70+ Unique Suvichar in Hindi – ये सुविचार आपके जीवन को सुन्दर बनाते हैं

Suvichar – दोस्तों जीवन में हार जीत तो चलती रहती है। आप अपनी सोच को सकारात्मक बनाये रखने का अथक प्रयास करें। जो लोग सकारात्मक सुविचारों को अपनाते हैं, वे एक सुखमय  शांतिपूर्ण जीवन व्यतीत करते हैं। सकारात्मक के समक्ष सब कुछ संभव है। दोस्तों आज इस आर्टिकल में मैंने सकारात्मकता को गले लगाने के लिए और अपने अंदर सुविचार को लाने के लिए कुछ 70+ सुविचार को एक साथ साझा किया है, आप इसे पूरा जरूर पढ़ें और अगर संभव है तो इसे हर दिन पढ़ें, आपके जिंदगी में बहुत सकारात्मकता उभर आएगा/आएगी।

 

Motivational Suvichar in Hindi

 

Suvichar 1 – परिणाम के डर से कर्म मत त्यागो।

 

Suvichar 2 – गया था उम्मीद साथ लेकर आया हूँ कर्म की पालकी में।

 

Suvichar 3 – जीत की ख़ुशी में अपने अहंकार को न ओढो।

 

Suvichar 4 – इरादा बुलंद है अगर तो रास्ता खुद ही प्रकट होगा।

 

Suvichar 5 – क्या सोचा और क्या हो गया मांगी थी जमीं और आसमां मिल गया।

 

Suvichar 6 – उत्साह से उत्सव की दुरी आपका संघर्ष नाप सकता है।

 

Suvichar 7 – हौसला बुलंद है जिसका वो पहाड़ों से भी टकराता है।

 

Suvichar 8 – समुद्र की विशालता आकर्षित करती है सबको।

 

Suvichar 9 – खुशियों के आँसूं खुशियों की हँसी से ज्यादा दिल के करीब होते है।

 

Suvichar 10 – बेवजह गलतफैमी न पालो, अगर पनप गयी है तो, बात करके उसे मिटा डालो।

 

Suvichar 11 – ज्ञान की लालसा आपको उन्नति के पथ पर ले जाती है।

 

Suvichar 12 – दीप जलाओ ज्ञान का।

 

Suvichar 13 – बार बार क्यों तू कहता है कि सफलता मेरे हाथ नहीं लगती। जो तत्पर है कुछ कर गुजरने को उसे कोई भी अड़चन बांध नहीं सकती।

 

Suvichar 14 – डीप प्रज्वलित करने वाले किया है तूने अच्छा काम भोर हुई अब सूरज निकला दीप करे विश्राम।

 

Suvichar 15 – खोई हुई बाजी को जीत में बदलना संभव है अगर आप प्रयासरत रहें।

 

Suvichar 16 – सत्ता की भूख से बचें अन्यथा यह आपको इंसान से हैवान बना सकती है। मानवता के लिए सत्ता का उपयोग करें और उसे प्रजा के शोषण का माध्यम कभी न बनायें।

 

Suvichar 17 – मुस्कुराने के लिए वजह की जरुरत नहीं, यह तो खुद ब खुद अपने चेहरे पर उमड़ आती है।

 

Suvichar 18 – प्रेरणा पाकार सूर्य से, हर कोई चमकना चाहता है कुछ ही होते हैं जो तप कर आखिर सूर्य जैसा बन पाते।

 

Suvichar 19 – विचारों का मंथन करने से सकारात्मक के सूर्य का उदय होना तो निश्चित ही है।

 

Suvichar 20 – मंजिल करीब आती है खुद ही, जब दिल में है विश्वास।

 

Suvichar 21 – दोस्तों या दुश्मनी की वजह कई बार हमारे अपने शब्द होते हैं, सही शब्दों का चुनाव करें।

 

Suvichar 22 – बूंद बूंद पड़ती बारिश महका दे मिट्टी बारिश। गर्मी की यह छुटटी कर दे, खेतों में हरयाली भर दे, प्यासे की यह प्यास मिटा दे बूंद बूंद पड़ती बारिश।

 

Suvichar  23- इच्छा ईश्वर की है सर्वोपरि।

 

Suvichar 24 – नफरत किसी से न करें और अगर हो जाए तो स्वयं मंथन करें।

 

Suvichar 25 – दर्पण झूठ कभी ना बोले।

 

Suvichar 26 – चंचल मन को बांध सके जो, कहलाता है वो योगी धन धान और खान पैन को छोड़ दिया जिसने, अब कहाँ रह गया वह भोगी।

 

Suvichar 27 – शिकायत करूं तो किस्से यहाँ तो हर शक्स खड़ा है काला बाजारी के तहखाने में। सच्चाई का हाथ थांबे फिर भी बढ़ चलो तुम और नेस्तानाबूत कर दो ध्वस्त कर दो इन बुराई की ईमारत को।

 

Suvichar 28 – शब्दों का महत्व उसके अर्थ समझने पर निर्भर करता है।

 

Suvichar 29 – संघर्ष कभी समाप्त नहीं होता, उससे दो दो हाथ हर दिन करना जरुरी है।

 

Suvichar 30 – आकाश की ऊंचाई हासिल करना है तो उड़ना सीखना होगा। सफलता हासिल करना है तो बार बार गिरकर उठना होगा।

 

Suvichar 31 – जीवन की गतिशीलता बनाये रखने के लिए प्रयत्नशील रहना अनिवार्य है।

 

Suvichar 32 – हैरान परेशान होकर कुछ भी ना होगा, कठिनाइयों से ना डरो कभी। पथ में काँटे लाख बिछे हों फिर भी तुम न रुकना कभी।

 

Suvichar 33 – धन्यवाद करो उस ईश्वर का जिसने हमें बनाया, सब कुछ दिया उसने हमें, फिर भी नहीं बतलाया।

 

Suvichar 34 – विचलित होने से क्या हासिल होगा धैर्य घरों और कोशिश करो।

 

Suvichar 35 – गलती मान लेने से सुधार का मार्ग प्रज्वलित हो जाता है।

 

Suvichar 36 – खेलों ना किसी के ज़जबात से और लड़ों ना किसी से बिन बात के।

 

Suvichar 37 – अच्छाई का अपहरण कभी होने न दें।

 

Suvichar 38 – अगर किसी का आप मान करना नहीं जानते तो कम से कम अपमान तो ना करें।

 

Suvichar 39 – फैसला ऐसा सुनाओ जिससे फासला कम हो जाये और जीवन में सौहार्द्र बढ़े।

 

Suvichar 40 – इच्छा गगन की, तुम भी करलो। बैठ पेड़ की छाओं में।

 

Suvichar 41 – सब कुछ सीखा फिर भी हारा, हार हार के बहुत कुछ सीखा अब ना हारूंगा तीबारा।

 

Suvichar 42 – सपना देखने में बुराई नहीं, बस जागने पर चलना जरुरी है।

 

Suvichar 43 – भक्ति और शक्ति में आस्था जरुरी है।

 

Suvichar 44 – रोशन किया तूने जग को जलता रहा अकेला, साँझा हुई तो तट पर आया सबके मन को तू फिर भाया, डुबकी लेकर फिर मुस्कुराया, कल आऊंगा सुबह फिर लाऊंगा चाँद से यह कह लाया।

 

Suvichar 45 – शब्दों की आजादी को न खोना कभी।

 

Suvichar 46 – जीवन के पालने में ख़ुशी और गम दोनों ही झूलने रहते हैं। आप जैसा सोचेंगे वैसा आपको नजर आएगा।

 

Suvichar 47 – कर्तव्य और कर्म जिसके साथ है, बस समझो जीत उसके पास है।

 

Suvichar 48 – नई खोज के लिए अनुसंधान जरुरी है।

 

Suvichar 49 – कीर्तन प्रभु का करो तुम हर दम जाने किस कदम प्रभु के दर्शन हो जाये।

 

Suvichar 51 – आपकी आस्था आपको ईश्वर का दर्शन बार बार उनके रूपों में करवाती हैं।

 

Suvichar 52 – मकान खरीद सकते हैं हम, पर घर नहीं। पैसे से नहीं बनता है घर बल्कि बनता प्यार और समर्पण से।

 

Suvichar 53 – शोर मचाकार जगाने वाले तेरा झूठ बार बार ना चल पायेगा। एक दिन सचमुच जब तूफान आएगा, उस दिन कौन तुझे बचा पायेगा।

 

Suvichar 54 – सच्चाई का व्रत एक दिन सफल जरूर होता है।

 

Suvichar 55 – आजादी का मोल बहुत है,  ना करो इसे बर्बाद कभी।

 

Suvichar 56 – प्यासे का कुँए से है रिश्ता पुराना। हौंसलों का फासलों से है काफी गहरा याराना। कोशिश करो अगर तो आपकी सफलता से झूम उठेगा जमाना।

 

Suvichar 57 – सही शब्दों का चयन आपको शिखर पर पहुंचा सकता है।

 

Suvichar 58 – मित्र वही जो आपको समझे।

 

Suvichar 59 – कटौती करो अपनी इच्छाओं की और बढ़ोतरी करो अपने शुभ कार्यों की।

 

Suvichar 60 – मान करो ज्ञान का, त्याग करो अभिमान का।

 

Suvichar 61 – वक़्त पर संभल जाते तो आप भी हमारी तरह मशहूर होते। दिल की क्या बात कहूं दुआओं में भी साथ होते। बेवजह गुरुर में डूबे ना रहते, तो आज आप भी बुलंद इंसान होते।

 

Suvichar 62 – जिंदगी के सफर में मिलने अंजाने। कभी वो हमे देखें और कभी हम उनको परखें। बात हुई जब दिल से, तो पता चला कि हम उनके और वो हमारे दीवाने हैं।

 

Suvichar 63 – इंतजार करने वालों सब्र को साथ ले लो विनती करो प्रभु से दर्शन हमें दे दो।

 

Suvichar 64 – दान कर बेहिचक।

 

Suvichar 65 – परिवर्तन अनिवार्य है प्रगति के लिए।

 

Suvichar 66 – जीवन में अनुसाशन जरुरी है।

 

Suvichar 67 – जीत हार के फेर में पड़कर ना खोना अपनी इंसानियत।

 

Suvichar 68 – मित्रता क्रोध से न करो कभी, ले डूबेगी आपके मान और सम्मान सभी।

 

Suvichar 69 – कहने को तो जानने वाले है कई, उनमें कुछ ही हैं जो है सही।

 

Suvichar 70 – विनम्रता से बढ़कर कोई गुण नहीं। सफल व्यक्ति वही होता है जो विनम्रता और सहनशीलता अपनाना है।

 

Suvichar 71 – मुस्कुराहट के आगे कोई सिफारिश की जरुरत ही नहीं पड़ती।

 

और पढ़ें –

  1. 21 Life Changing Motivational Thoughts in Hindi – जिंदगी बदल देने वाला सुविचार
  2. 33 Motivational Quotes in Hindi – 33 प्रेरक विचार जो आपकी जिंदगी बदल देंगे
  3. Lord Krishna Quotes On Love in Hindi – भगवान श्री कृष्ण की प्रेम के बारे में ये बातें जानिए
  4. Best Life Changing Motivational Quotes in Hindi – इन 30 कोट्स पर आपको अपनी जिंदगी मिल जाएगी
  5. कृष्ण वाणी जो परम सत्य हैं – Inspirational Thoughts in Hindi
  6. 21 Best Inspirational Quotation in Hindi – ये प्रेरक बातें आपकी जिंदगी बदल देगा
  7. Top 30 Sandeep Maheshwari Quotes in Hindi – ये कोट्स आपकी जिंदगी बदल सकता है
  8. 10+ Best Quotes In Hindi – Thought In Hindi
  9. 50+ Best Motivational Quotes in Hindi for Students
  10. 10 Best Inspirational Thoughts in Hindi
  11. Best Life Quotes in Hindi
  12. Thought In Hindi – 9 Best Unique Quotes in Hindi
  13. Best Hindi Motivational Poem
  14. Thought in Hindi – 10 Best Life-Changing Quotes In Hindi
  15. Swami Vivekananda Quotes in Hindi – 3 Powerful Positive Thoughts
  16. 10 Best Life Changing Inspirational Quotes in Hindi
  17. 50+ Life-Changing Motivational Thoughts in Hindi – ये सुविचार आपकी सोच बदल देगा

 

दोस्तों आपको आज का ये Suvichar कैसा लगा मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये। और इस Suvichar को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

 

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

Leave a Comment