Study Tips in Hindi – ऐसे पढ़ोगे तो मिलेगी कामयाबी

Study Tips in Hindi – Hey दोस्तों, आज हम जानेंगे की क्या पढ़ना है, कैसे पढ़ना है और कितना पढ़ना है। इसके बारे में डिटेल में बताएँगे, दोस्तों ये आर्टिकल राजस्थान से हमारे एक दोस्त ने भेजा है। उन्होंने बहुत ही अच्छी poems भी भेजा है अगर आपने नहीं पढ़ा है तो उसको भी जरूर पढ़ें।

तो चलिए शुरू करते हैं –

 

Study Tips in Hindi – ऐसे पढ़ोगे तो मिलेगी कामयाबी

 

विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं, स्कूली शिक्षा, कॉलेज की डिग्रियां आदि प्राप्त करने की प्रतिस्पर्धा इतनी बढ़ चुकी हैं कि अगले कुछ वर्षों में यह कौनसा रूप धारण कर ले कहना कठिन हैं।

नई शिक्षा नीति व असफल होने के भय ने परीक्षार्थियों को इस प्रकार से जकड़ रखा हैं कि वह स्वतंत्र होते हुए भी अस्वतंत्रता महसूस करते हैं।

इन परिस्थितियों में मुख्य समस्या आती हैं क्या पढ़ूं?, कैसे पढ़ूं?, और कितना पढ़ना हैं?

 

 

मन का सवाल

 

कहीं ना कहीं व्यक्ति सफल व्यक्ति के प्रभाव को ग्रहण करना चाहता हैं। यह बात नहीं हैं कि ये सभी प्रश्न औचित्यपूर्ण नहीं हैं इन सब का भी एक स्वतंत्र महत्व हैं।

 

मैं क्या पढ़ूं? इस सवाल का जवाब तो साधारणतः हर वह व्यक्ति दे सकता हैं जो आपकी तरह प्रतियोगी परीक्षा में भाग ले रहा हो।

 

तो इसके अलावा सवाल रहता है कैसे व कितना पढ़ा जाए ? महत्वपूर्ण ये नहीं है कि आप कितने घण्टे पढ़ते हैं बल्कि महत्वपूर्ण ये हैं कि आप कैसे पढ़ते हैं!

 

समय तालिका (सारणी) बनाकर संबंधित समस्त विषयों को पढ़ना एक प्रभावी तरीका कहा जा सकता हैं।

 

शारीरिक तंदुरुस्ती को ध्यान में रखना भी आवश्यक होता हैं। जितना हो सके परिवार व ऐसे स्थानों से दूर रहना जरूरी हैं जहां अध्ययन में व्यवधान उत्पन्न हो।

 

 

स्टडी कैसे करते हैं?

 

अगर परीक्षा को काफी समय हो तो किताबों में से अध्ययन के दौरान मुख्य बिंदु को नोट्स के रूप में निरूपित करना उचित होता हैं।

 

ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी संस्था या अन्य व्यक्ति के नोट्स पढ़ कर अपनी पढ़ाई की शुरुआत नहीं की जानी चाहिए।

 

सर्वप्रथम संपूर्ण किताबों का अध्ययन कर अपने नोट्स तैयार करने के उपरांत उनसे अपने नोट्स की तुलना करना, यह सर्वाधिक कामयाब व्यक्तियों की मान्यता हैं |

 

 

एकाग्रता कैसे बढ़ाये?

 

अब मन विचलित तब हो जाता हैं जब हम एक से अधिक कामयाब व्यक्तियों के विचारों को अपनाना शुरू करते हैं और मतैक्य ना होने पर नकारात्मक मन: स्थिति बना लेते हैं।

 

ऐसे में “सुनो सबकी और करो मन की” कहावत का अनुसरण करना उपयुक्त रहेगा अर्थात कुछ लोग आपको सफल बनाने में सहायक सिद्ध होंगे तो कुछ आपको गिराने में जुटे होंगे ऐसी स्थिति में ज्यादातर अपने गुरुजनों और शुभचिंतकों से परामर्श करना उचित रहता हैं।

 

इसके अलावा संतान, दाम्पत्य जीवन, आर्थिक चिंतन आदि से दूरी बनाए रखकर (यदि संभव हो तो) पढ़ाई करना काफी हद तक लाभप्रद सिद्ध होता हैं।

 

सुबह जितना जल्दी हो सके उठकर पढ़ाई को समय देने से रात की नींद के पश्चात दिमाग शांत होने के कारण याद अधिक रहता हैं।

 

यह ध्यान रखना चाहिए कि आपकी पसंदीदा विषय सर्वप्रथम अध्ययन में होनी चाहिए, कम रूचि की विषय को अंत में पढ़ना चाहिए।

 

पढ़ने बैठने का ढंग इतना महत्व नहीं रखता लेकिन यह अनिवार्य हैं कि सोते-सोते नहीं पढ़ना चाहिए।

 

इसके अतिरिक्त किसी भी विषय में असमंजस की स्थिति में किसी भी सर्च इंजन (गूगल, Youtube) की सहायता नहीं लेनी चाहिए उन प्रश्नों को अपने सामान्य कार्य बुक मैं अंकित करके किताबों में खोजा जाना चाहिए।

 

इससे कई लाभ हैं – एक तो यह कि इन्हें खोजते वक्त अनेक अन्य शब्दों एवं परिभाषाओं से भी परिचित होने का अवसर मिलता हैं,

दूसरा इन सर्च इंजनों में खोजने से केवल उस विषय से संबंधित ही जानकारी मिलती हैं और कभी-कभी सर्च इंजनों पर गलत जानकारी भी मिल जाती हैं। क्यूंकि वो है तो एक मशीन ही।

 

अब इन सभी मतों से अलग मत यह हैं कि विद्यार्थी को किसी एक परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए, जिससे ध्यान को एक दिशा में केन्द्रित किया जा सके।

 

संजय डारा बिश्नोई पता सांचौर जालोर राजस्थान

 

Conclusion

 

दोस्तों आपको समझ में आ गया होगा की पढ़ना क्या है और पढ़ने के लिए आपको कौनसी छोटी छोटी रूल को फॉलो करना चाहिए।

ज्यादातर स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे, कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चे या किसी भी कॉम्पिटिटिव एग्जाम की तैयारी करने वाले लोगों को प्रॉब्लम यही आती है की पढ़ना कैसे है और मन बार बार विचलित होती है तो ऐसे में आप ऊपर बताये गए सारे छोटी छोटी रूल को फॉलो करें, ताकि आपका मन विचलित भी ना हो और आप परीक्षा सफल भी हो सके।

आपको आज का यह रीडिंग टिप्स कैसा लगा ?

अगर आपके मन में कुछ भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

 

⇒OUR eBOOK STORE (HINDI)

 

 

सम्बंधित लेख –

  1. Topper Kaise Bane? – ये 15 टिप्स आपको क्लास या स्कूल में टॉपर बना देगी
  2. Study Kaise Kare – Powerful Study Tips in Hindi
  3. Dimag Tej Karne ka Tarika: इन 10 तरीकों से होता है दिमाग तेज
  4. सुबह जल्दी उठने के 3 बेहतरीन टिप्स – Wake Up Early Morning Daily in Hindi
  5. Jaldi Yaad Karne Ka Tarika – 1 Way to Quickly Memorize Your Topic

Leave a Comment