ही सब कुछ है।

 

 

#5 – Finance

 

और दोस्तों अपने ऊपर इन्वेस्ट करने का जरुरी टॉपिक है आपका पैसे की तरफ नजरिया। आप पैसे के साथ कितने केयरफुल है, कितने अवेयर हैं, क्या आपको समझ भी आती है की एक क्रेडिट कार्ड कैसे काम करता है, एक डेबिट कार्ड कैसे काम करता है, पैसों की इंवेस्टमेंट्स कैसे काम करती हैं, स्टॉक मार्किट में कैसे खेला जाये, अगर मैं एक फिक्स्ड डिपाजिट में पैसा डाल रहा हूँ उसका क्या मतलब है, मैं कितने साल पे अपनी सेविंग्स शुरू करूँ, कितना मुझे सेव करना चाहिए। ये सारी चीजें बहुत ज्यादा जरुरी हैं क्यूंकि उलटिमेटली पैसा बहुत जरुरी है, इस जिंदगी में, इस दुनिया में पैसा जरुरी है।

 

लेकिन उस पैसे से आप कैसे और पैसा बना सकते हैं ये कला बहुत ही कम लोगों को आती है और जिन जिन आती है वही अपने ऊपर सही इन्वेस्टमेंट कर पाते हैं।

 

 

Conclusion –

 

तो दोस्तों ये 5 चीजें जो आपके अपने इन्वेस्टमेंट के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है –

 

  1. क्रिएटिविटी – अपने आपको टाइम दीजिये क्रिएटिव होने का।
  2. सेल्फ कॉन्फिडेंस – अपने ऊपर विश्वास रखें।
  3. नॉलेज & एजुकेशन – ये जानिए या सीखिए की दुनिया कैसे चलती है।
  4. हेल्थ – आपकी फिजिकल हेल्थ और आपकी मेन्टल हेल्थ के लिए एक्सरसाइज करिये, मेडिटेट करिये, ठीक से सोइये, वो सारी चीजें मत करिये जिससे आप के शरीर को नुकसान मिलता है।
  5. फाइनेंस – आपका पैसे की तरफ नजरियां, आप उसको कैसे देखते हैं, सँभालते हैं और उसको कैसे ग्रो करते हैं।

 

इन पांच चीजों के चलते आप अपने ऊपर सबसे मीनिंगफुल इन्वेस्टमेंट करेंगे। अब आपको पता चल गया होगा की अगर आप सिर्फ पैसे के बारे में सोचते हैं जब आप ने इन्वेस्टमेंट के बारे में सोचते हैं तो आप उन 5 (पांच) में से सिर्फ एक चीज पर इन्वेस्टमेंट कर रहे हैं, जब की पूरी की पूरी और प्रॉपर इन्वेस्टमेंट इन पांचों चीजों से बनी होती है।

 

इसके और भी कुछ 36 माइक्रो पॉइंट्स है (36 WAYS TO INVEST IN YOURSELF) –

 

Personality Development in Hindi - 36 WAYS TO INVEST IN YOURSELF

 

1. Eat healthier

2. Learn stuff online

3. Learn to cook

4. Save your money

5. Don’t worry about opinions

6. Sleep and wake up early

7. Stop procrastinating

8. Get rid of toxic friends

9. Manage your time better

10. Travel more

11. Find a mentor

12. Stick to a routine

13. Learn a language

14. Invest your money

15. Set goals

16. Challenge yourself daily

17. Spend money on experience

18. Make a life plan

19. Practice gratitude

20. Forgive others

21. Read books

22. Don’t look for approval

23. Take notes

24. Learn more skills

25. Listen to podcasts

26. Drink less alcohol

27. Choose your friends wisely

28. Watch educational shows

29. Practice meditation

30. Visualize success

31. Stay in touch with family

32. Exercise

33. Start that business

34. Plan your days and weeks

35. Start a new hobby

36. DO ALL THESE THINGS

 

सम्बंधित लेख –

  1. Personality Development in Hindi – आप इस दुनिया के सबसे Important person है
  2. आत्मविश्वास – Never Fight with a Pig
  3. How to Control Your Mind in Hindi – माइंड को कण्ट्रोल करने का Useful टिप्स
  4. Personality Development Tips in Hindi – भगवान श्री कृष्ण की ये 5 बातें जरूर जानना चाहिए
  5. Loneliness को कैसे खत्म करें – Personality Development Tips in Hindi
  6. Personal Development in Hindi – Video Games अच्छा है या बुरा
  7. Personality Development in Hindi – समय की कद्र करना सीखे
  8. Personality Development in Hindi – 16 Practical Tips to Improve Yourself
  9. Leader Kaise Bane? – 5 Best Tips
  10. 3 Subconscious Mind Hacks – पर्सनल डेवलपमेंट टिप्स इन हिंदी
  11. Personality Development in Hindi – दुःख और पीड़ाओं से कैसे छूटें
  12. सक्सेसफुल आदमी की पावरफुल हैबिट – Habits of Successful People in Hindi
  13. Lucky और Unlucky में क्या अंतर है और आप कैसे Lucky बन सकते है – Lucky vs Unlucky
  14. Success Tips in Hindi – सफल होने का मूल मंत्र
  15. Best Motivational Poem – दर्द से जीत
  16. 10 Unique IQ Questions in Hindi – आपकी दिमागी उम्र क्या है?

 

 

तो दोस्तों आपको आज का ये Personality Development in Hindi – How to Invest in Yourself? कैसा लगा और क्या आज से पहले इन सभी के ऊपर आप अपना इन्वेस्टमेंट करते थे ? क्या आप पहले से इन सभी पॉइंट्स के बारे में जानते थे ? मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये और इस Personality Development in Hindi – How to Invest in Yourself ? को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment