Success Motivation in Hindi – कमी कहाँ रह गई है

Success Motivation in Hindi – Hey दोस्तों, हर व्यक्ति जिंदगी को बेहतर बनाना चाहता है, कुछ बदलाव चाहता है, लाइफ में कुछ बड़ा करना चाहता है, मेहनत भी करता है, पर फिर भी कुछ कमी रह जाती है और हम समझ नहीं पाते की वो कमी कहाँ रह गयी है।

आज मैं आपको कुछ ऐसे पॉइंट्स साझा करूँगा, जिसे लाइफ में उतारने से, उसको फॉलो करने से या प्रैक्टिस करने से वो कमी दूर हो सकती है। तो बिना देरी के चलिए शुरू करते हैं –

Success Motivation in Hindi – कमी कहाँ रह गई है

No 1 – Be Positive

हमारा ध्यान हमेशा जो चाहिए उस पर होना चाहिए, ना कि उस पर जो हमारे जीवन में नहीं चाहिए।

हम हमेशा खुद से सिर्फ नेगेटिव बातें ही करते हैं, जो नहीं चाहिए उसकी बातें करते हैं।

मान लीजिये एक स्टूडेंट्स है, तो आप उनको हमेशा कहते सुनेंगे यार बस इस बार Match में Marks कम ना आये, यार बस मैं फ़ैल ना हो जाऊँ, यार कही हार ना जाऊँ, यार अगर जॉब नहीं मिली तो!…….

क्यूंकि हमारा ध्यान ज्यादातर समय उन चीजों पे होता है, जो हमे नहीं चाहिए या जिससे हमे डर लगता है।

तो कोशिश करिये कि जब भी बात करें, चाहे अपने आपसे हो या किसी और के साथ बात करें अपने करियर को लेके, मार्क्स को लेकर, plans को लेकर, रिजल्ट्स को लेकर, तो उस बारे में बात करें जो आपको दिल से चाहिए।

जैसे कि मेरे अच्छे मार्क्स आ जाये, मैं पास हो जाऊँ, मेरी जॉब लग जाये, मेरा plan सक्सेसफुल हो जाये।

उससे हमारा कॉन्फिडेंस कई परसेंट ज्यादा बढ़ जायेगा।

No 2 – छोटी छोटी स्टेप्स उठाये

बड़ी बड़ी चीजों की बजाय छोटी छोटी चीजों पे ध्यान दे।

भले ही आपको 10 वे मंजिल पर जाना है, पर वहां जाने के लिए भी छोटे छोटे स्टेप्स लेने पड़ते हैं। एक एक फ्लोर चलके जाना पड़ता है।

आप सीधा 10 वे फ्लोर पर नहीं कूद सकते।

तो बड़े बड़े बदलाव अचानक नहीं आते, बड़ी बदलावों के लिए छोटी छोटी हरकतों पे ध्यान देना पड़ता है।

अपनी गोल तक पहुँचने के लिए आपकी जर्नी कैसे कटती है वो मायने रखता है।

हम हमेशा सबसे कहते हैं कि Have a Happy & Safe Journey, लेकिन कभी भी ये नहीं कहते कि Have a Happy & Safe Destination. क्यूंकि मायने सिर्फ Journey रखती है।

वो जर्नी कैसी कट रही है, छोटे छोटे स्टेप्स कितने ध्यान से, मेहनत से और consistency से लिए गए हैं।

तो बड़ी बड़ी चीजों की बजाय अपनी छोटी छोटी हरकतों पे ध्यान दीजिये।

बड़े बड़े काम करने से पहले अपने छोटे छोटे काम पुरे करे।

बड़े रिश्ते बनाने से पहले छोटे छोटे रिश्तों को निभाना सीखें। क्यूंकि वही आपको बड़े बड़े Goals तक पहुंचाएंगे।

No 3 – Appreciation

अपनी जिंदगी की Blessings को Appreciate करना सीखिए।

क्यूँ हमारा ध्यान उसपे ही हमेशा जाता है जो पास नहीं हैं, क्यूँ हम उन चीजों के लिए खुश नहीं होते जो हमारे पास already है।

एक बार एक व्यक्ति बड़ी सी Car में जा रहा था, उसकी मन में आया काश मेरे पास अपना प्राइवेट Jet होता,

उसी आदमी के पास ही एक आदमी बाइक पर था, उसने सोचा काश मेरे पास ये गाड़ी होती,

उस बाइक वाले के एक आदमी साइकिल पे था उसने सोचा काश मेरे पास बाइक होती।

अब उस साइकिल वाले के सामने से एक आदमी पैदल जा रहा है, उसने सोचा काश मेरे पास भी एक साइकिल होती।

क्या आप समझे ? इसका मतलब आपके पास जो है किसी के लाइफ का सपना है, चाहे वो आपका घर हो, परिवार हो, काम हो गाड़ी हो, हेल्थ हो।

इसलिए कहा जाता है कि ज्यादा होने की इच्छा गलत नहीं है, लेकिन जो हमारे लाइफ में आलरेडी है उसे Appreciate नहीं करना जरूर गलत है।

आपके लाइफ में जो Blessings मिले है वो चाहे हेल्थ हो या पैसा या संपत्ति हो, ये बात हमेशा याद रखें और उसे Appreciate करें, धन्यवाद करें।

Conclusion

तो क्या आप ऊपर बताये गए तीनों चीजों को फॉलो करते थे पहले से ?

अगर आप पहले से इन तीनों चीजों को फॉलो नहीं करते थे तो मुझे लगता है आप अभी सक्सेसफुल नहीं है।

और अगर आपको एक सक्सेसफुल लाइफ चाहिए तो आपको ये तीनों बातों को फॉलो करना ही पड़ेगा।

तो आपको आज का यह आर्टिकल (Success Motivation in Hindi – कमी कहाँ रह गई है) कैसा लगा ?

क्या आपने आज कुछ सीखा ?

अगर आपके मन में कोई भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट में जरूर बताये।

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

सम्बंधित लेख –

  1. सफल होने का सीक्रेट
  2. हँसते रहना सीखो – मोटिवेशनल स्पीच
  3. मैं अमीर हूँ!
  4. 3 कम्फर्ट जोन की कहानी
  5. 4 Best Success Tips in Hindi
  6. 3 E’s to Change Your Life

Leave a Comment