Software Kya Hai ? Software के प्रकार और कैसे बनाते है ? Detail Explained in Hindi

Software Kya Hai ? – Hello दोस्तों, आज मैं आपको बताने वाला हूँ की – Software क्या है ? Software के प्रकार और Software कैसे बनाते या Develop करते है ? आप तो जानते ही है की हर चीज में एक Hardware और एक Software होता है।

जैसे – हमारे जो Physical Body है वो Hardware और जो Mind, feelings, thinking(thoughts), sense होता है वो Software है।


 वैसे ही Computer की भी दो Part होता है – Hardware और Hardware को चलाने के लिए Software. तो इसी Software के बारे में हम Detail में जानेंगे आज।


 अगर आप Software के बारे में Detail में जानना चाहते है तो आप ये Article आगे पढ़ सकते है।

Software Kya Hai ? सॉफ्टवेयर क्या है ? Detail Explained in Hindi

 

Software Kya Hai ? What is Software in Hindi ?

 Software कुछ Programs के एक Collection होते है, Procedures होते है और कुछ Instructions होती है, जो आपके Computer के कोई भी काम या कोई भी Task Perform करता है।


 Software वो होता है जिसके through आप Computer में कोई भी काम कर सकते है जैसे की video देखना, गाना सुनना, game खेलना, Internet Browsing करना, Text format में कुछ लिखा etc.


 तो आप Computer में मतलब जो Screen पे देखते है, आप जैसे की keyboard में कुछ type करते है, या फिर arrow को use करके कुछ select करते है और उससे होता क्या है की आप कुछ देख पाते हो, जो आप देखना चाहते हो। तो वो आप Software की वजह से कर या देख सकते हो।


 Simple भाषा में बताऊँ तो Software वो होता है जो आपके Computer Hardware के Function को Properly Manage करने के लिए काम में आता है। बिना Software के जो Computer होता है उसको हम एक Computer नहीं बोल सकते।


 दोस्तों Software जो होता है ना वो आपके Computer में या Smartphone में अलग अलग काम के लिए अलग अलग Software का Use किया जाता है।

Example of Software:

software



1. Microsoft Office: इसके अंदर बहुत कुछ Software होता है, अलग अलग काम के लिए। जैसे की – Outlook, OneDrive, Word, Excel, PowerPoint, OneNote, SharePoint, Microsoft Teams, Yammer.

2. JioSaavn/Google Play Music/VLC Media Player etc. – ये Audio/Music सुनने के use किया गया software है।


3. MX Player/VLC Media Player/Windows Media Player etc. – ये Software Video देखने के हम use करते है।


4. Quick Heal, Norton, McAfee: ये है Antivirus Software.


5. Outlook, Gmail, Thunderbird: ये Software हम EMail लिखने, Send और received करने के लिए use करते है।


6. Computer Drivers(Bluetooth driver, Elantech Touchpad, Realtek Audio Driver, Dolby Atmos Audio Driver etc.): ये जो है इसको हम अपने computer को Drive करने के लिए driver software को use करते है।


7. PUBG, Call Of Duty, Clash of Clans, God of War, GTA(Grand Theft Auto): ये है Gaming Software, मतलब ये Game हम खेलते है, इनको भी Software ही बोलते है।


8. Google Chrome, Mozilla Firefox, Internet Explorer, UC Browser: ये software हम Internet Browsing करने के लिए use करते है।


9. Android, IOS, Windows, MacOS, Linux: ये Software हम अपने Computer System को चलाने के लिए use करते है। जिसको हम Computer की language में बोलते है Operating System Software.


10. Adobe Photoshop, Paint, Coreldraw, PhotoScape: ये Software हम Photo या कुछ Design Edit or Create करने के लिए use करते है।


11. Filmora, Kinemaster, iMovie, Final Cut Pro, etc.: ये Software हम Video Editing करने के लिए Use करते है।


12. Audacity, FL Studio, etc.: ये Software हम Audio Editing करने के लिए use करते है।


13. Unity, Unreal Engine, Blender, Steam, Gamesalad, Stencyl, etc.: ये Software हम Game बनाने के लिए Use करते है।


14. Java, C, C++, HTML, Ruby, Python, PHP, Swift,  C# (C- Sharp), SQL, JavaScript, MATLAB, Visual Basic .NET: ये जो है हम इनको अपने Computer में Programming लिखने के लिए Use करते है।


15. Disk Cleanup, Backup, Disk Defragmentation, etc.: ये Software हम अपने computer के Utility को manage करने के लिए use करते है।


दोस्तों, ऐसे ही और बहुत सारे मतलब लाखो-करोड़ो Software Available है Computer की दुनिया में, जिसको हम लोग अलग अलग काम के Use करते है।

Software के प्रकार(Types of Software):

1. System Software
   1.1 Operating System Software
   1.2 Device Drivers
   1.3 Utilities

2. Application Software
   2.1 Basic Application
   2.2 Specialized Application

3. Malicious Software
4. Programming Software

 

1. System Software क्या है ?

operating2Bsystem



 आपके Computer के जो Hardware होते है और जो Application Programs होते है, उन दोनों के बीच में connectivity करते है, जिससे वो user की requirement के हिसाब से अपना अपना काम कर सके।


Example: मान लीजिये – जो vlc player जो है ये एक application program है, जिसमें आप गाने सुन सकते है, Video देख सकते है।


 लेकिन इसमें जो audio चल रहा है, videos चल रहा है, जो आपको sound आ रहा है, तो आपके Computer के hardware के अंदर एक sound card होता है, तो उन Sound Card के through आपको sound सुनने को मिल रहा है और vlc player में आप videos को रहे है।


 तो आपके Computer में जो Hardware मतलब Sound Card है और vlc media player जो application software है, इन दोनों के बीच में connectivity बनाया रखता है आपके System Software.


तो System Software क्या है की Computer Program है जो basically Design किया गया है Computer Hardware और Application Program को smoothly Run करने के लिए।

Example of System Software: Operating Systems, Device Drivers, Utilities.

1.1 Operating Software क्या है ?

 Operating System वो होता है जो आपके Systems को Operate करता है। ये बहुत ही बड़ा Program है। जो आपके pure Hardware को एकदम Smoothly चलाये रखता है। इसको आप दिमाग या दिल भी कह सकते हो।


 बिना Operating System के आप कोई भी Computer, Smartphone, Tablet, calculator, Tv ये सब Devices आप नहीं चला सकते।


 Example of Operating System Software: Android, IOS, Windows, MacOS, Linux.

1.2 Device Driver Software क्या है ?

 ये Device Driver Software वो होता है, जिससे आपके device के particular किसी Single Device को Operate करते है, जो एक तरह की Software Programs होते है। हर अलग अलग छोटे छोटे Hardware Devices के लिए अलग अलग Device Driver को install करना पड़ता है आपके Computer में।


तो Device Driver वो होता है आपके Hardware के अंदर जो छोटे छोटे इनपुट और आउटपुट उपकरणों को पुरे Computer में आपस में जुड़ते है।


Example: Sound Card Driver, Wifi Card Driver, Bluetooth Card Driver, Graphics Card Driver, Touchpad Driver, Motherboard Driver, etc.

 

1.3 Utility Software क्या है ?

 Utility कुछ Tools होता है, जिससे आपके computer एक Service देता है। ये Utility software आपके Operating System में जो Device Driver है और आपके जो Security System है उनको Manage करते है।


 इनका आपके Computer Hardware में सीधा संपर्क नहीं होते है, ये Device Driver के through Operating System पर जाते है और उसके बाद आपके Hardware को manage करता है।


 simple भाषा में कहु तो ये आपको assist करता है आपके Computer को maintenance और care करने के लिए।

 

2. Application Software क्या है ?

application software

 दोस्त Application Software वो software होते है, जो कि Computer पर कोई ना कोई Task Perform करते है। जो किसी Particular काम करने के लिए मतलब अलग अलग काम के लिए बनाये जाते है।


Application Software को हम Apps भी बोलते है short में।


Example: जैसे Photoshop एक Application Software है, जिसका काम है Photos/Images को Edit करना।


 ऐसे ही बहुत सारे Application Software market में Available है। जिसको हम लोग अलग अलग काम के लिए use करते है।


Google Play Store, Microsoft Store और Apple Store में जितने भी Apps और Games है, वो सभी Application Software ही है।

Application Software का दो भाग है :-जैसे की –

  1. Basic Application Software
  2. Specialized Application Software
 

2.1 Basic Application

 Basic Application वो होता है जो हम लोग Normal काम के लिए, Personal Use के लिए Use करते है। जैसा की – video player, games etc.

 
Example:-
  • Word Processing
  • Multimedia
  • Presentation
  • Graphics
  • Web Design
  • Web Browser

 

2.2 Specialized Application

 Specialized Application वो होता है, जिसको हम लोग बड़े बड़े Offices, Corporate या College या Government Use करते है, जिसको Personal Use के नहीं बनाया जाता है या आप Personally Use नहीं कर सकते।

 
Example:-
  • Accounting
  • Billing
  • Report Card
  • Reservation
  • Payroll Management

 

3. Malicious Software or Malware क्या है ?

Malicious Software or Malware



 जो Malicious Software है, इसको किसी भी कंप्यूटर को नुकसान और बाधित करने के लिए Develop किया गया है।


 जैसे, Malware  Computer Virus, Threats, Ransomware etc.

 Malware एक application ही होता है, जिसे आपके computer को harm, damage और आपके computer के सभी details को चुराने के लिए ये internet से आपके computer पर भेजे जाते है, किसी गलत तरीके की website से।


 ये basically application software भी होते है या किसी other coding/programming होते है।


 ये जो Malicious Software होते है, ये आपके Computer या Smartphone पर internet से ही आते है। आपने किसी ऐसी website अपने browser पे open किया है, जिसमे कोई Security नहीं है, internet ऐसे करोड़ो website है जिस पर कोई security नहीं होते है, और उसी website से आपके computer पे Malware, Computer Virus, Threats, Ransomware etc. आते है।


 कई बार ये malicious software ऐसे होते है की आपके Computer या Smartphone में Malware, Computer Virus, Threats, Ransomware etc. आ जाते है, लेकिन आपको पता नहीं चलता है और आपके device से सारे Data चुरा लिए जाते है। और आपके device को harm और damage भी करता चला जाता है।


 तो इसीलिए जब भी आप internet पे कुछ Browsing करते है, तो ये बात ध्यान में रखिये की आप किसी ऐसी site को open तो नहीं कर रहे है जिसपर linkbar में “not secure” दिखा रहे है, तो उस site से आप तुरंत भाग जाइये।

4. Programming Software क्या है ?

 Programming Software वो होता है, जो आपको Help करते है दूसरे Software को बनाने के लिए।


Example:- Text Editor, Compiler and Debugger (Notepad++, Unreal Engine, Unity, Android Studio, Java Development Kit, Xcode, Eclipse, Microsoft Visual Studio, Gradle, Memu, Git, Remix OS, Intellij IDEA, Net Beans, AngularJS, JQuery, BootStrap etc.)


 ऐसे ही और बहुत सारे Programming Software Available है, जिसको Use करके हम लोग किसी और Software को Create or Develop करते है।


Software कैसे बनाते है ? How to Develop Software in Hindi ?

software development



 Software Develop करने के लिए बहुत सारे Programming Languages का Use किया जाता है। जैसे – Java, C, C++, HTML, Ruby, Python, PHP, Swift,  C# (C- Sharp), SQL, JavaScript, etc.


 ये सब Computer Languages है, इसी को use करके आप कोई भी Program लिख सकते है।


 तो Software बनाने के लिए आपको सीखना पड़ेगा, computer science subject को पढ़ना होगा, और बाद में आपको BCA, MCA करना होगा या Software Engineer पढ़ना होगा। तभी आप Software Develop कर पाओगे।


 आपको Programming Languages की knowledge होना बहुत जरुरी है।


 जब आप Programming Languages को जान लेंगे, उसके बाद आपके Computer में Programming Software जैसे – Text Editor, Compiler and Debugger (Notepad++, Unreal Engine, Unity, Android Studio, Java Development Kit, Xcode, Eclipse, Microsoft Visual Studio, Gradle, Memu, Git, Remix OS, Intellij IDEA, Net Beans, AngularJS, JQuery, BootStrap etc.) को Install करना पड़ेगा और उसके बाद में आपको Programming Languages को Use करके Algorithms के साथ Programming या Coding लिखना पड़ेगा।


 उसके बाद उस Program को Run करना पड़ेगा और देखना पड़ेगा की ये चल रहा है की नहीं और Test भी करना पड़ेगा, उसके बाद आप कह सकते हो की आपके पास एक Software ready है Use करने के लिए।


 दोस्त अगर आपने सभी Programming Languages को अच्छे से सीख लिया ना, तो आप कोई भी बड़ा या छोटा Software बना सकते है easily.


 अभी जैसे आप PUBG खेल रहे हो, उसके जैसा ही अपने Algorithms के साथ आप अपने हिसाब से Game बना कर खेल सकते है।


 तो दोस्तों, आपको आज का हमारा यह Article (Software Kya Hai ? What is Software in Hindi ? Detail Explained in Hindi) कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताये और अगर आपको इससे related कुछ बातें समझ में नहीं आया है, तो आप नीचे कमेंट में मुझे पूछ सकते है और इस Article (Software Kya Hai ? Detail Explained in Hindi) को अपने दोस्तों के साथ Share करना ना भूले दोस्त।

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,
Wish You All The Very Best.

2 thoughts on “Software Kya Hai ? Software के प्रकार और कैसे बनाते है ? Detail Explained in Hindi”

Leave a Comment