What is PPI in Hindi ? PPI Kya Hai ? – Explained in Details

What is PPI? Explained in details | PPI Kya Hai ? Tech में ये कहाँ काम आता है ?

 
 दोस्तों हम सभी ने जब भी कोई स्मार्टफोन की स्क्रीन को compare करते है तो हम एक ही चीज compare करते है जिसको हम बोलते है ppi, ये ppi क्या है, एक स्मार्टफोन का स्क्रीन कितनी ppi की होनी चाहिए, आज आपको ये सब मैं इस पोस्ट में बताऊंगा।

PPI का Full Form –

 अब हम बात करेंगे PPI Kya Hai, देखिये PPI का full form है Pixels Per Inch, तो सबसे पहले हम बात करते है की Pixel क्या होता है –

PPI कहाँ काम आता है ?

 अब देखिये किसी भी स्क्रीन में चाहे वो आपके tv का हो, आपके मोबाइल या आपके लैपटॉप या फिर किसी भी इलेक्ट्रॉनिक device का जिसमें एक स्क्रीन लगा होता है वो बना होता है छोटे छोटे अलग अलग components से और उन components को हम बोलते है pixel.
 
 आपका जो स्क्रीन है उसमें बहुत सारे लाइन से arrangement होते है बहुत सारी छोटे छोटे लाखों pixels का और pixel जो है वो सबसे छोटे component है जो अपने आप में कोई रंग दिखाने के लिए eligible है।
 
 अब एक pixel में तीन छोटे छोटे pixels है, जिनको हम sub pixels बोलते है और वो जो तीन छोटे pixels होते है, वो होते है red, green और blue की lights छोटी छोटी lights, छोटी छोटी lights.
 
 जो AMOLED screens होते है उनमें जो blue color वाला pixel होता है वो दो pixels के अंदर शेयर किया हुआ होता है, लेकिन ये एक अलग topic है इसके बारे में आज बात नहीं करेंगे।

What is PPI



 आप ये मान लीजिये की आपकी pixel में तीन छोटी छोटी जो units लगी हुई है, वो red, green और blue अलग अलग colors दिखा सकती है और तीन colours की मदद से आप जो चाहे वो बना सकते है।

PPI काम कैसे करता है ?

 मान लीजिये आपको सिर्फ blue दिखाना है तो आप red और green को zero कर दीजिये सिर्फ आप blue को full कर दीजिये तो आपका जो स्क्रीन है वो पूरा blue हो जायेगा, और वो इतना छोटे है जो red और green की components है वो कही पे भी नजर नहीं आएगा की जो बीच में कुछ चीजें off है, आपको लगेगा की पूरा स्क्रीन जो है वो blue हो चुके है।
 
 मतलब आपको जो भी colour देखना है वही colour full हो जाएगी और बाकि जो colour है वो बिलकुल जीरो हो जाएगी, तो basically colour mixing की तकनीक से आपको अलग colour नजर आ सकते है।
 
 अब किसी भी स्क्रीन में जितने ज्यादा pixel होंगे जितने ज्यादा पास-पास छोटे छोटे pixels लगे होंगे उतनी ही exact details आपकी स्क्रीन पे देखने को मिलेंगी।

PPI कैसा दिखता है ?

 जैसे आपको याद होगा अगर अपने पुराने फ़ोन use किये होंगे nokia के जो थी उसमें अगर लिखा हुआ है मान लीजिये – settings, मतलब स्क्रीन पे जो settings word लिखा हुआ है, उसमें आप देखोगे तो आपको कुछ छोटे छोटे round shape वाली कुछ dots नजर आएंगे।
 
 लेकिन आज के टाइम पे जो स्मार्टफोन है, जिसमें हम browsing करते है, वीडियो देखते है, गेम खेलते है वगैरा वगैरा, तो इसके लिए इतने कम pixels से मतलब nokia में जो स्क्रीन थी वैसे स्क्रीन मतलब वैसे pixels से काम नहीं चलेगा, अगर कम pixels होंगे तो आपका जो स्मार्टफोन का स्क्रीन है उसमे आप जो देखते है।

What is PPI


– तो कुछ उस फोटो के जैसा नजर आएंगी, 

 
 इसलिए जो स्मार्टफोन है या फिर लैपटॉप या फिर 4k या ultra hd tv में जितने ज्यादा pixel होंगे उतनी ज्यादा अच्छी quality देखनेको मिलेंगी।
 
 लेकिन कही न कही इसका असर आपके फ़ोन के स्क्रीन size पे भी होता है, आप मान लीजिये की आपका फ़ोन का स्क्रीन size सिर्फ 4 inch का है, अब वो 4 inch के स्क्रीन size में अगर मैं 4k या hd display लगा दूंगा तो वो कुछ अच्छी नहीं होगी।
 
 उससे ultra आपके फ़ोन की जो बैटरी है वो जल्दी ख़त्म हो जाएगी क्यूंकि जो 4 inch का स्क्रीन है वो इतना बड़ा नहीं है की आप उसके अंदर अगर इतने ज्यादा pixels ठूस ठूस के भरा देंगे तो आपकी जो image quality है वो बहुत अच्छी हो जाएंगी।
 
 ऐसा बिलकुल भी नहीं है, लेकिन मैं आपको बता दूँ की जो human eye है वो एक normal distance से जब स्क्रीन को देखती है तो वो एक लिमिट के बाद में वो quality पे फर्क नहीं कर पाती है।

क्या हमारी आँखे Display Quality को अच्छे से Judge कर सकते है ?

 अगर में आपको एक quad hd display वाला फ़ोन दूँ और एक 4k display वाला फ़ोन दूँ तो अगर मैं उन दोनों फ़ोन को एकदम आस-पास रखके दिखता हूँ तो आप उसमें difference judge नहीं कर पाएंगे, वो दोनों स्क्रीन ही आपको same ही लगेंगे।
 
 तो pixel density जो है वो बहुत ज्यादा depend करती है स्क्रीन size पे, और आप कितना दूर से आप उसको देखने वाले है वो भी depends करता है।

PPI को कैसे Easy तरीकेसे Calculate करते है ?

 अब हम बात करते है की जो ppi है वो क्या होता है और इसको कैसे calculate करते है, तो मान लीजिये आपके फ़ोन का स्क्रीन है वो 5 inch का है और उसमें full hd का resolution है, तो full hd का मतलब क्या होता है की horizontally जो है वो 1080 pixels होते है और vertically जो है वो 1920 pixels होते है।
 
 तो आपके स्क्रीन का pixels जो है वो total जो हो जायेगा तो वो हो जायेगा 1080x1920 = 2073600 मतलब 2 मिलियन pixels के आस-पास है और जो स्क्रीन है वो है 2 mega pixel का।
 
 अब हम बात करते है pixels density की –
 
 तो देखिये आपके फ़ोन का स्क्रीन जो है वो मान लीजिये की 5 inch का है तो स्क्रीन जो है जैसे आप इस फोटो देखते है वैसे count करके वो 5 inch का होगा, अब आप सभी ने स्कूल में Pythagoras theorem पढ़ी होगी की – 
 
 ‘अगर किसी भी triangle में आपको दो sides पता हो तो आप तीसरी side पता आप आसानी से लगा सकते है’, 
 
 तो आपको क्या करना है जो 5 inch वाला full hd display का जो ppi calculate करना हो तो आपको ऐसे करना है –
 
 √ {(1080x1080) + (1920x1920)} = 2202.90717 
 
 और 2202.90717 को 5 से divide करेंगे तो हमे मिलेगा 440.58, तो आपको एक 5 inch वाला full hd वाला display में आपको 440 के आस-पास pixels मिलेगा।

What is PPI ?



 अगर आपके फ़ोन में 350 से 450 के बीच का अगर pixel per inch और या फिर 320 से ऊपर भी है, तो भी एकदम ठीक है, मतलब जब भी आप स्मार्टफोन ख़रीदे तो आपको 320 ppi से ऊपर वाला pixels का display ही लेना है।
 
 तो आपको ppi के बारे में समझ आगये होंगे, तो आप नया स्मार्टफोन को खरीदते वक़्त इस बारे में जरूर ध्यान रखियेगा।

 दोस्त आपको आज का हमारा ये Article (What is PPI ? – PPI Kya Hai) कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये।
 
 अब आप इस पोस्ट (PPI Kya Hai) को आपके friends के साथ facebook पे शेयर करियेगा, क्यूंकि सभी को इस बारे में पता चले।
 
 आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,
 
Wish You All The Very Best.

2 thoughts on “What is PPI in Hindi ? PPI Kya Hai ? – Explained in Details”

Leave a Comment