Sleep Paralysis क्या है ? Sleep Paralysis का सच क्या है ?

Sleep Paralysis क्या है ? – Hello दोस्तों, आज मैं एक बहुत इंटरेस्टिंग बात आपके लिए लेके आया हूँ। जो कही न कही हम सबके साथ हुआ ही होगा की नींद में ही एकदम से हमारी आँखे खुल जाते है और बाकि पूरा शरीर paralyze हुआ पड़ा होता है।

 

Sleep Paralysis क्या है ? Sleep Paralysis का सच क्या है ?

 

तो सबसे पहले ये जान लेते हैं की Sleep Paralysis होता क्या है ?

 

हमारे ऊपर कोई मॉन्स्टर या राक्षस आकर हमारा गला दबा रहा होता है, या फिर हमारे छाती पर बैठा होता है।

जिस वजह से हमें साँस लेने दिक्कत होती है, कुछ बोल भी नहीं पाते, हमारा पूरा शरीर move नहीं होती है।

ऐसा हम सभी के साथ पास्ट में जरूर हुआ है।

ये एक्सपीरियंस इतना ज्यादा रीयलिस्टिक होता है की हमको उस वक़्त ये समझ तक नहीं आता है की ये सपना है या की हकीकत। तो इसी एक्सपीरियंस को बोला जाता है Sleep Paralysis.

 

तो आज हम बात करेंगे की इसी Sleep Paralysis के बारे में।

 

Sleep Paralysis को लोग बीमारी की तरह देखते हैं। लेकिन ये सिर्फ एक एक्सपीरियंस या कंडीशन है।

काफी कम चान्सेस होते हैं की Sleep Paralysis आपकी किसी मेन्टल प्रॉब्लम से जुड़ा हो।

लेकिन कई बार ये एक्सपीरियंस काफी ज्यादा डरा देने वाली होती है। लेकिन कुछ ही सेकंड के अंदर सब कुछ नार्मल हो जाता है।

 

तो अब आपको बताएँगे की अगर आप नेक्स्ट टाइम ऐसा कुछ एक्सपीरियंस करते हैं तो आपको उसकी वजह से डर ना लगे या कमसे कम लगे।

 

 

Sleep Paralysis क्या है? और क्यूँ होता है?

 

Sleep Paralysis क्या है ? Sleep Paralysis का सच क्या है ?

 

Sleep Paralysis को पुराने समय में पैरानॉर्मल एक्टिविटीज से जोड़ कर देखा जाता था। और आज भी इसके बारे में जिन लोगों को ज्यादा नॉलेज नहीं होती या फिर इस बारे में कुछ पता नहीं होता है वो भी Sleep Paralysis को पैरानॉर्मल एक्टिविटीज से जोड़ कर देखते हैं।

और माना जाता है की अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है तो हो सकता है की कोई बुरी आत्मा या कोई मॉन्स्टर उस वक़्त आपके रूम में मजूद है।

लेकिन ये सच नहीं है।

आज विज्ञान हमे इसके बारे सच बताता है की Sleep Paralysis ज्यादातर 2 Conditions में होता है।

 

पहला जब हम लगभग सो चुके हों या फिर थोड़ा थोड़ा नींद आ ही रहा होता है।

दूसरा जब हमारी नींद पूरी हो चुकी हो और हम उठने वाले होते हैं।

 

इस तरह की सिचुएशन में हम चाह कर भी अपने शरीर को move नहीं कर पाता, कुछ बोलना चाह रहे होते हैं लेकिन कुछ बोल नहीं पाते हैं।

उस समय हार्टबीट तेज हो जाती है। कई केसेस में साँस लेने में प्रॉब्लम होती है। या दम घुटने जैसा महसूस होता है।

 

 

Sleep Paralysis के Symptoms क्या क्या होता है ?

 

  1. बॉडी को हिला नहीं पाते हैं।
  2. बोलना नहीं पाते हैं।
  3. सोते हुए भी Conscious फील करना।
  4. छाती पर अजीव से दबाव महसूस करना।
  5. पूरी बॉडी में किसी भी तरह की कोई सेंस ना होना।
  6. सिरदर्द होना, पसीना आना, muscle pain होना।
  7. Hallucinations (मतिभ्रम) के लक्षण देखे जाते है। यानी कुछ ऐसा दिखाई देते हैं जो एक्चुअल में होते है नहीं है। इसमें किसी अजीब तरह की creature को देखते हैं, या अलग अलग तरह की आवाजें सुनाई देता है या फिर ऐसा फील होता है की कोई आपका गला दबा रहा है। etc.

 

 

और पढ़े – Why We Sleep Book Summary in Hindi – अच्छी नींद ना लें तो कौनसी बीमारी हो सकती हैं ?

 

 

Sleep Paralysis क्यूँ होता है?

 

Sleep Paralysis क्या है  Sleep Paralysis का सच क्या है

 

हम जब सो रहे होते है उस समय हम 2 स्लीप साईकल से होकर गुजरते हैं।

  1. Non-Rapid Eye Movement Sleep – इसमें हम सपने नहीं देखते हैं।
  2. Rapid Eye Movement Sleep – इस सिचुएशन में हमारा सबकॉन्सियस माइंड काफी ज्यादा एक्टिव रहता है और इसी स्टेज में हम सपने देखते हैं।

 

और Rapid Eye Movement Sleep सिचुएशन में हमारी साँस तंत्र और आँखों के अलावा कोई भी muscle काम नहीं करता है। मतलब पूरा शरीर paralyze कर दिया जाता है।

ऐसे सिग्नल हमारा ब्रेन हमारी बॉडी को दे देता है। तो ऐसा होता क्यूँ है ? – असल में हमारे ब्रेन का ऐसा करने का जो रीज़न होता है वो ये होता है की हम सपनों में जो भी देख रहे हैं उसके अकॉर्डिंग रियलिटी में अपनी बॉडी को वैसे मूव ना करें।

 

मान लीजिये सपने में आप एक आर्मी बने हुए हो और युद्ध लड़ने जा रहे हो। तो इस सिचुएशन में अगर आप Rapid Eye Movement Sleep में नहीं हुए या फिर आप बाकि की बॉडी को अपने सपने के अकॉर्डिंग ही मूव करने लगें तो आपके बराबर में जो इंसान सो रहा है वो तो बिना बात के ही मार खायेगा ना।

 

बस इसी चीज से बचाने के लिए हमारा ब्रेन बाकि सारे शरीर को paralyze कर देता है।

 

इसी से कनेक्ट होता है हमारा Sleep Paralysis.

 

जब कोई इंसान Rapid Eye Movement Sleep सिचुएशन के बीच एकदम से उठ जाता है तो उसका ब्रेन पूरी तरह से अलर्ट होता है, उसकी ऑंखें भी खुली होती है, लेकिन उसके बाकि शरीर काम नहीं कर रहे होते।

यानी हमें लग रहा होता है की हम जाग रहे हैं लेकिन असल में माइंड में सपने चल रहे होते हैं, जिस वजह हमे Hallucinations होते हैं की हमे कोई देख रहा है, या फिर किसी के चलने की आवाज आ रही होती है, कोई हमारा गला दबा रहा है या फिर कोई हमारे छाती पर बैठा हुआ है।

 

 

और पढ़े – Sandeep Maheshwari Speech – Over-Thinking को कैसे Stop करें

 

 

क्या Sleep Paralysis खतरनाक होता है?

 

14 – 26 Age Group के 40% लोगों के साथ ये Sleep Paralysis कभी न कभी हुआ ही होगा।

एक बात आपको क्लियर कर दूँ की ये कोई खतरनाक या फिर कोई सीरियस मेन्टल प्रॉब्लम नहीं है। इसलिए इनसे डरने की कोई जरुरत नहीं है।

अगर आप इसे साल में 1 – 2 बार या फिर 3 – 6 में एक बार फील करते हैं तो ये नार्मल सी बात है।

लेकिन अगर आप हर हफ्ते या हर महीने इसे एक या दो बार या बार बार फील करते रहते हैं,

क्यूंकि इससे आपकी Stress और Anxiety बढ़ भी सकता है, जो हमारे शरीर के लिए खतरनाक होता है।

बार बार ऐसा होने से लोग Insomnia की शिकार हो जाते हैं।

तो इसलिए उस सिचुएशन में आपको किसी डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

 

 

और पढ़ें – How to Control Your Mind in Hindi – माइंड को कण्ट्रोल करने का Useful टिप्स

 

 

Sleep Paralysis से बचने के लिए Precaution क्या है?

 

जैसा की हमने पहले कहा है की ये कोई सीरियस प्रॉब्लम नहीं है।

लेकिन अगर इसे बार बार फील करते हैं तो आपके लिए इन बातों पर ध्यान देना जरुरी है –

 

  1. Alcohol बिलकुल ना लें।
  2. हर रात एक ही समय पर सोये।
  3. देर रात तक अगर जरुरी ना हो तो ना जागे।
  4. 6 – 8 घंटे की नींद जरूर लीजिये।
  5. सोने से पहले Horror Movies/Videos ना देखें।
  6. सोने से पहले Affirmations पढ़ें।
  7. सोने से पहले कुछ मिनट तक मैडिटेशन करें।
  8. गर्मिओं के दिनों में सोने से पहले ठंडे पानी से नहाये। और सर्दिओं के दिनों में गर्म पानी से नहा कर ही सोये।
  9. रात में Non-veg ना खाये।
  10. हर शाम को Exercise करिये।
  11. सोने से पहले एक गिलास पानी पी कर सोये।

 

 

और पढ़ें – अच्छी नींद के लिए क्या करें – Personality Development in Hindi

 

 

Conclusion

 

इन सारे पॉइंट्स को अगर आप ध्यान में रखें तो आप Sleep Paralysis से आसानी से बच सकते हैं।

तो दोस्तों आपको आज का यह Sleep Paralysis क्या है ? Sleep Paralysis का सच क्या है ?” कैसा लगा ?

आपने ऐसा कब फील किया था या कभी भी आपने Sleep Paralysis को एक्सपीरियंस नहीं किया,

और अगर आपने Sleep Paralysis को एक्सपीरियंस किया तो आपको उस वक़्त कैसा फील हुआ था वो भी मुझे नीचे कमेंट में जरूर बताये।

तो अगर आप Sleep Paralysis से बचना चाहते हैं तो ऊपर बताये गए सारे पॉइंट्स को फॉलो करें।

और अगर उनसे भी आप Sleep Paralysis से बच नहीं पाए हैं तो डॉक्टर की सलाह लीजिये।

 

इस “Sleep Paralysis क्या है ? Sleep Paralysis का सच क्या है ?” को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

 

 

सम्बंधित लेख –

  1. 45 Health Tips in Hindi – स्वस्थ रहने के लिए दिनचर्या कैसा होना चाहिए
  2. Morning Motivational Affirmations in Hindi – ये Affirmations आपकी जिंदगी बदल देगा
  3. Night Before Sleep Positive Motivational Affirmations in Hindi – सोने से पहले ये जरूर पढ़ना
  4. Benefits of Positive Affirmations in Hindi – सकारात्मक Affirmations के लाभ जानिए
  5. Affirmations in Hindi – हर सुबह और सोने से पहले इसे जरूर पढ़ें
  6. Activate Your Brain Book Summary in Hindi – अपने दिमाग को पॉवरफुल बनाने का तरीका
  7. 10% Happier Book Summary in Hindi – ध्यान के बारे में Detail में जानिए
  8. The Power of Your Subconscious Mind Book Summary in Hindi – अवचेतन मन की शक्ति

 

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment