Stree Real Horror Story in Hindi | Stree Real Bhutiya Story

Stree Real Horror Story in Hindi – Hello दोस्तों, आज मैं आपके एक बहुत डरावने वाली Real Horror Story लेके आया हूँ। आपने तो Stree Movie देखा ही होगा, मैंने भी देखा और देखने के बाद उसके बारे में थोड़ा रिसर्च किया तो पता चला की वो Movie एक सत्य घटना पर ही आधारित है।

तो आज हम उसी स्टोरी के बारे में बात करेंगे। तो बिना देरी के चलिए शुरू करते हैं –

 

Stree Real Horror Story in Hindi

 

ये कहानी है 1984 की कर्नाटक के एक छोटे से गाँव की है।

उस गाँव में कई दिनों से काफी हलचल मची हुई थी।

रोज रात में गाँव का कोई ना कोई मर्द अपने ही घर से गायब हो रहा था।

ये खबर सुनकर वेंकट नाम का एक रिपोर्टर उस गाँव में पहुंचा।

शाम के कुछ 6 ही बजे होंगे, लेकिन गाँव के लोग जल्दी-जल्दी अपनी दुकानें बंद करके घर लौट रहे थे।

वेंकट ने देखा की हर घर के main door पर कनाडा लैंग्वेज में “नाले बा” यानी “कल आना”, ऐसा लिखा है।

उसने वहां एक पुजारी को रोकके पूछा की इस गाँव में ये सब क्या हो रहा है ?

उस पुजारी ने उसे बताया की उस गाँव में एक लाल साड़ी वाली चुड़ैल घूम रही है, वो रोज रात में घर घर जाके जोड़ से दरवाजा खटखटाती, और घर के अंदर जो भी मर्द है, उसका नाम पुकारती।

पुजारी जी ने फिर कहा कि कोई भी आदमी उसके आवाज को नजरअंदाज नहीं कर पाते और दरवाजा खोल देता है। कहते हैं वो चुड़ैल हर आदमी को अपने वश करके कही दूर ले जाती है और मार देती है। इसलिए इस गाँव के लोगों ने उससे बचने के लिए घर के बाहर “नाले बा यानी कल आना” लिखना शुरू किया।

पुजारी जी ने फिर से कहा अगर उस चुड़ैल ने वो पढ़ लिया तो वो कल आता है और कल देखता है फिर से वही लिखा हुआ है “नाले बा यानी कल आना” तो वो वापस चली जाती है।

इतना कहकर वो पुजारी जल्दी जल्दी अपने घर के रास्ते चला गया।

वेंकट को तो कल के अखबार के लिए एक अच्छी कहानी तो मिल गयी, पर कुछ ही दूर जाते ही, उसका स्कूटर पंचर हो गया।

अब अँधेरा बहुत हो चूका था, और गाँव के सभी लोग अपने जा चुके थे।

अचानक से वेंकट को लगा की उसके आसपास कोई है, तो वो स्कूटर लिए तेजी से आगे चला।

किसी ने बहुत ही मधुर आवाज में उसका नाम पुकारा – वेंकट…… वेंकट……

वेंकट ने जैसे ही स्कूटर को रोककर उसके शीशे की ओर देखा, तो उन्हें देखा की वो चुड़ैल उनके पीछे ही खड़ा है।

वो तुरंत स्कूटर को छोड़कर बहुत ही तेजी से गाँव की तरफ आगे भागा, वो एक छोटे से मकान में जाके छिप गया और दरवाजा अंदर से कसके बंद कर लिया।

अब दरवाजे पर जोड़ जोड़ से खत खत होने लगी और उसे अजीबो-गरीब आवाजें सुनाई देने लगी।

वेंकट बहुत बुरी तरह डरा हुआ था।

कुछ देर बाद जब सारी आवाजें शांत हुई, तो उसने बहुत हिम्मत करके दरवाजा खोला, तो वहां कोई नहीं था। लेकिन अचानक से वो चुड़ैल उसके सामने आया और जोड़-जोड़ से भयानक आवाज निकलने लगे।

लेकिन बाद में क्या हुआ उसको याद नहीं !

उसके बाद फिर सुबह हुई तो वेंकट उसी घर में बेहोशी की हालत में पड़ा मिला।

वो दिन था और आज का दिन वेंकट को कभी ये समझ नहीं आया की उस रात उसके साथ क्या हुआ।

गाँव के लोगों ने की वो उस गाँव का नहीं है, शायद इसलिए बच गया, चुड़ैल के हाथों से।

ऐसे ही कुछ महीना बीत गया और कुछ महीनों बाद उस चुड़ैल का कोई किस्सा सुनने में नहीं आया।

लेकिन आज भी उस गाँव के लोगों ने अपने घर के बाहर “नाले बा यानी कल आना”, ऐसा लिखा है।

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों क्या आपको पता चला की Stree Movie की असली Horror कहानी कैसा था ?

क्या आपको पहले ही इस स्टोरी के बारे में पता था ?

आपको आज का यह real horror story कैसा लगा ?

अगर आपके मन में कुछ भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

अगर आपके पास ऐसी कोई रियल horror स्टोरी है तो हमें ईमेल में भेज सकते हैं – [email protected]

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

सम्बंधित लेख –

  1. Ragini MMS Real Horror Story in Hindi

Leave a Comment